Home »International News »International» Arrest Warrents Issued Against Maulana Tahir Ul Qadri

कादरी पर कड़ी हुई पाक सरकार, अशरफ की गिरफ्तारी में अड़चनें

dainikbhaskar.com | Jan 17, 2013, 09:41 IST

  • इस्लामाबाद/लाहौर. सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अमल कर पीएम की गिरफ्तारी के बजाए अब एनएबी ने अपनी पुरानी रिपोर्ट को ही गलत बताया है। पाक सुप्रीम कोर्ट ने रेंटल पावर केस में मंगलवार को पीएम राजा परवेज अशरफ की गिरफ्तारी के आदेश दिए थे। एक्सप्रेस न्यूज के मुताबिक एनएबी ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई पुरानी जांच रिपोर्ट जल्दबाजी में तैयार की गई थी। एनएबी के चेयरमैन फसीह बुखारी ने बृहस्पतिवार की सुनवाई के दौरान अदालत में कहा कि पूर्व में पेश की गई रिपोर्ट में तथ्यों की कमी है। जांच अधिकारियों ने इसे जल्दबाजी में तैयार किया था।
    अनिश्चितता के भंवर में फंसे पाकिस्तान में हुकूमत को हजारों समर्थकों के साथ चुनौती देने वाले मौलवी ताहिर-उल कादरी की गिरफ्तारी के आदेश जारी कर दिए गए हैं। हालांकि पुलिस को गृह मंत्रालय की अनुमति का इंतजार है। इससे पहले कादरी ने सरकार को अल्टीमेटम दिया कि वह बुधवार रात तक सत्ता से हट जाए। कादरी और 70 अन्य के खिलाफ इस्लामाबाद के कोहसर थाने में मामला दर्ज किया गया है। इस सिलसिले में स्थानीय मजिस्ट्रेट ने कादरी की गिरफ्तारी के लिए वारंट जारी किया है। (पाकिस्‍तान की सरकार के लिए 'संकट' कादरी का लखनऊ कनेक्‍शन)
    वहीं पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने स्पष्ट किया है कि ताहिर उल कादरी और उनके साथ मार्च कर रहे लोगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। राष्ट्रपति जरदारी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि जब तक विरोध प्रदर्शन शांतिपूर्वक रहेगा तब तक सरकार कोई भी कार्रवाई नहीं करेगी।
    इससे पहले पाकिस्तान के गृहमंत्री रहमान मलिक ने प्रदर्शनकारियों और मौलाना कादरी को इस्लामाबाद छोड़ने का अल्टीमेटम दिया था। रहमान मलिक ने कहा था कि भीड़ को तितर-बितर करने के लिए सरकार कार्रवाई करेगी। हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया था कि भीड़ को हटाने के लिए सरकार का ऑपरेशन कैसा होगा।
    रहमान मलिक ने एक प्रेस कांफ्रैंस में कहा, 'मेरे पास चार अलग-अलग रिपोर्टें हैं जिनमें कहा गया है कि तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान मौलाना कादरी के प्रदर्शन पर हमला कर सकता है। मैं उनसे अपील करता हूं महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों के जीवन को खतरे में न डालें और घर जाएं। यदि लोगों को कुछ होता है तो उसके लिए कादरी ही जिम्मेदार होंगे।'
    इससे पहले बुधवार को भी कादरी का विरोध प्रदर्शन जारी रहा। पाकिस्तानी पुलिस ने कादरी के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की है। कादरी ने पीपीपी नेताओं को सरकार बर्खास्त करने की धमकी दी है। कादरी ने बुधवार को सरकार के सामने अपनी चार मांगे रखी जिनमें चुनाव से पहले चुनाव आयोग का पुनर्गठन और संविधान के अनुसार चुनावी सुधार शामिल हैं।
    इसी बीच गुरुवार को पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट में रेंटल पावर प्रोजेक्ट केस की सुनवाई शुरू हुई। चीफ जस्टिस इफ्तेखार चौधरी की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय बैंच इस केस की सुनवाई कर रही है।
    सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस ने कहा कि कोर्ट ने सभी आरोपियों की गिरफ्तारी का आदेश दिया है न कि सिर्फ प्रधानमंत्री राजा परवेज अशरफ की। चीफ जस्टिस ने यह भी कहा कि कोर्ट के आदेश का पालन मार्च 2012 से लंबित है। उन्होंने कहा कि नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरौ (एनएबी) के चैयरमैन फसीह बुखारी को भी अदालत की अवमानना का नोटिस भेजा गया है। उन्होंने कहा कि एनएबी के अधिकारियों को यह बताना होगा कि कोर्ट के आदेशों का पालन क्यों नहीं हुआ।
    चीफ जस्टिस ने पूछा कि अभी तक आरोपियों के खिलाफ कोई चालान क्यों नहीं किया गया है और कोई गिरफ्तारी क्यों नहीं की गई है। वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री परवेज अशरफ ने पूरे प्रकरण पर चर्चा के लिए गुरुवार को एक अहम बैठक बुलाई है।
    आज की प्रमुख खबरें

