Home »Himachal »Shimla » Government Took Possession Of The Yogpeeth Land, Ramdev & Company Will Go To The Court Now

सरकार ने कब्जे में ली योगपीठ की जमीन, अब कोर्ट जाएगी रामदेव एंड कंपनी

भास्कर न्यूज | Feb 23, 2013, 02:56 AM IST

सोलना/ चायल।पतंजलि योगपीठ के आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि हमारी जमीन पर सरकार का कब्जा करना दुर्भाग्यपूर्ण है। हम इसके खिलाफ कोई विरोध प्रदर्शन नहीं करेंगे। हमें कानून पर भरोसा है और हम अदालत में जाएंगे। उन्होंने कहा कि हमें पूरा भरोसा है कि न्यायालय में उन्हें न्याय मिलेगा।
आचार्य ने कहा कि 27 फरवरी को प्रस्तावित उद्घाटन के कार्यक्रम में कोई परिवर्तन नहीं हुआ है। हम साधुपुल में उद्घाटन करने पहुंचेंगे। हमें नियमों के तहत जमीन मिली थी, सरकार इस तरह की कार्रवाई कर रही है तो वह दुर्भाग्यपूर्ण है।
आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि निर्माण पर लगभग 11 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। सरकार यदि इस जमीन को अपने कब्जे में ले रही है तो जितना खर्च पतंजलि योगपीठ का हुआ है उतना पैसा हमें दे दे।
पतंजलि योगपीठ की हिमाचल इकाई के प्रभारी लक्ष्मी शर्मा ने भी कहा कि पतंजलि योगपीठ पर सरकार के कब्जे के खिलाफ अदालत की शरण में जाएंगे। उन्होंने यह भी साफ किया कि प्रदेश में पतंजलि योग समिति का कोई भी सदस्य विरोध प्रदर्शन नहीं करेगा।
विकास पर फिरा पानी
प्रदेश सरकार द्वारा पतंजलि पर कब्जा किए जाने के बाद यहां के स्थानीय लोग मायूस दिखे। उन्होंने कहा कि शिमला व सोलन की सीमा पर स्थित इस क्षेत्र में योगपीठ के माध्यम से जो विकास होना था अब उस पर पानी फिर गया।
200 मीटर दूर रहे कामगार
लोगों ने यहां तैनात करीब 200 कामगारों के रहने की व्यवस्था और ठेकेदारों के सामान के रखरखाव की मांग प्रशासन के समक्ष रखी।
एसडीएम कंडाघाट और एसपी सोलन ने आश्वासन दिया कि स्थिति सामान्य होने पर ठेकेदारों को सामान उठाने दिया जाएगा। जो मजदूर है, उनके ठहरने की व्यवस्था कर दी जाएगी, लेकिन मजदूरों को 200 मीटर बाहर रहना पड़ेगा।
‘पीठ’ का सफर
2010
भाजपा सरकार ने जनवरी में 96 बीघा जमीन योगपीठ को लीज पर दी थी।
19
जून 2010 को तत्कालीन मुख्यमंत्री धूमल ने किया था शिलान्यास।
19
कांग्रेस सरकार ने 19 फरवरी 2013 को लीज रद्द करने का फैसला किया।
2013
एसपी सोलन रमेश छाजटा और एसडीएम कंडाघाट एलआर वर्मा ने 22 फरवरी को साधुपुल जाकर योगपीठ को कब्जे में ले लिया।
सभी फोटो: आर एस ठाकुर
आगे की तस्वीरों में जानिए कैसे हुआ कब्जा और क्या कहते हैं लोग...

शाहरुख की नजर में भ्रष्‍ट होते हैं भारतीय

मैदान में ही बल्‍लेबाज को मारने पर उतारू हो गए प्रवीण कुमार, अंपायर से भी उलझे

जद(यू) के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता ने कहा- आइटम गर्ल देख कर डोलता है मन, किसी का भी तप हो जाएगा भंग

11 नेता और धर्मगुरु: जिनके बयान करते हैं बवाल!

दिल्‍ली गैंगरेप पीडि़ता पर बयान को गलत साबित करने वाले को 50 लाख इनाम देंगे आसाराम बापू

मुश्किल में रामदेव? सीबीआई करेगी गुरु के गुम होने की जांच

विवादों के संत: आसाराम हरपालानी कैसे बन गए आसाराम बापू, जानिए पूरी कहानी

'जिस्मानी भी था नेहरू और एडविना का रिश्ता'

भारतीय पुरुषों का 'साइज' सबसे छोटा?

23 फरवरी की खास खबरें
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: government took possession of the Yogpeeth land, Ramdev & Company will go to the Court now
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    Comment Now

    Most Commented

        More From Shimla

          Trending Now

          Top