Home »Chhatisgarh »Raigarh Zila »Jashpuranagar » ‘व्यवसायी पर गोली चली’ मामला का खुलासा नहीं हुआ, पुलिस को अब मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार

‘व्यवसायी पर गोली चली’ मामला का खुलासा नहीं हुआ, पुलिस को अब मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार

Bhaskar News Network | Oct 19, 2016, 02:25 AM IST

‘व्यवसायी पर गोली चली’ मामला का खुलासा नहीं हुआ, पुलिस को अब मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार
शहर के डौड़काचौरा में सोमवार को व्यवसायी के ऊपर चले गोली के मामले का अब तक कोई खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस भी अभी इस मामले में असमंजस में है कि व्यवसायी के ऊपर गोली चलाई गई है या फिर अन्य किसी चीज से हमला किया गया है। पुलिस मामले के खुलासा के लिए पुलिस अभी मेडिकल रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है, वहीं व्यवसायी ने जमीन विवाद को लेकर कांग्रेस नेता के ऊपर शंका जाहिर करते हुए पुलिस को शिकायत दी है। पुलिस ने व्यवसायी के शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है।

सोमवार को शहर से डेढ़ किलोमीटर दूर एनएच 43 डाैड़काचौरा स्थित साक्षी गार्मेंट्स में व्यवसायी नरेंद्र रवानी अपने कर्मचारियों के साथ में काम कर रहे थे। उसी दौरान लगभग 12 बजे दो अज्ञात युवक उसके फैक्ट्री में पहुंचे थे और उन्हें अंकल नमस्ते बोलते हुए जमीन खरीद बिक्री की बात करना शुरू कर दिए थे, जिसके बाद दोनों युवकों को लेकर बात करने के लिए बाहर निकल गए थे और दोनों को बताया कि उनकी भाभी टिकैतगंज में जो जमीन है, उसे बेचना तो चाहती है। जिस पर दोनों युवकों ने उन्हें जमीन दिखाने की बात कही। जिस पर नरेंद्र रवानी ने उन्हें बताया कि जमीन का काम उनका भतीजा देखता है, वहीं जमीन दिखाएगा और वो फोन करने के लिए जैसे पीछे मुड़े वैसे ही उन्हें तेज धमाके की अावाज सुनाई दी। धमाके की आवाज आने पर जब नरेंद्र रवानी पीछे मुड़कर देखा तो दोनों युवक फरार हो गए थे, जिसके बाद उनके पीठ में जलन होने लगी, तब उन्हें पता चला कि उनके पीठ में चोट लगी है और वे थाना पहुंच गए।

कांग्रेस नेता पर जताई आशंका

नरेंद्र रवानी ने थाने में दिए अपने लिखित शिकायत में कहा कि उनके द्वारा जमीन संबंधी भी काम किया जाता है। बघीमा में एक जमीन को लेकर कांग्रेस नेता सरहुल भगत के साथ उनका विवाद भी चल रहा है और यह मामला अभी न्यायालय में लंबित हैं। नरेंद्र रवानी का कहना है कि वह हमलावरों को पहचानता नहीं है, लेकिन उसने अपने शिकायत में यह आशंका जाहिर की है कि जमीन विवाद को लेकर कांग्रेस नेता सरहुल भगत द्वारा ही उनके ऊपर हमला करवाया गया है।

घटना स्थल का मुआयना करने पहुंचे क्राइम बांच के जवान एवं दुकान बंद होने से बाहर बैठी महिला कर्मचारी।

फंसाने की हो रही साजिश

इस पूरे मामले से अपनी अनभिज्ञता जाहिर करते हुए कांग्रेस नेता सरहुल भगत का कहना है कि उनका नरेंद्र रवानी से कोई लेना देना नहीं है। श्री भगत ने कहा कि इस मामले में जबरन उन्हें फंसाने की कोशिश की जा रही है, जो भी जमीन संबंधित विवाद है। वह अभी न्यायालय में लंबित है और न्यायालय में मामला चल रहा है। श्री भगत ने कहा कि जब-जब विधान सभा चुनाव पास आता है, तो उनके विरोधियों द्वारा उन्हें फंसाने की साजिश की जाती रही है। इसके पहले भी विधानसभा चुनाव के दौरान जब उन्हें फंसा नहीं सके तो उनके पुत्र के खिलाफ साजिश कर उसे फंसा दिया गया था। उनका कहना है यह है कि यह मामला भी बिलकुल वैसा ही प्रतीत हो रहा है और उन्हें इस मामले में झूठा फंसाए जाने की साजिश की जा रही है।

पुलिस के सामने कई अनसुलझे सवाल

घटना के बाद इस मामले में पुलिस भी असमंजस की स्थिति में आ गई है। सबसे बड़ा सवाल यह है कि यदि गोली लगता तो वह अस्पताल तक आराम से कैसे पहुंचा। घटना की सूचना मिलने पर तत्काल मौके पर पंहुची, पुलिस को घटना स्थल पर कुछ भी नहीं मिला। घटना के 4 घंटे के बाद पीड़ित के भतीजे को घटना स्थल पर ही गोली कैसे मिल गई और जिस कपड़े से उसने अपने खून को साफ किया था। उसमें कुछ कैमिकल जैसे पदार्थ आए कहां कहां से। पुलिस अभी इन गुत्थियों पर उलझी हुई है और जनता यह जानना चाहती है कि आखिर सोमवार को घटना स्थल पर हुआ क्या और ये पूरा मामला क्या है, और जब पीड़ित ने दो युवकों को देखा तो उसे पहचाना कैसे नहीं। आशंका यह भी है कि जमीन विवाद के शक में कहीं नेता को फंसाया तो नहीं जा रहा है। बहुत सारे इस मामले में पेच हैं, जिसे सुलझाने में पुलिस लगी हुई है। सवाल अब भी वही है कि आखिर वहां गोली चली या कुछ और,लेकिन गोली वहां कैसे आया जो पुलिस को नहीं दिखा और उसके भतीजे को मिल गया। बहरहाल पुलिस अभी भी डाक्टर के रिपोर्ट का इंतजार में हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: ‘व्यवसायी पर गोली चली’ मामला का खुलासा नहीं हुआ, पुलिस को अब मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

    More From Jashpuranagar

      Trending Now

      Top