Home »Haryana »Rohtak Zila »Sampla» रात 8 बजे आई इंटरनेट चालू करने की सूचना, 2 बजे तक नहीं हुआ शुरू, 55 बसें अभी सुरक्षाबलों के लिए रहेंगी,

रात 8 बजे आई इंटरनेट चालू करने की सूचना, 2 बजे तक नहीं हुआ शुरू, 55 बसें अभी सुरक्षाबलों के लिए रहेंगी, लोग परेशान

Bhaskar News Network | Mar 20, 2017, 04:20 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
रात 8 बजे आई इंटरनेट चालू करने की सूचना, 2 बजे तक नहीं हुआ शुरू, 55 बसें अभी सुरक्षाबलों के लिए रहेंगी, लोग परेशान
सड़क पर था जाम का डर, रात 2बजेदुल्हनिया लेने ट्रेन से निकली जानू की बारात

आरक्षणआंदोलन के तहत जाटों का 20 मार्च का प्रस्तावित दिल्ली कूच सरकार से समझौते के बाद रद्द हो गया। अब सोमवार को जाटों की ट्रैक्टर-ट्रालियां दिल्ली की ओर नहीं जाएंगी। इससे प्रशासन के साथ-साथ आम जनता ने भी राहत की सांस ली। प्रशासन ने 17 मार्च से बंद पड़े मोबाइल इंटरनेट ब्लक एसएमएस सेवा को रविवार शाम लगभग 8 बजे खोलने के आदेश दे दिए, लेकिन रात दो बजे तक चालू नहीं हुआ। सोमवार सुबह तक चालू हो सकता है।

वहीं, 18 मार्च से बंद शराब ठेकों को खोलने के आदेश जारी हो गए। रेलवे ने भी एहतियात के तहत जींद, रोहतक से दिल्ली जाने वाली 27 ट्रेनों को तीन दिन के लिए रद्द करने का आदेश चस्पा कर दिया था। इसे भी देरशाम वापस ले लिया गया। अब ट्रेनें पहले की ही तरह चलेंगी। अभी रोडवेज की 55 बसें प्रशासन को सुरक्षाबलों को लाने-ले जाने के लिए दी हुई हैं। सुरक्षाबलों के वापस जाने तक ये बसें अपने रूट पर वापस नहीं लौट सकेंगी। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जसिया का मुख्य धरना बुधवार से सांकेतिक में बदल सकता है। इसके बाद ही शहर से सुरक्षाबल कम होंगे। समझौते के चलते जिले में आर्मी को भी नहीं बुलाया गया है। वहीं, ट्रैक्टरों में 10 लीटर ही तेल डालने धारा 144 जैसी पाबंदियां अभी जारी हैं।

अब मंगलवार पर रहेगी

प्रशासन की नजरें

समझौतेके तहत अब मंगलवार को अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक जसिया आएंगे। समिति के प्रदेश प्रभारी अशोक बल्हारा ने बताया कि मलिक के आने के बाद धरना सांकेतिक हो जाएगा। इसके बाद केवल कमेटी सदस्य ही जसिया में बैठेंगे।

ट्रेनोंका संचालन पूर्व की तरह ही रहेगा

^ट्रेनके जरिये आंदोलनकारियों के दिल्ली आने की जानकारी मिल रही थी, जिसके बाद 27 ट्रेनों को रद्द करने का फैसला लिया गया था। शाम तक आंदोलनकारियों का दिल्ली कूच स्थगित होने के बाद ट्रेनों के रद्द करने का फैसला वापस ले लिया गया है। ट्रेनों का संचालन पूर्व की तरह यथावत रहेगा। -नीरजशर्मा, दिल्ली मंडल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी।

दिनभर सुरक्षा इंतजामों की होती रही समीक्षा, शाम को ली राहत की सांस

दिल्लीकूच के मद्देनजर रोहतक में अर्धसैनिक बलों की 22 कंपनियां शनिवार तक डेरा डाल चुकी थीं, जबकि करीब 20 कॉलम आर्मी रविवार को आनी थी। सांपला में 7 कंपनियां तैनात कर जाटों को राेकने की तैयारी थी। इस वजह से यहां पर जाम और टकराव जैसे हालात बन सकते थे। पुलिस अधिकारी दिनभर सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा करते रहे तो आम लोगों में भी ऊहापोह की स्थिति बनी रही। अधिकतर लोगों ने अपने दिल्ली के कार्यक्रम टाल दिए थे। लेकिन, देर शाम दिल्ली कूच रद्द होने के बाद सभी ने राहत की सांस ली।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: रात 8 बजे आई इंटरनेट चालू करने की सूचना, 2 बजे तक नहीं हुआ शुरू, 55 बसें अभी सुरक्षाबलों के लिए रहेंगी,
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Sampla

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top