Home »Haryana »Kurukshetra » कुंटिया चुनावों की वजह से गरमाया केयू कैंपस का माहौल, 21 को चुनाव

कुंटिया चुनावों की वजह से गरमाया केयू कैंपस का माहौल, 21 को चुनाव

Bhaskar News Network | Oct 19, 2016, 02:25 AM IST

21अक्टूबरको होने वाले कुंटिया चुनावों को लेकर केयू कैंपस में माहौल पूरी तरह गरमा गया है। इस बार भी पिछले साल की तरह मुकाबला त्रिकोणीय है। कर्ण सिंह ग्रुप के रामकुमार गुज्जर ने महासचिव प्रत्याशी डॉ. दीपक शर्मा समर्थकों के साथ मंगलवार को साइंस फैकल्टी, आर्ट्स फैकल्टी, पुस्तकालय, लॉ संस्थान, यूनिवर्सिटी कॉलेज, बीएड कॉलेज, यूआईईटी, लॉ विभाग, कला विभाग, डीन बिल्डिंग, कंप्यूटर सेंटर, कल्याण नगर और शांति नगर का दौरा किया।

रामकुमार गुज्जर डॉ. दीपक शर्मा ने कहा कि कर्ण सिंह ग्रुप ने पिछले साल चुनाव जीतकर कर्मचारियों की मांगों को पूरा करवाया। उन्होंने कहा कि दो फाड़ हुए केयू कर्मचारियों को भी पिछले साल कुंटिया में शामिल किया गया। इससे कुंटिया को मजबूती मिली है। गुज्जर ने कहा कि टेक्निकल स्टाफ की सभी समस्याओं का सुलझाना साइंस फैकल्टी में क्लर्क कैडर की तर्ज पर प्रमोशन करवाना, लाइब्रेरी में वरिष्ठता के हिसाब से प्रमोशन करवाना, सभी प्रकार के रिक्त पदों को भरवाना और कर्मचारियों के मान-सम्मान को बढ़ाना उनकी प्राथमिकता में शामिल है। गुज्जर ने कहा कि स्टाफ रेशो के संदर्भ में सरकार ने स्वीकृति दे दी है और जल्द ही इसकी अधिसूचना भी जारी हो जाएगी। इस अवसर पर ग्रुप चेयरमैन भारत भूषण, कृष्ण पांडे, राजकुमार ढींगड़ा, सतीश शर्मा, हरि सिंह, प्रवेश मथाना, रूपेश खन्ना, चंद्रपाल, विष्णु नाथ, हरि केश पपोसा, दीनानाथ, अनूप सिंह, विक्रम, बृज भूषण, ऋषिपाल, सतबीर, कर्मबीर शर्मा, रोहताश शर्मा, रमेश बाल्यान, राजकुमार गोसाई, नरेश कुमार, सुरेंद्र मलिक, पवन कुमार, राजन शर्मा, सुखबीर दहिया, अजय शर्मा, राजीव शर्मा, अरविंद शर्मा, भगवान, सोमनाथ राणा और केवल कृष्ण मौजूद थे।

कर्मचारियोंके बच्चों को दिलवाएंगे रोजगार: डॉ.बाबूराम गुप्ता ग्रुप के प्रधान रामशरण सैनी चेयरमैन नरेंद्र वर्मा की अध्यक्षता में प्रधान पद प्रत्याशी कैलाश शर्मा, महासचिव प्रत्याशी रविंद्र तोमर समर्थकों ने मंगलवार को परीक्षा शाखा, पंजीकरण शाखा, रिवेल्युएशन शाखा, सर्टिफिकेट शाखा, गोपनीय शाखा, पेंशन सैल, योजना शाखा, चैक शाखा और सिलेबस शाखा में प्रचार किया। कैलाश शर्मा रविंद्र तोमर ने कहा कि दूसरे ग्रुप के नेता कुंटिया संस्थापक डॉ. बाबूराम गुप्ता के ग्रुप को शिक्षक का ग्रुप बता रहे हैं। इससे साफ है कि कर्मचारियों को भ्रमित करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ग्रुप का प्रयास कर्मचारियों के बच्चों को ठेके प्रथा के तहत लगाने की बजाय उन्हें अनुबंध या एडहॉक पर लगाने का काम किया जाएगा। इसके अलावा छठे वेतन आयोग की वेतन विसंगतियां दूर करवाकर सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करवाना, स्टेनो की प्रमोशन चैनल की प्रक्रिया को पूरा करवाना, और बजटिड के खाली पदों पर एसएफएस कर्मचारियों को समायोजित करवाने का काम किया जाएगा। उनके साथ नरेश मग्गू, सोहन लाल, रामशरण सैनी, रामेश्वर गहलावत, पुष्पेंद्र तोमर, नरेश चौधरी, संत कुमार, कुलदीप, मेहर चंद, रामकुमार, सुरेंद्र शर्मा, जेपी, पवन, सतीश, रामपाल सिंह, कश्मीरी लाल, शक्ति शर्मा, रामनिवास, कपिल देव, मोहित, रामपाल, रतन कश्यप, इकबाल, जसबीर, राजबीर, जयप्रकाश शर्मा, प्रिंस, सुरेश नैन, जसबीर, जयप्रकाश, रामस्वरूप, कश्मीर सिंह और शमशेर मौजूद थे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: कुंटिया चुनावों की वजह से गरमाया केयू कैंपस का माहौल, 21 को चुनाव
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Kurukshetra

      Trending Now

      Top