Home »Khabre Zara Hat Ke »Weird World» Brink's-Mat Robbery Took Place In November 1983

PHOTOS:फिल्मी लूट भी फेल है इस खतरनाक डकैती के आगे

Dainikbhaskar.com | Jun 28, 2012, 07:34 IST

  • Brinks matt robberyलंदन. अलसुबह लगभग 06 :30 बजे का समय..हौले-हौले बहती ठंडी हवाओं के बीच लंदन की वो सुबह भी शांत और खामोश थी। साल था 1983 दिन 26 नवंबर। पास ही मौजूद था शहर का फेमस हीथ्रो हवाई अड्डा...जो साल भर आने-जाने वालों के शोर से सराबोर रहता है। लेकिन लंदन के इस कोने में ना जाने क्यूं किसी का दिल ज़ोरों से धड़क रहा था...'कहां मर गए थे सालों', 'फटाफट सब निपटाओ और निकलो फिर यहां से'...गार्ड सरीखी वर्दी में हथियार बंद छह लोग इतना सुनते ही एयरपोर्ट से सटे ब्रिंक्स मैट वेयरहाउस में दाखिल होते हैं...फ़िल्मी स्टाइल की इस लूट ने इंग्लैंड के दिल में सुराख कर दिया..अंदर तक.. बहुत गहरा सा.. इंग्लैंड में इतिहास की सबसे बड़ी चोरी हो चुकी थी..सुबह के इस रहे-सहे सन्नाटे को अख़बारों और टीवी चैनलों ने तोड़ दिया..'10 टन सोना?? क्या कहते हो ? 'इतनी बड़ी चोरी?', अरे तुमने कुछ सुना क्या चोरों ने शहर से इंग्लैंड का सारा सोना चुरा लिया' ..और ना जाने क्या क्या जितने मुहं उतनी बातें.. इंग्लैंड अब शांत नहीं था गुस्से मानो फूटने को था ..आखिर ये कैसे हुआ ?? इतनी बड़ी चोरी !!! दिन बीते साल निकल गए कुछ को सजा हुई लेकिन कई टन आज भी नहीं मिला ...ये थी इंग्लैंड की सबसे बड़ी डकैती..
  • ब्रिंक्स मैट वेयरहाउस अंदर की कहानी ब्रिंक्स मैट वेयरहाउस में दाखिल होते ही लुटेरे पल भर को ठिठक कर रह गए...। आए थे 3 मिलियन पाउंड कैश लूटने लेकिन मिल गया 10 टन सोना कीमत लगभग 26 मिलियन पाउंड..। फ़िल्मी अंदाज़ में गार्ड्स को बांध भी गए थे..एक का सिर भी फोड़ चुके थे।
  • कैसे ले गए इतना सोना वेयरहाउस के ही ट्रक से 76 बक्सों में भरे इस सोने को लेकर चम्पत हो गए।
  • कैसे पकड़ाये वेयरहाउस के अंदर की इतनी पुख्ता जानकारी ने पुलिस के कान खडे कर दिए थे। हुआ भी वही पुलिस पूछताछ में पता चला कि लूट में एक गार्ड का ही हाथ था..'ब्लैक'..। पूछताछ में ब्लैक ने बताया कि इस डकैती में दो और गैंग शामिल हैं मिकी मेक्वॉय (ब्लैक का साला) और टोनी रोबिन्सन जिसे गैंग के लोग कर्नल कहते हैं..। ब्लैक से भी उगलवा लिया गया कि किस तरह से उसने इस लूट में सहयोग करते हुए मुख्य दरवाजे की चाबी और सिक्योरिटी की सारी जानकारियां उपलब्ध करवाई थी। रॉबिनसन व मैकोवेय को 25-25 साल के जेल की सजा सुनाई गई।
  • क्या किया सोने का अपनी सजा से पहले लुटेरों ने अपने एक सहयोगी जॉन पेरी को सोना ठिकाने लगाने का काम सौंप दिया था। पेरी को लूटा गया सोना ठिकाने लगाने के लिए गिरोह में शामिल किया गया था। पेरी ने इस काम के लिए किनिथ नोय को चुना और उसने लूटे गए सोने को पिघलाकर बेचा। बाद में नोय भी गिरफ्तार और 14 साल की सजा हुई।
  • नहीं मिला तीन टन सोना इस पूरे लूट कांड में 3 टन सोने का आजतक पता नहीं चल पाया है। यह भी दावा किया जाता है कि 1983 के बाद यूके में जितने भी गोल्ड ज्वैलरी लोगों ने पहने, वह ब्रिंक्स मैट के ही हैं। अब इस बात में कितनी सच्चाई है, यह तो पता नहीं लेकिन ये 3 टन सोना अबतक अबूझ पहेली बना हुआ है।
  • मार्केट में अफरातफरी सोने की इस सबसे बड़ी लूट का असर मार्केट पर भी पड़ा और देखते ही देखते इंग्लैंड में सोने की कीमतें आसमान छूने लगीं। सन 1983 में इस लूटे हुए सोने की कीमत 1 ,10 ,0000 पाउंड हो चुकी थी।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Brink's-Mat robbery took place in November 1983
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Weird World

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top