Home »Khabre Zara Hat Ke »Weird World» Trivial And Disputed Issues Can Create Big Facebook Group Group

महिलाओं के कम कपड़ों से भूकंप : ऐसे अटपटे बयानों से बने फेसबुक ग्रुप

dainikbhaskar.com | Sep 15, 2013, 00:00 IST

  • सोशल मीडिया आज आम लोगों की बातें शेयर करने का बड़ा फोरम है। समाज में जब भी कुछ अटपटी और विवादास्पद बातें सामने आती हैं तो लोग फेसबुक पर तेजी से अपनी प्रतिक्रिया देते हैं। समाज के काफी बड़े तबके की सोच इसके माध्यम से सामने आ जाती है।

    कई विवाद अक्सरसामने आते रहते हैं, जिनको लेकर फेसबुक पर कई बड़े ग्रुप तैयार हो जाते हैं। कुछ ऐसे ही मामलों में से एक था ईरान के एक धार्मिक गुरु का विवादित और विचित्र बयान। उसने दावा किया था कि महिलाएं जब सेक्सी कपड़े पहनती हैं तो इससे भूकंप आता है।

    ऐसा बयान आते ही फेसबुक पर हजारों महिलाओं ने उसे गलत साबित करने के लिए कैंपेन चलाकर बड़ी बहस छेड़ दी। इस अभियान में 30,000 से अधिक महिलाओं ने यह फेसबुक ग्रुप ज्वाइन किया। इसे बूबक्वेक नाम दिया गया था।

    जेनिफर मैक्राइट ने इसकी शुरुआत शुरू की थी। इसके पीछे मौलवी के बयान की वैज्ञानिक प्रमाणिकता परखने की मंशा थी। इसे लेकर महिलाओं ने कम कपड़े पहनकर यह साबित करने का अभियान चलाया कि इससे भूकंप नहीं आता है।

    कुछ इसी तरह की विचित्र बातों के लिए कैसे बड़े-बड़े फेसबुक ग्रुप तैयार हो गए, यह जानने के लिए आगे क्लिक कीजिए...

  • - जापान में फेसबुक पर बने एक ग्रुप के सदस्य करते हैं पब्लिक टॉयलेट की सफाई : जापान में फेसबुक पर एक ऐसा ग्रुप तैयार हुआ। इसके सदस्य सार्वजनिक टॉयलेट्स की सफाई के लिए इकट्ठा होते हैं। इस ग्रुप का नाम बेंजयो सोयुजेर है। इस ग्रुप के 35 सदस्य हर रविवार को टोक्यो के सार्वजनिक टॉयलट्स की सफाई करते हैं।

  • - लव ऑफ गॉड :- पैरेंट्स इस ग्रुप को ज्वाइन नहीं करें : 2009 में फेसबुक पर हाईस्कूल और कॉलेज स्टूडेंट्स ने एक ग्रुप तैयार हुआ, जिसमें 5,819 छात्र एक-दूसरे से जुड़े थे। दरअसल इस ग्रुप के सदस्य यह चाहते थे कि उनके अभिभावक अपने बच्चों के फेसबुक से नहीं जुड़े और ना ही उनकी जासूसी करे। हालांकि कुछ समय पहले इस ग्रुप में केवल 30 सदस्य ही बचे थे, क्योंकि पैरेंट्स के नजरिए की फेसबुक वल्र्ड में जीत हुई थी।

  • - फेसबुक पर बैडली सफर्ड एनीमल्स नाम से एक ग्रुप तैयार हुआ। इसका उद्देश्य था कि जानवरों को भव्य तस्वीरों के साथ प्रस्तुत किया जाए। लगभग 11,000 यूजर्स ने इस विशेष फैन पेज को सब्सक्राइब किया। इसके कुछ तस्वीरें तो वाकई में बेहद विचित्र हैं।

  • माइक्रोवेव पर खाना पकने से पहले बटन दबाने की आदत :एक फेसबुक ग्रुप के माध्यम से यह बात भी सामने आई है कि 13 लाख लोगों को माइक्रोवेव की बीप सुनने से पहले ही स्टाप बटन दबाने की धुन सवार रहती है। ये बीप से पहले ही स्टॉप का बटन दबा देते हैं।

  • छींक को रोकते हैं अधिकतर लोग :फेसबुक पर मानव व्यहार की एक विचित्र बात शेयर हुई और इसमें लाखों लोगों का एक बड़ा ग्रुप बना गया। लगभग 19 लाख लोग अपने मित्र, दोस्तों और परिवार के सदस्यों से बात करने के दौरान स्वयं को छींकने से रोकते हैं ताकि अपनी बात पूरी कर सकें।

  • -डेट्रायट में एक रोबोकॉप स्टेच्यू के लिए बना एक फेसबुक ग्रुप: डेट्रायट में एक रोबोकॉप स्टेच्यू के लिए एक वेबसाइट लॉन्च की गई। इसके बाद एक बड़ा फेसबुक पर ग्रुप तैयार हो गया। इसमें डेट्रायट के रूजवेल्ट पार्क के परिसर में एक काल्पनिक स्टेशन ऑफर किया गया। फेसबुक की मुहिम के चलते यह प्रोजेक्ट 50,000 डॉलर का हो गया है।

  • -प्रिंगल्स फैंस ग्रुप : 2010 में फेसबुक पर एक माह से भी कम समय में 10 लाख यूजर्स का ग्रुप तैयार हो गया।

  • - ऑटोमैटिक दरवाजे राक्षस जैसे : आप यह अच्छी तरह से समझ सकते हैं कि जब ऑटोमैटिक गेट सही ढंग से नहीं खुले तो आपको यह राक्षस जैसे नजर आते हैं। यह अनुभव फेसबुक पर करीब1 लाख 50 हजार लोगों ने आपस में साझा किया।

  • - मैक्डोनाल्ड में सलाद के लिए जाना एक वेश्यालय जाकर गलबहियां करना है : फेसबुक के लोकप्रिय पेजों पर यह प्रेरणादायक कोट्स है। इस सोशल साइट्स पर 400,000 फैंन्स ने अपने फनी मेमोज में इसे पोस्ट किया है।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: trivial and disputed issues can create big facebook group group
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Weird World

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top