Home »Bihar »Patna» Chandragupta Institute Of Management Patna Bihar

यहां कुछ ऐसा हुआ, जो पांच साल पहले किसी ने सोचा भी नहीं था!

अजय कुमार | Dec 08, 2012, 00:01 IST

  • पटना। किसी इंस्टीट्यूट के बनने और उसकी पहचान बनने में सालों लग जाते हैं। पर बिहार का चंद्रगुप्त प्रबंधन संस्थान इस लिहाज से जरा जुदा है। महज पांच साल के सफर में इसने वह मुकाम बनाया है जिसे पाने को संसाधनों से भरपूर इंस्टीट्यूट तरसते हैं। चंद्रगुप्त प्रबंधन संस्थान का अपना भवन 2014 में बनकर तैयार होगा। फिलहाल यह हिंदी भवन में चल रहा है। बेहतर शिक्षा के लिए राज्य से बाहर गये छात्र मैनेजमेंट की पढ़ाई के लिए यहां पहुंच रहे हैं।

    राज्य के इस प्रबंधन संस्थान का उद्घाटन 2008 में जब तत्कालीन उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने किया था, तो इसके भविष्य को लेकर धुंध थी। बहुत कुछ बहुत साफ नहीं था। आईआईएम, अहमदाबाद के तर्ज पर इसके अपनी यात्रा शुरू की थी। थोड़े ही दिनों में इस संस्थान ने अपनी छाप बनायी है। हाल ही में चंद्रगुप्त प्रबंधन संस्थान को डॉ जेजे ईरानी अवार्ड मिला। यह अवार्ड सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन मैनेजमेंट एजुकेशन के लिए दिया गया।

    आगे की तस्वीरों में जानिए इस संस्थान से जुड़ी बेहद दिलचस्प जानकारियां...

  • यह ऐसा प्रबंधन संस्थान है जहां पढ़ने वाले 95 फीसदी छात्र बिहार के हैं। 50 परसेंट रिजर्वेशन है। लड़कियों की तादाद भी कम नहीं है। हर साल 60 नामांकन लिये जा रहे हैं। डॉ मुकुंद दास कहते है

  • संस्थान ने राज्य के सीतामढ़ी के थुम्बा, मधुबनी के नवानी और दानापुर के एक गांव को मॉडल गांव बनाने की योजना अपने हाथ में ली है। डॉ मुकुंद दास कहते हैं: एग्रीकल्चर, एजुकेशन, इरीगेशन, रोजगार को लेकर हम अगले 20 साल की प्लानिंग कर रहे हैं। सौ फीसदी लिटरेसी और इम्प्लाएमेंट इन गांवों में होगी।
     

  • बिहार के एजुकेशन लेवल को कमतर नहीं मानने वाले डॉ दास का कहना है: यहां के बच्चों में एक ही चीज की थोड़ी कमी देखता हूं। यह कमी है अंग्रेजी की। मौजूदा ग्लोबल दुनिया में आप अंग्रेजी के बिना कैसे काम कर सकेंगे? यहां टैलेंट का तो जवाब नहीं। अगर उसे बेहतर डायरेक्शन और माहौल मिल जाये तो वह किसी से किसी मायने में कम नहीं है।
     

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Chandragupta Institute of Management patna Bihar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Patna

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top