Home »Gujarat »Surat» 4 Girl Death By Gas Cylinder Blast Case: Father Drama For 20 Lakhs Insurance In Surat

20 लाख रुपए के लिए पिता ने रची 4 बेटियों की मौत की साजिश

dainikbhaskar.com | Mar 16, 2017, 17:47 IST

  • गैस सिलेंडर फटने से चार बेटियों की मौत के मामले में पिता ने 20 लाख रुपए के बीमे की राशि हड़पने के लिए रची साजिश।
    सूरत। महुआ तहसील के मुडत गांव के खेतराडी में टीन के शेड में गैस सिलेंडर फटने से लगी आग में 4 लड़कियों के जल जाने की घटना की जब एफआईआर दर्ज की गई, तभी पुलिस को शंका हुई। पुलिस ने शिकायत दर्ज करते हुए घटनास्थल की जांच एफएसएल के साथ की, तो कई विरोधाभास मिले। बाद में जब पिता रमेश झडकिया से सख्ती से पूछताछ की गई, तब यह सामने आया कि उसकी कोई बेटी ही नहीं थी, उसने तो बेटियों के नाम पर 20 लाख का बीमा करवाया था, जिसके कारण उसने यह साजिश रची। बेटियों के स्थान पर चार मृत पशुओं को रखकर जलाया गया…
    मूल सौराष्ट्र अमरेली जिले के लिलिया गांव का रहने वाला और 6 महीने से मुडत में रहकर सब्जी का व्यवसाय करने वाला रमेश भाई अपने साले डाह्याभाई के साथ अपने घर पर ताला लगाकर व्यापार के लिए सुबह ही सूरत चला गया था। वहां टीन के शेड पर रखे गैस सिलेंडर के फट जाने से चार बेटियों की मौत हो जाने की रिपोर्ट लिखाई गई। रिपोर्ट के अनुसार इस घटना में बेटी दर्शना(10), मानसी (9) और जुड़वा बेटी तेजस्वी और राजेश्वरी के जल गई।
    पुलिस को पहले से ही थी शंका
    इस घटना की रिपोर्ट रमेश भाई ने जब पुलिस में लिखवाई, तो पुलिस को उसी समय शंका हो गई थी। टीन का शेड 15 बाय 25 का था, उसकी ऊंचाई 12 फीट थी। टीन के आधे शेड पर 60 से 90 मन लकड़ी रखी गई थी। चार छोटी बच्चियां घर पर हों, उस स्थिति में रमेश और उसका साला एक ताला अंदर से और दूसरा बाहर से लगाकर सूरत गए थे। इस दौरान शेड में गैस सिलेंडर फटने से आग लग गई। पुलिस को यह बात गले नहीं उतरी कि फ्लेस फायर की घटना में टीन का शेड सलामत रहे, यह संभव नहीं है।
    एफएसएल की जांच में फूट गया भांडा
    जहां गैस से खाना बनता हो, तो कीचन में 50 से 90 मन जलाऊ लकड़ी का होना संदेहास्पद है। इसके अलावा अनेक शंकाएं थी, जिसकी पूछताछ के लिए रमेश को बुलाया गया, तो उसने गोलमोल जवाब दिए। जब एफएसएल की मदद से जांच की ई, तब भांडा फूट गया। पुलिस इस साजिश से चौंक उठी। एफएसएल की जांच में पलंग के साथ राख हुई चार बेटियों के अवशेष पशुओं के अवशेष होना पाया गया।
    दो बेटों के बाप ने रची 4 बेटियों के मारे जाने की साजिश
    पुलिस ने रमेश से जब सख्ती से पूछताछ की, तो यह बात सामने आई कि उसके दो बेटे हैं, पत्नी जीवित है और चार बेटियां है ही नहीं। उसके बेटियों के नाम से 20 लाख का बीमा करवाया था, इसकी 25 हजार रुपए की किस्त का भुगतान भी किया था। अब यह भी जांच के दायरे में है कि बीमा कंपनी ने किस आधार पर बीमा किया। इस साजिश में रमेश ने किससे मदद ली थी, यह भी जांच का विषय है।
    साजिश रचने वाला केवल छठी तक शिक्षित
    किसी फिल्म की स्टोरी जैसी यह साजिश रचने वाले रमेश ने केवल छठी तक ही शिक्षा प्राप्त की है। बेटियों के नाम से बीमा लेकर उसे दुर्घटना का रूप देकर वह 20 लाख रुपए लेना चाहता था। पुलिस ने बीमा से संबंधित कागजात अपने कब्जे में लिया है।
    पुलिस को इन बिंदुओं पर हुआ शक
    -फ्लेश फायर की घटना में टीन के शेड से बने घर पर किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ था।
    -50 से 90 मन जलाऊ लकड़ी का होना भी संदेह को जन्म देता है।
    -संग्रह की हुई लकड़ी का वजन शेड सहन कर सके, ऐसी स्थिति नहीं थी।
    -इन्वेटर से लाइट चलती होती है, तो फ्लेस फायर की संभावना कम हो जाती है।
    -भयानक आग लगे, तो टीन की छत झुक जाती है, पर ऐसा हुआ नहीं।
    -चार घंटे की जांच में चार लड़कियों के अवशेष नहीं मिले।
    -गांव से आधा किलोमीटर दूर बच्चों को घर पर छोड़कर जाया नहीं जा सकता। यह बात भी गले नहीं उतरी।
    -चार बच्चियों की मौत के बोद रमेश का कोई संबंधी पुलिस स्टेशन या गांव में नहीं आया, यह भी सोचने वाली बात थी।

    आगेकी स्लाइड्स में देखेंPHOTOS...

  • चार बच्चियों के स्थान पर मृत पशुओं को रखकर जला दिया गया।
  • पुलिस को रिपोर्ट लिखते समय ही हो गई थी शंका।
  • एफएसएल की जांच में हुआ खुलासा।
  • एफएसएल के परीक्षण में पलंग के साथ राख हुई बेटियों के अवशेष किसी पशुओं का होना पता चला।
  • दो बेटों के पिता ने चार बेटियों के नाम से रची साजिश।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: 4 Girl Death By Gas Cylinder Blast Case: Father Drama For 20 Lakhs Insurance In Surat
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Surat

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top