» Forcefully Sex With Wife Is Not Rape: Court

बीवी से जबरन सेक्‍स रेप नहीं: कोर्ट

Agency | Dec 04, 2012, 09:29 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
नई दिल्‍ली. सोमवार को दिल्ली की एक अदालत ने साफ कर दिया कि पत्‍नी के साथ जबरदस्‍ती सेक्‍स करना रेप नहीं माना जाएगा। कोर्ट ने कहा कि आईपीसी में वैवाहिक बलात्कार जैसा कोई मामला नहीं होता है। यदि शादी कानूनन सही है तो पत्‍नी से सेक्स (भले ही जबरन किया गया हो) रेप जैसा मामला नहीं है। पत्नी से रेप के आरोप में एक आरोपी को अदालत ने यह दलील देते हुए बरी कर दिया।
डिस्ट्रिक्ट जज जे.आर.आर्यन ने हाजी अहमद सईद के वकील की इन दलीलों से सहमति जता कर उसे आरोप मुक्त किया कि आईपीसी में 'वैवाहिक बलात्कार' जैसी कोई बात नहीं है।
अदालत ने कहा,'बचाव पक्ष के वकील ने बिल्कुल सही तर्क दिया कि आईपीसी की धारा में 'वैवाहिक बलात्कार' जैसा कोई मामला नहीं है। यदि शिकायतकर्ता कानूनी तौर पर आरोपी से ब्याही गई है तो आरोपी और उसके बीच सेक्स रेप नहीं कहलाएगा।' अदालत ने इस मामले को एक मजिस्ट्रेट अदालत के पास भेज दिया, ताकि बाकी के आरोपों की सुनवाई की जा सके।
आगे क्लिक कर पढ़ें - क्‍यों होता है बलात्‍कार
ये भी पढ़ें-

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: forcefully sex with wife is not rape: court
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top