Home »Haryana »Bhiwani Zila »Tosham » बीमार गायों के लिए संजीवनी बनी बाबा मुंगीपा गोशाला

बीमार गायों के लिए संजीवनी बनी बाबा मुंगीपा गोशाला

Bhaskar News Network | Oct 19, 2016, 02:30 AM IST

सागवनरोड स्थित बाबा मुंगीपा गोशाला एवं गो अस्पताल गोशाला बीमार और जख्मी गायों के लिए संजीवनी बनी है। यहां बीमार गायों का उपचार ही नहीं बल्कि गायों सांडों के कैंसर तक के आपरेशन किए जाते हैं। यहां बीमार गायों के आश्रय के लिए सामान्य, आईसीयू और गंभीर रूप से बीमार गायों के लिए एसी वार्ड स्थापित किए हैं। उपचार के रूप में प्रदेशभर के उत्तम गो अस्पतालों में शुमार यह गोशाला प्रदेश सरकार की गोसेवा एवं गो संरक्षण योजना को मूर्तरूप दे रही है। इस गोशाला में केवल बीमार गाय ही रखी जाती हैं।

करीब चार एकड़ में स्थापित गोशाला के गांव सागवन रोड पर दो मुख्य द्वार हैं। इलाके में गो सेवा उनके संरक्षण के लिए चार फरवरी 2014 को कस्बे में गो भक्तों ने यहां गोशाला गो अस्पताल की नींव रखी थी। अब यहां करीब 40 से 50 किलोमीटर दूर तक से बीमार गायों को उपचार के लिए लाया जाता है। फिलहाल यहां करीब 450 गाय हैं, जिनमें से 75 का उपचार चल रहा है। इन गायों को सरकार के आदेशानुसार टैग लगाए गए हैं। गायों के उपचार लिए यहां पर एक पशु चिकित्सक राजेश कुमार कार्यरत है। हाल ही में यहां कैंसर से पीडि़त एक सांड का सफल आपरेशन किया है। गायों के पेयजल के लिए यहां पर दो सबमर्सिबल लगाए हैं तथा 50 हजार लीटर पानी का स्टोरेज टैंक है।

उपचार के लिए हैं समुचित सुविधाएं

बीमारगायों के आश्रय के लिए 150 फुट लंबा और 60 फुट चौड़ा जनरल वार्ड है। इसी प्रकार आईसीयू वार्ड है, जिसमें 60 से 70 गाय रह सकती हैं। गंभीर रूप से बीमार गायों के लिए समाजसेवी विकास जैन एवं गोशाला समिति प्रधान सतपाल दूहन द्वारा एसी वार्ड भी स्थापित किया है। इसी प्रकार यहां बीमार जख्मी गायों को लाने के लिए एंबुलेंस सेवा है, जो 40 किमी. का एरिया कवर करती है।

हर रोज बन रही सवामणी

गोशालामें सवामणी कक्ष बनाया गया है। इसमें गायों के लिए रोजाना दलिया बनता है। गोशाला गो अस्पताल के संचालन में प्रधान के अलावा उप प्रधान जगदीश बरवालिया, महासचिव र| लाल ईशरवालिया, सह सचिव दीपचंद भारद्वाज, खजांची चरण देव महता दो दर्जन अन्य सदस्य हैं, हमेशा गायों की सेवा के लिए तैयार रहते हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: बीमार गायों के लिए संजीवनी बनी बाबा मुंगीपा गोशाला
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Tosham

      Trending Now

      Top