    RECORD:ऑस्ट्रेलियाई टीम74रन बना कर हुई ढेर

    PHOTOS:धोनी का टशन- प्रैक्टिस के लिए हमर चला कर पहुंचे स्‍टेडियम,अंग्रेज खिलाडि़यों ने लिया सनबाथ का

    सिलेंडर, डीजल का पूरा गणित: 1500 रुपये बचेंगे, हजारों की लगेगी चपत

    46.50 रुपये महंगा हुआ सिलेंडर, 45 पैसे बढ़े डीजल के दाम, पेट्रोल मिलेगा 25 पैसे सस्ता

    बदले मौसम में भी पाकिस्‍तान का 'हाथ'! देखिए बर्फबारी की तस्‍वीरें और जानिए क्‍यों लौटी ठंड

    जयपुर में कांग्रेस का महाकुंभ : ब्‍लू रूम में मिलेंगी सोनिया

    चौटाला को राहत की उम्मीद नहीं, सीबीआई ने मांगी कड़ी सजा

    कल की प्रमुख खबरें ये थीं

    अब साल में नौ सस्‍ते सिलेंडर मिलेंगे, पर डीजल 9 रुपये तक हो सकता है महंगा

    भारत से बदला लेने की कसम खाकर भर्ती होते हैं पाकिस्तानी फौजी!

    पाकिस्‍तान की नापाक हरकत पर कैसे नजर रख रहे हैं जवान, पढि़ए बॉर्डर से LIVE REPORT

