» 2012 Delhi Gang Rape Case

दिल्‍ली गैंगरेप : पीडि़ता के खून में संक्रमण बढ़ा, पूरा देश कर रहा है दुआ

dainikbhaskar | Dec 22, 2012, 07:53 AM IST

नई दिल्‍ली। दिल्‍ली में रविवार को चलती बस में गैंगरेप पर बवाल मचा है और पीडि़त लड़की का हाल अब भी बुरा बना हुआ है। शनिवार को सफदरजंग अस्पताल के डॉक्‍टरों ने जो मेडिकल बुलेटिन जारी किया, उसके मुताबिक लड़की होश में है और बात कर पा रही है। लड़की ने पानी और जूस भी पिया है। लेकिन प्लेटलेट काउंट में गिरावट बनी है और संक्रमण अब भी दूर नहीं हुआ है।
इस बीच, पता चला है कि रविवार को हई वारदात (पढि़ए, आज का अपडेट) के आरोपी से तिहाड़ जेल में बंद कैदी भी नफरत कर रहे हैं। यहां मुकेश की न सिर्फ पिटाई हुई बल्कि उसे मलमूत्र भी जबरन खिलाया गया। कैदियों ने जमकर उसकी पिटाई भी की। इसके बाद जेल प्रशासन ने उसे दूसरे बैरक में भेज दिया। मुकेश की की पहचान आइडेंटिफिकेशन परेड (टीआईपी) के दौरान पीडि़ता के दोस्त ने की थी। (देखें दिल्‍ली में प्रदर्शन की तस्‍वीरें)
रेप में नाकाम रहने पर लड़की को चाकू मारा, सहरसा में हंगामा
दिल्ली में गैंग रेप के खिलाफ देशव्यापी गुस्से के बीच बिहार में लड़कियों के साथ बदसलूकी की घटनाओं को बदमाश अंजाम देने से नहीं हिचक रहे हैं।
शनिवार को राज्य के सहरसा में एक लड़की के साथ रेप में नाकाम रहने पर बदमाशों ने उसे चाकू मारकर घायल कर दिया। उसे अस्पताल में दाखिल कराया गया है। एसपी अजीत कुमार सत्यार्थी ने बताया कि इस सिलसिले में छह लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दायर की गयी है।
घटना आज शाम उस वक्त की है जब लड़की जिला स्कूल से परीक्षा देकर घर जा रही थी। स्कूल के गेट के पास ही एक चार पहिया वाहन खड़ा था।
लड़की को बताया गया कि गाड़ी पर उसका भाई गोलू बैठा हुआ है। लड़की उसे देखने गयी तो उसे जबरन गाड़ी में बैठा लिया गया। विरोध करने पर बदमाशों ने उसे चाकू मारकर घायल कर दिया। लड़की किसी तरह उनके चंगुल से भागी।
शहर के भीड़भाड़ वाले पंचवटी इलाके में लड़की गाड़ी से कूदकर भागी। खून बहता देख उसे लोगों ने नर्सिग होम में दाखिल कराया।
लड़की ने पुलिस को दिये बयान में एक अनिमेष नामक लड़के का नाम बताया। उसके अनुसार गाड़ी में कुल छह लोग बैठे थे। चार के चेहरे पर नकाब था। दो यवकों को वह पहचानती है। लड़की दसवीं में पढ़ती है।
इस घटना की खबर जैसे ही लोगों को लगी, हंगामा शुरू हो गया। उग्र लोगों ने बदमाशों को पकड़ने की मांग करते हुए शहर में जुलूस निकाला। हंगामे को देख दुकानें बंद कर दी गयीं।
अनिमेष मेरे साथ था: आनंद मोहन
इस घटना में जिस अनिमेष का नाम प्राथमिकी में आया है, उसका बचाव आजीवन कारावास की सजा पाये पूर्व सांसद आनंद मोहन ने किया है। उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर कोर्ट में उनकी पेशी के दौरान अनिमेष उनके साथ था। इस घटना में उसका नाम राजनीतिक वजहों से लिया जा रहा है।
आगे पढ़ें- किस हाल में है पीडि़त लड़की
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: 2012 Delhi gang rape case
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    Trending Now

    Top