Home »Chhatisgarh »Korba » इलेक्ट्रिक इंजन होने से लिंक एक्सप्रेस एक नंबर में दिनभर खड़ी रही, यात्री रहे हलाकान

इलेक्ट्रिक इंजन होने से लिंक एक्सप्रेस एक नंबर में दिनभर खड़ी रही, यात्री रहे हलाकान

Bhaskar News Network | Oct 19, 2016, 02:35 AM IST

इलेक्ट्रिक इंजन होने से लिंक एक्सप्रेस एक नंबर में दिनभर खड़ी रही, यात्री रहे हलाकान
दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के रायपुर मंडल प्रबंधन ने डीजल इंजन से चलने वाली लिंक एक्सप्रेस को मंगलवार को इलेक्ट्रिक इंजन लगाकर कोरबा रवाना किया। रेलवे ने भले ही यात्रियों को सुविधा देने के उद्देश्य से यह बदलाव किया हो लेकिन ऐसा होने से कोरबा रेलवे स्टेशन से सफर करने वाले यात्रियों की मुसीबत बढ़ गई। क्योंकि पूरे दिन लिंक एक्सप्रेस को प्लेटफार्म नंबर 1 पर ही रोके रखा गया। इस बीच बिलासपुर जाने व उधर से आने वाली ट्रेनों के यात्रियों को अकारण ही 2 नंबर प्लेटफार्म की दौड़ लगानी पड़ी। रेलवे का कहना है उनके पास डीजल इंजन नहीं है इसलिए ट्रेन को पिटलाइन नहीं भेज पाए।

विशाखापट्‌टनम से कोरबा तक लिंक एक्सप्रेस नियमित चलती है। अब तक यह ट्रेन डीजल इंजन लगाकर रेलवे चला रहा था। ऐसा इसलिए भी किया जा रहा था क्योंकि रायपुर से विशाखापट्‌टनम के बीच इलेक्ट्रिक लाइन नहीं है। इसलिए कोरबा तक यह ट्रेन डीजल इंजन से दौड़ रही थी। यहां प्लेटफार्म नंबर 1 पर पहुंचने के बाद इसे पिटलाइन में वाटरिंग के लिए भेज दिया जाता था। जिससे एक नंबर प्लेटफार्म खाली रहने से अन्य यात्री ट्रेनों को इस प्लेटफार्म से आगे के लिए रवाना किया जाता था। लेकिन मंगलवार को सुबह रायपुर रेलवे स्टेशन पहुंची लिंक एक्सप्रेस से डीजल इंजन को अलग कर मंडल प्रबंधन ने इलेक्ट्रिक इंजन लगाकर कोरबा भेज दिया। यहां पहुंची इस ट्रेन में इलेक्ट्रिक इंजन होने से रेलखंड के अफसरों ने पिटलाइन भेजने में असमर्थता जाहिर की और ट्रेन को वापसी के समय तक प्लेटफार्म नंबर 1 पर ही खड़ा रखा। जिससे गेवरारोड से बिलासपुर जाने वाली दोपहर की पैसेंजर के साथ रायपुर गेवरारोड मेमू व गेवरारोड-रायपुर मेमू को एक नंबर प्लेटफार्म से छोड़ने के बजाय 2 नंबर से रवाना करना पड़ा। इससे इन ट्रेनों में सफर करने वाले यात्री परेशान हुए खासकर बुजुर्ग यात्री।

रेलखंड में एक्सट्रा डीजल इंजन नहीं, बदलाव रायपुर से

रेलखंड कोरबा में अतिरिक्त डीजल इंजन नहीं है। जिसके कारण लिंक एक्सप्रेस को पिटलाइन नहीं भेजा गया। क्योंकि लिंक एक्सप्रेस मंगलवार को डीजल के बजाय इलेक्ट्रिक इंजन के साथ यहां पहंुची थी। इसके लिए मुख्यालय से पत्राचार कर सुझाव मांगा जाएगा। यह बदलाव रायपुर डिवीजन से हुआ है। -केके तिवारी, सीएसएम, कोरबा

रेलखंड में एक्सट्रा डीजल इंजन नहीं, बदलाव रायपुर से

रेलखंड कोरबा में अतिरिक्त डीजल इंजन नहीं है। जिसके कारण लिंक एक्सप्रेस को पिटलाइन नहीं भेजा गया। क्योंकि लिंक एक्सप्रेस मंगलवार को डीजल के बजाय इलेक्ट्रिक इंजन के साथ यहां पहंुची थी। इसके लिए मुख्यालय से पत्राचार कर सुझाव मांगा जाएगा। यह बदलाव रायपुर डिवीजन से हुआ है। -केके तिवारी, सीएसएम, कोरबा

पिटलाइन तक नहीं बिछा है इलेक्ट्रिक केबल

बोर्ड की मंजूरी के बाद वर्ष 2010 में पिटलाइन का निर्माण शुरु हुआ। दिसंबर 2012 में काम पूर्ण हो गया। जनवरी 2013 में परीक्षण के तौर पर लिंक एक्सप्रेस को पिटलाइन भेजा गया। लेकिन 10 माह के बाद टेक्निकल प्राब्लम बताकर रेलवे ने उपयोग करना बंद कर दिया। उसके बाद मई 2015 में फिर से लिंक एक्सप्रेस को पिटलाइन भेजा जाने लगा। जहां वाशिंग, वाटरिंग व क्लीनिंग किया जाता रहा। मगर अब तक स्टेशन से पिटलाइन तक बिछाई गई रेलवे लाइन को इलेक्ट्रिक सप्लाई से जोड़ने केबल नहीं बिछाया गया न ही पोल खड़ा किया जा सका है। जिसके कारण इलेक्ट्रिक इंजन के साथ पहुंची लिंक एक्सप्रेस को वहां नहीं भेजा जा सका।

5 घंटे किया प्लेटफाॅर्म का इस्तेमाल

लंबी दूरी की कोई भी ट्रेन गंतव्य तक पहुंचने के बाद मेंटेनेंस के लिए यार्ड अथवा पिटलाइन भेज दी जाती हैं। लिंक एक्सप्रेस के साथ भी ऐसा होता रहा है। लेकिन मंगलवार को इलेक्ट्रिक इंजन का हवाला देते हुए रेलवे स्टाफ पिटलाइन तो नहीं भेजा, लेकिन स्टेशन के एक नंबर प्लेटफार्म का उपयोग 5 घंटे तक ट्रेन को खड़ा कर यार्ड की तरह जरूर किया। यह ट्रेन सुबह 11 बजे पहंुंचने के बाद शाम 4 बजे विशाखापट्‌टनम के लिए रवाना हुई। तब तक प्लेटफार्म को खाली नहीं किया गया।

पिटलाइन जहां नहीं है इलेक्ट्रिक इंजन के लिए पावर सप्लाई।

अधिकारियों ने कहा- डीजल इंजन नहीं होने के कारण ट्रेन पिटलाइन नहीं भेज पाए

इन ट्रेनों के यात्री हुए परेशान

ट्रेन छूटने का समय प्लेटफार्म नंबर

गेवरारोेड-बिलासपुर 11 बजे 2

बिलासपुर-गेवरारोड 12.25 बजे 2

गेवरारोड-बिलासपुर 1.37 बजे 2

नोट: अब तक ये ट्रेनें 1 नंबर से चल रही थीं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: इलेक्ट्रिक इंजन होने से लिंक एक्सप्रेस एक नंबर में दिनभर खड़ी रही, यात्री रहे हलाकान
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Korba

      Trending Now

      Top