Home »Gujarat »Ahmedabad » Pamplet Of Camparsion Modi To Don

'मोदी' का काम दाउद जैसा...पत्रिका ने गुजरात में बवाल मचाया

divyabhaskar network | Dec 13, 2012, 13:00 PM IST

अहमदाबाद। नरेंद्र मोदी की कुख्यात माफिया डॉन दाउद इब्राहिम से तुलना करती हुई एक पत्रिका अहमदाबाद में चर्चा में हैं। गुरुवार को जहां पहले चरण का मतदान संपन्‍न हुआ, वहीं अहमदाबाद में घूम रही यह पत्रिका चर्चा का कारण बन गई है। इस पत्रिका में मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में काफी आपत्तिजनक बातें लिखी गई हैं।

वहीं सर क्रीक रेखा पर दिए गया नरेंद्र मोदी का बयान उनके लिए मुश्किलें पैदा कर सकता है। केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने सर क्रीक रेखा मुद्दे पर पीएम को लिखे गए नरेंद्र मोदी के पत्र के वक्त पर सवाल उठाया है। यही नहीं सलमान खुर्शीद ने मुद्दे को चुनाव आयोग के समक्ष ले जाने के भी संकेत दिए।

सलमान खुर्शीद ने कहा है कि गुजरात के मुख्यमंत्री ने इस मुद्दे को चुनावी मौसम में उठाया है। सलमान खुर्शीद ने कहा, 'जब हम कुछ अच्छे फैसले लेते हैं तो हमसे कहा जाता है कि आप ऐसा नहीं कर सकते, लेकिन अब कोई सर क्रीक रेखा जैसे अंतरराष्ट्रीय मुद्दे को चुनावी मौसम में उठा रहा है। हम इस मुद्दे को चुनाव आयोग के समक्ष उठाने पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं।'
मोदी पर निशाना साधते हुए सलमान खुर्शीद ने कहा, प्रधानमंत्री ने मोदी के पत्र का जवाब दे दिया है, मुझे उम्मीद है कि उनके पास इस जवाब को पढ़ने के वक्त होगा। वहीं प्रधानमंत्री कार्यालय ने मोदी के तमाम आरोपों को सिरे से नकार दिया है। गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्र सरकार पर सर क्रीक रेखा पर ढीला रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि भारत ने सर क्रीक क्षेत्र पाकिस्तान को सौंप दिया है। गुजरात में मौजूद जल क्षेत्र सर क्रीक भारत और पाकिस्तान के बीच विवादित मुद्दा है। मोदी चाहते हैं कि पाकिस्तान से सर क्रीक के मुद्दे पर कोई बातचीत न की जाए।
इससे पहले नरेंद्र मोदी ने ट्विटर के जरिए केंद्र सरकार पर निशाना साधा। मोदी ने ट्वीट किया, 2जी घोटाले में देश की तकनीक बेच दी, सीडब्ल्यूजी घोटाले में देश का खेल बेच दिया, कोयला घोटाले में प्राकृतिक संसाधन बेच दिए और अब सर क्रीक मुद्दे पर केंद्र सरकार देश को बेचने जा रही है।
नरेंद्र मोदी ने कहा, 'अप्रैल 2012 में पाकिस्तानी राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी की भारत यात्रा के दौरान मनमोहन सिंह ने उन्हें सर क्रीक मुद्दे पर बातचीत का भरोसा दिया था। जबकि सितंबर 2012 में तेहरान से लौटते वक्त पीएम ने कहा था कि सर क्रीक का मुद्दा सुलझाया जा सकता है। पीएम देश को धोखा देना बंद करें और बताएं कि सर क्रीक के मुद्दे पर कोई भी डील पाकिस्तान से नहीं हुई है।

आगे क्लिक करके देखिए पत्रिका में प्रकाशित मोदी की तस्वीरें और पढ़ें पत्रिका में मोदी के बारे में क्या कहा गया है

मोदी का पहला इम्तिहान, बड़ा सवाल- केशुभाई कितना करेंगे नुकसान?

पहले चरण में टूटा मतदान का रिकॉर्ड

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: pamplet of camparsion modi to don
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

    More From Ahmedabad

      Trending Now

      Top