    लड़कियों को 'सर्विस'देने वाला जिगोलो झांसा देकर बन गया कद्दावर अफसर का दामाद

    ये भी पढ़ें-

  • राजा परवेज अशरफ की गिरफ्तारी में अड़चनें

    भ्रष्टाचार के मामले में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री राजा परवेज अशरफ की गिरफ्तारी जल्द होने के आसार नहीं हैं। इसमें कानूनी पेंच फंसे हुए हैं। सूचना मंत्री कमर जमान कैरा ने बुधवार को बताया कि गिरफ्तारी कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही हो सकेगी।
    ये हैं अड़चनें
    प्रोसिक्यूटर जनरल पॉवर प्रोजेक्ट्स मामले में कथित घोटाले के संबंध में जांच के बाद रिपोर्ट राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) को सौंपेंगे।
    एनएबी छानबीन करने के बाद मामला दर्ज करने पर विचार करेगा।
    मामले को एनएबी से मंजूरी मिलने के बाद जवाबदेही कोर्ट गिरफ्तारी के आदेश जारी करेगी।
    अगर किसी कोर्ट ने जमानत नहीं दी तब इस पर अमल होगा।
  • भारत के सख्त रुख से तिलमिलाया पाकिस्तान
    सीमा पर हालिया तनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सख्त बयानी से पाकिस्तान तिलमिला गया। सुबह भारत पर युद्ध भड़काने की कोशिश का आरोप लगाने वाली पाक विदेश मंत्री के तेवर महज 12 घंटे बीतते-बीतते ठंडे पड़ गए।
    बुधवार देर रात उन्होंने सीमा पर जारी तनाव पर चिंता जताई। साथ ही हालात में सुधार के लिए भारतीय विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद को बातचीत का न्योता भी दे डाला। इससे पहले खर ने कहा था कि 'भारतीय नेता युद्ध भड़काने जैसे बयान दे रहे हैं। पाकिस्तान सरकार भी जैसे को तैसा जवाब दे सकती थी। लेकिन हमने संयम से काम लिया है। दक्षिण एशिया दोनों देशों में युद्ध झेलने की स्थिति में नहीं है।'
    पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने कहा कि मुंबई पर आतंकी हमले के बाद दोनों देशों में बातचीत टूट गई थी। अब बड़ी मुश्किल से शुरू हुई है जो 'भारत की वजह' से फिर टूट सकती है। खर एशिया सोसायटी के कार्यक्रम में बोल रही थीं।
  • भ्रष्टाचार पर पाक प्रधानमंत्री की मनमोहन से तुलना
    वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की गिरफ्तारी के आदेश के बाद पाक विदेश मंत्री हीना रब्बानी खार ने भारतीय प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह पर निशाना साधा है। खार ने भारतीय पीएम के साथ राजा परवेज अशरफ की तुलना करते हुए कहा कि मनमोहन सिंह पर भी तो भ्रष्टाचार के बड़े आरोप लगे हैं।
    पाकिस्तान में व्याप्त भ्रष्टाचार के संबंध में पूछे गए एक सवाल का जबाव देते हुए खार ने कहा, 'दक्षिण एशिया और दुनिया के अन्य हिस्सों में भ्रष्टाचार एक बड़ी समस्या है। हाल ही में भारत के प्रधानमंत्री पर भी भ्रष्टाचार के बहुत बड़े-बड़े आरोप लगे हैं।'
  • संयुक्त राष्ट्र में भारत ने सुनाई खरी-खरी
    संयुक्त राष्ट्रत्नभारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में पाकिस्तान को आतंकवाद के मुद्दे पर कड़ा संदेश दिया है। भारतीय प्रतिनिधि हरदीप पुरी ने कहा कि आतंकवाद को राज्य नीति के हथियार के रूप में इस्तेमाल कर रहे देश अदूरदर्शी हैं। इस 'भस्मासुर' से उन्हें खुद नुकसान उठाना पड़ा है। सुरक्षा परिषद में बुधवार को आतंकवाद पर बहस हो रही थी। अध्यक्षता पाक की विदेश मंत्री हिना रब्बानी ने की। पुरी ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष सभी मोर्चों पर और निरंतर होना चाहिए। भारत आतंकी गुटों से निपटने के चुनिंदा रवैये को सहन नहीं कर सकता है। आतंकी एक देश में भर्ती करते हैं, दूसरे में धन जमा करते हैं और कई देशों में सक्रिय रहते हैं।
  • जवानों की हत्या के बाद भारतीय सीमा में बिछाई थी बारूदी सुरंग
    सीमा पर तनाव को लेकर पाकिस्तान भारत पर आरोप मढ़ रहा है। लेकिन सबूत उसके खिलाफ हैं। भारतीय सेना ने सोमवार को हुई फ्लैग मीटिंग के पाकिस्तानी करतूत के सबूत सौंपे थे। इसमें बताया गया था कि 8 जनवरी को नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारतीय सेना की हत्या के बाद पाक सैनिकों ने आस-पास कई बारूदी सुरेंगें बिछा दी थीं। तलाशी के दौरान भारतीय सेना ने इसे बरामद किया था। सेना ने बुधवार को ये सबूत आम लोगों के लिए जारी कर दिए। सेना की ओर से जारी फोटो में साफ दिख रहा है कि बारूदी सुरेंगें पाकिस्तानी सेना की हैं। लेकिन जब फ्लैग मीटिंग के दौरान ये सबूत पाकिस्तानी ब्रिगेडियर को सौंपे गए तो उन्होंने इसे लेने और मानने से इनकार कर दिया।
    मंगलवार रातभर पाक की तरफ से फायरिंग जारी रही है। इस दौरान मेंढर और केजी सेक्टर की करीब आधा दर्जन पोस्टों को निशाना बनाया गया। तड़के फायरिंग बंद हुई। तब तक भारत की ओर से जवाबी फायरिंग होती रही।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Arrest Warrents Issued Against Maulana Tahir Ul Qadri
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From International

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top