Home »International News »International » Beginning Of The End Ban On The Opium In US

अमेरिका में चरस पर पाबंदी के खात्मे की शुरुआत

डेविड वान ड्रेहले | Jan 06, 2013, 08:41 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
अमेरिका में चरस पर पाबंदी के खात्मे की शुरुआत, international news in hindi, world hindi news
अमेरिका के पश्चिमी इलाकों में यह मौज-मजे का समय है। वाशिंगटन और कोलोरेडो राज्य के नागरिकों ने एक जनमत संग्रह में चरस पर प्रतिबंध समाप्त करने के पक्ष में राय जाहिर की है। सिएटल अंतरिक्ष केन्द्र के बाहर युवाओं के एक समूह ने नशीली सिगरेटों का धुआं उड़ाकर नए कानून के लागू होने का जश्न मनाया। फिर भी, सवाल उठे हैं, इससे क्या फर्क पड़ेगा।
कोलोरेडो, वाशिंगटन सहित 16 राज्यों में वर्षों से मेडिकल मारिजुआना (चरस) उपलब्ध है। डेनवर में ऐसी चरस इतनी आसानी से मिलती है कि सिटी कौंसिल को इनके विज्ञापन पर पाबंदी लगानी पड़ी। वाशिंगटन में उन डॉक्टरों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई जो सिरदर्द या बेचैनी की शिकायत करने वाले स्वस्थ लोगों को मेडिकल मारिजुआना दे रहे थे।
मेडिकल मरिजुआना कानूनों में सुराखों का जमकर फायदा उठाया जा रहा है। डेनवर जैसे शहरों में मारिजुआना डिस्पेन्सरी की संख्या कॉफी शॉप के समान है। वैसे, अमेरिकी सरकार के फेडरल कानूनों के मुताबिक चरस एक नियंत्रित वस्तु है।
न्याय विभाग ने एक बयान में कहा है, राज्य के कानून में परिवर्तन के बावजूद फेडरल कानून के तहत चरस उगाना, बेचना या रखना अवैध है। ओबामा प्रशासन ने फिलहाल वाशिंगटन, कोलोरेडो के फैसले पर प्रतिक्रिया नहीं जताई है।
प्रशासन में कुछ लोग फेडरल कानून की खिलाफत करने के राज्यों के अधिकार को कानूनी चुनौती देने के पक्ष में हैं। संभव है, चरस से प्रतिबंध हटाने की मांग अन्य राज्यों से भी आने लगे।
गैलप के एक सर्वे के अनुसार अमेरिका में चरस पर प्रतिबंध हटाने की मांग करने वाले लोगों की संख्या पिछले 15 वर्षों में दोगुनी बढ़ी है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Beginning of the end ban on the opium in US
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From International

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top