Home »Haryana »Faridabad» Crack In The Pillar Of The Building Collapsed, Killing Two Workers And Injuring 8

पिलर में दरार पड़ने से बिल्डिंग ढही, दो मजदूरों की मौत और 8 घायल

bhaskar news | Feb 18, 2013, 01:55 IST

  • बल्लभगढ़.गांव मोहला स्थित मुर्गी फार्म हाउस के पिलर में दरार पडऩे से रविवार शाम बिल्डिंग ढह गई। इससे फार्म हाउस में काम कर रहे 12 मजदूर मलबे के नीचे दब गए। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई, जबकि 8 अन्य घायल हो गए।

    घायलों में दो की हालत नाजुक है। हादसे की सूचना पर पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे और राहत कार्य शुरू किया। किसी तरह घायलों को मलबे से बाहर निकाला गया। देर रात तक मलबे में दबे दो मजदूरों को निकालने की कोशिश जारी थी।


    रविवार शाम करीब 4 बजे गांव मोहला स्थित सूर्या मुर्गी फार्म हाउस में करीब एक दर्जन मजदूर मुर्गियों के अंडे व दाना डालने के लिए अंदर काम कर रहे थे। अचानक शैड का लेंटर व दीवार ढह गई।

    इससे मलबे में सभी मजदूर दब गए। घटना की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी रमेश चंद व दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर राहत कार्यों में जुट गई।

    आगे की तस्वीरों पर क्लिक करके देखिए कैसा था हादसे के बाद का भयानक मंजर...

  • सूचना मिलते ही डीसी बलराज सिंह, एसडीएम, एसीपी बदन सिंह राणा, स्थानीय विधायक रघुबीर सिंह तेवतिया व डॉक्टरों की टीम भी मौके पर पहुंची। मलबे के नीचे से एक बच्चा व दो महिलाओं के अलावा सात अन्य लोगों को मलबे के नीचे निकाल लिया गया था। इनमें घायल सुलेमान व दंगी नामक महिला की मौत हो गई।

  • जबकि अन्य घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें महिला मजदूर दुग्गी व पवन की हालत गंभीर है। थाना प्रभारी रमेश चंद वशिष्ठ ने बताया कि चंदरपाल व सोमनाथ नामक मजदूर के मलबे में दबे होने की सूचना है। समाचार लिखे जाने तक उनके निकालने की कोशिश जारी थी। मृतक और घायल सभी मजदूर झारखंड के रहने वाले बताए जा रहे हैं।

  • गांव मोहला में रविवार शाम ढही सूर्या मुर्गी फार्म हाउस की बिल्डिंग में दबे मजदूरों को मलबे से बाहर निकालने में बचाव दल को काफी दिक्कतें हुईं। फार्म हाउस व आसपास बिजली की व्यवस्था न होने से बचाव दल को सबसे ज्यादा परेशानी हुईं।

  • चारों ओर अंधेरा होने के कारण मलबे व प्रकाश की उचित व्यवस्था न होने से मलबे के नीचे दबे दो मजदूर चंदरपाल व सोमनाथ को देर रात तक भी मलबे के नीचे से नहीं निकाला जा सका। डीसी बलराज सिंह का कहना है कि बिल्डिंग ढहने की जांच की जाएगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

  • मलबे के नीचे दबने से घायल हुए मूल रूप से झारखंड निवासी पवन ने बताया कि मुर्गी फार्म हाउस में मजदूरों की सुरक्षा की कोई व्यवस्था नहीं है। पवन ने बताया कि वह और करीब 11 अन्य मजदूर शाम करीब चार बजे मुर्गियों को दाना आदि डाल रहे थे कि इसी दौरान अचानक बिल्डिंग का लेंटर भरभरा कर गिर पड़ा। सभी उसमें दब गए।

  • फार्म हाउस में चीख पुकार मच गई। बिल्डिंग गिरने की आवाज सुनकर आसपास के ग्रामीण बचाव के लिए वहां पहुंचे।किनारे होने के कारण सबसे पहले पवन व दुग्गी को निकाला गया।दोनों के पैरों व पेट में गंभीर चोटें आईं। उन्होंने बताया कि यदि समय रहते मजदूरों को मलबे से निकाल लिया जाता तो शायद सुलेमान व दंगी की मौत न होती।

  • हर ओर गूंजतीं रहीं चीखें
    बिल्डिंग गिरने से उसके नीचे दबे मजदूरों में चीख पुकार मच गई। हर ओर बस चीखें ही गूंजती रहीं। आनन-फानन में आसपास के ग्रामीण पहुंचे उन्होंने ही प्रशासन और पुलिस अधिकारियों को हादसे की जानकारी दी। घायलों को मलबे से निकालकर अस्पताल भेजा गया।

    एक साथ इतने मरीज पहुंचने से बल्लभगढ़ के सिविल अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई। यहां से मरीजों को बीके अस्पताल रेफर किया गया। प्रशासन ने आनन-फानन में जेसीबी मंगाई। जेसीबी के जरिए घटनास्थल से मलबा हटाया गया।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Crack in the pillar of the building collapsed, killing two workers and injuring 8
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Faridabad

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top