Home »Haryana »Gurgaon » कैश नहीं मिलने पर टूटा लोगों के सब्र का बांध, जमकर किया हंगामा

कैश नहीं मिलने पर टूटा लोगों के सब्र का बांध, जमकर किया हंगामा

Bhaskar News | Dec 02, 2016, 06:55 AM IST

गुड़गांव.गुरुवार को सेक्टर-14 स्थित एचडीएफसी बैंक के बाहर खड़े लोगों ने उस वक्त हंगामा कर दिया जब बैंक एम्पलाई ने कुछ लोगों को कैश देने के बाद बाहर नंबर का इंतजार कर रहे लोगों को यह कह दिया कि बैंक में कैश खत्म हो गया है। आरोप है कि लोगों को यह कहा जा रहा है कि बैंक में कैश खत्म है।

उधर अपने चहेतों को फोन कर बुलाया जा रहा है, जिन्हें कैबिन में बैठकर कैश दिया जा रहा है। ऐसे में जब लोगों ने हंगामा करना शुरू किया तो बैंक एम्पलाई ने पुलिस बुलवाकर बैंक को बंद कर दिया। गुरुवार को पहली तारीख होने के चलते बैंकों के बाहर ज्यादातर लोग अपनी सैलरी निकलवाने के लिए पहुंचे थे। ऐसे में उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ा।

लोगोें नहीं जाने दिया बैंक के अंदर
गुरुवार को सेलरी डे था। ऐसे में बैंक से कैश लेने के लिए लोग सुबह से ही लाइन में लगे हुए थे। सुबह साढ़े 9 बजे बैंक खुलने के साथ ही लोगों ने बैंक में प्रवेश करना चाहा लेकिन बैंक अधिकारियों ने लोगों को प्रवेश नहीं करने दिया। करीब दस बजे से बैंक में प्रवेश शुरू हुआ। सेक्टर-14 स्थित एचडीएफसी बैंक के बाहर चैक कैश करवाने के लिए लोगों की लंबी लाइन थी। ऐसे में करीब साढ़े 11 बजे तक करीब 50 लोगों के चैक क्लियर कर उन्हें कैश दिया गया, इसके बाद से यहां कैश देना बंद कर दिया गया। यहां लोगों को कह दिया गया कि बैंक के पास कैश खत्म हो गया है। ऐसे में उन्हें कैश आने का इंतजार करना होगा। इस पर लोगों का गुस्सा उफान पर आने लगा।

नो कैश का बोर्ड लगाने पर भड़का गुस्सा
यहां बैंक के नो कैश का बोर्ड लगाने व बैंक को बंद किए जाने का बोर्ड लटका दिया गया, जिसके बाद लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया गया। लोगों का आरोप है कि यहां केवल उन्हीं लोगों के चैक कैश किए जा रहे थे जिनकी कोई ऊंची सिफारिश थी।

उन्हें बैंक में बुलाकर देर शाम तक उनके चैक को क्लियर किया गया। यहां मौजूद राजेश, नीरज ने बताया कि बैंक एम्पलाई ने करीब 50 लोगों के चैक क्लियर किए, उसके बाद बंद कर दिया। जो व्यक्ति बैंक एम्पलाई के परिचित हैं केवल उन्हें ही बैंक में प्रवेश दिया जा रहा था और उन्हें अंदर रूम में बैठाकर उनके चैक कैश किए जा रहे थे। उन्होंने बताया कि वे तीन दिन से बैंक की लाइन में लग रहे हैं। उनकी कोई सिफारिश नहीं है। ऐसे में घंटों इंतजार के बाद जब भी उनका नंबर आता है तो बैंक एम्पलाई यह कहकर वापिस भेज देते हैं कि कैश खत्म हो गया। घर पर कैश पूरी तरह से खत्म हो गया है। सेलरी भी एकाउंट से नहीं निकल पा रही है।
डिजिटलाइजेशन वर्क में जुटे रहे अधिकारी
शहर में कैश को लेकर मारामारी चल रही है। बैंकर्स पर लोगों को परेशान किए जाने के लगातार आरोप लग रहे हैं, बावजूद इसके भी अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। आरोप है कि बैंक में आने वाले कुल कैश का एक चौथाई कैश ही लोगों के पास तक पहुंच रहा है। शेष कैश को अपने चहेतों के चैक कैश करने में बैंक एम्पलाई यूज कर रहे हैं। उधर, अधिकारी इस समस्या का समाधान ढूंढने की बजाय डिजिटलाइजेशन कैंप को ऑर्गेनाइज करने में जुटे हुए हैं। अधिकारियों को बैंकों में कितना कैश आया और कितना लोगों को दिया गया इसकी ही जानकारी नहीं है।
आगे की स्लाइड्स में देखे मामले से जुड़ी और फोटोज
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: कैश नहीं मिलने पर टूटा लोगों के सब्र का बांध, जमकर किया हंगामा
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Gurgaon

      Trending Now

      Top