Home »Haryana »Gurgaon » 3 डिग्री गिरा तापमान, दोपहर तक रेंगती रही एक्सप्रेस-वे पर गाड़ियां

3 डिग्री गिरा तापमान, दोपहर तक रेंगती रही एक्सप्रेस-वे पर गाड़ियां

Bhaskar News | Dec 02, 2016, 07:01 AM IST

गुड़गांव.गुरुवार को मौसम का सबसे अधिक कोहरा होने के साथ-साथ अधिकतम तापमान में भी तीन डिग्री सेल्सियस तक गिरावट दर्ज की गई। वहीं घना कोहरा होने से एक्सप्रेस-वे पर गाड़ियां दोपहर तक रेंगती रही। सोहना रोड पर भी साउथ सिटी के नजदीक घना कोहरा होने के कारण कई गाड़ियां भिड़ गई। हालांकि इस दुर्घटना में किसी को चोटें नहीं आई।

बुधवार के बाद गुरुवार सुबह कोहरा अधिक होने के कारण जहां ट्रैफिक काफी स्लो रहा, वहीं अधिकतम तापमान 28.6 डिग्री सेल्सियस से घटकर गुरुवार को 25.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कोहरे के कारण बुधवार के मुकाबले गुरुवार को 50 मीटर तक विजिबिलिटी रही। ऐसे में वाहन चालकों को काफी दिक्कतें हुई। एक्सप्रेस-वे पर सुबह 4 बजे से ही ट्रैफिक काफी स्लो रहा। मानेसर से धौला कुआं पहुंचने में गाड़ियों को दो घंटे तक का समय लगा। जबकि यह मात्र 25 मिनट का सफर है। वहीं एक्सप्रेस-वे पर चलने वाले बड़े ट्रक आदि होटलों व ढाबों पर ही खड़े देखे गए। ट्रक ड्राइवरों के अनुसार कोहरे के कारण काफी दुर्घटनाएं हो जाती हैं।
ठंड के साथ शहर में चार गुना तक बढ़ा पॉल्यूशन का लेवल
गुड़गांव | शहर में गुरुवार को सुबह ठंड बढ़ गई है। ऐसे में पॉल्यूशन का स्तर भी बढ़ने लगा है। पॉल्यूशन का स्तर बुधवार रात से ही बढ़ने लगा था जो गुरुवार शाम तक करीब चार गुना तक बढ़ गया। ऐसे में लोगों को सांस लेने में दिक्कत होने लगी है। गुरुवार को अलसुबह से ही शहर में कोहरा था। इस कोहरे ने जहां शहर में वाहनों की रफ्तार थाम दी थी वहीं इसका असर शहरवासियों की सेहत पर भी पड़ा। ठंड की शुरूआत होते ही पॉल्यूशन का लेवल बढ़ गया। गुरुवार को पीएम 2.5 का लेवल बढ़कर 200 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से पार हो गया, जिससे लोगों को सांस लेने में दिक्कत होने लगी। पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के अधिकारियों की मानें तो शहर में पीएम 2.5 का सामान्य लेवल 60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर है। ऐसे में करीब चार गुना तक लेवल बढ़ने से सबसे अधिक परेशानी बुजुर्गों व दमा के रोगियों को हुई। अचानक अस्पताल में ऐसे मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है।
पिछले दिनों दिवाली पर शहर में पॉल्यूशन का लेवल 999 माइक्रोग्राम से अधिक पहुंच गया था। जिसके बाद इसे कंट्रोल करने के लिए कंस्ट्रक्शन कंपनियों, ईंट भट्टों के कार्य पर रोक लगा दी गई थी। इसके साथ ही जिले में धारा 144 लगाकर कूड़ा जलाने पर भी पाबंदी लगा दी गई थी। 15 नवंबर को जब कंस्ट्रक्शन कंपनी व ईंट भट्टों के कार्य पर लगाई गई रोक हट गई तो एक बार फिर शहर का पॉल्यूशन लेवल चढ़ने लगा है।
आगे की स्लाइड्स में देखें और फोटोज
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: 3 डिग्री गिरा तापमान, दोपहर तक रेंगती रही एक्सप्रेस-वे पर गाड़ियां
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Gurgaon

      Trending Now

      Top