Home »International News »International» Brave Time Cover Girl Afghan Husband New Life In America

PICS: जालिम पति से छूट टाइम कवर 'गर्ल' को मिली अमेरिका में नई जिंदगी

dainikbhaskar.com | Dec 19, 2012, 12:33 IST

  • आयशा को अब शीशे के सामने अपने को देखने में डर नहीं लगता है। लेकिन कुछ महीनों पहले वह ऐसी नहीं थी। उसे अपने चेहरे से नफरत हो गई थी। नफरत इतनी कि आईने में अपने को देखना पसंद नहीं करती थी। अफगानिस्तान की आयशा मोहम्मदजई की नाक उसके जालिम पति ने काट डाली थी।
    उसका होना वाला पति जबरन शादी के लिए दबाव बना रहा था और एक दिन उसने गुस्से में उसकी जिंदगी खराब कर डाली। दुनिया की प्रतिष्ठित पत्रिका 'टाइम' के पेज कवर पर आने के बाद आएशा पूरी दुनिया में मशहूर हो गई। वह अब अमेरिका में है और धीरे-धीरे ठीक हो रही है।
    आयशा अपनी उम्र 21 या 22 साल बताती है। वह दो साल पहले भागकर अमेरिका आ गई थी। मैरीलैंड के बेथेस्डा में पिछले छह महीने से उसका इलाज चल रहा है।
    तस्वीरों में माध्यम से देखें आयशा की कहानी...
  • आयशा की कहानी पहली बार टाइम मैगजीन तस्वीर के साथ छपी थी। दुनियाभर में उनकी कहानी को लोगों ने पढ़ा। जब वह 12 साल की थी तो उनके पिता ने अपना कर्ज उतारने के लिए उसकी शादी तालिबान लड़ाके से तय कर दी। वह उसके साथ बुरा बर्ताव करता था और उसे जानवरों के तबेले में सोने पर मजबूर करता था।

  • पति से परेशान एक दिन आयशा भाग गई, लेकिन दुष्ट पति ने उसे पकड़ लिया और गुस्से में उसके नाक और कान काट डाले। उसे मरने के लिए तड़पता हुआ पहाड़ों पर छोड़ आया। वह बड़ी मुश्किल से अपने दादा के घर पहुंची।

  • काबुल में एक खुफिया घर में उसने करीब 10 हफ्तों तक इलाज हुआ। अमेरिकी डॉक्टर्स इस काम में लगे हुए थे। इसके बाद चैरिटी द्वारा वह बेहतर इलाज के लिए अमेरिकी चली गई। पहले न्यूयॉर्क और अब 16 महीनों से मैरीलैंड में बेहतर जीवन जी रही है। उसका जीवन फिर से पटरी पर दौड़ रहा है। अमेरिका में रहते हुए भी वह अमेरिकी टीवी से ज्यादा बॉलीवुड फिल्मों की दीवानी है।

    (तस्वीरों में: आंटी जमीला और मीना के साथ आयशा, मैरीलैंड में इस परिवार ने उन्हें गोद लिया है और उनके इलाज का सारा खर्च खुद उठाने का फैसला किया.)

  • सीएनएन से बात करते हुए आयशा ने कहा कि किसी न किसी को समस्याएं होती हैं। मेरे साथ भी शुरुआत में कुछ ऐसी ही दिक्कत थी। मैं आईने में अपनी शक्ल तक नहीं देख पाती थी। मैं पहले सोचती थी कि मेरा भविष्य क्या होगा। लेकिन अब ऐसी बात नहीं है। अब मुझे जीने का मकसद मिल गया है।

  • डॉक्टर्स ने उसके माथे में सिलिकॉन को एक तरल पदार्थ के साथ डाला है। जिससे उसकी नई नाक को अतिरिक्त ऊतक मिल सकें। कुछ ऊतक उन्होंने बांह और कलाई से लिए हैं और उसे आयशा के चेहरे और नाक में प्रत्यारोपित किया है।

  • मैरीलैंड में माटी और जमीला अर्सलाई नाम दंपति ने आयशा को गोद ले लिया है। उनकी खुद की भी 15 वर्षीय बेटी मीना अहमदजई है। मीना और आयशा बहुत अच्छी सहेली हैं। आयशा, माटी की अंकल कहती हैं, लेकिन वह मानती हैं कि उनके लिए पिता से भी बढ़कर हैं.

  • कैलिफोर्निया में 2010 में बीबी आयशा। डॉक्टर्स ने उनकी चोटग्रस्त नाक पर कृत्रिम नाक लगा दी थी। इसके छह महीने बाद डॉक्टर्स ने उनकी नई नाक लगाने के लिए ऑपरेशन किया।

  • कभी स्कूल न जा सकने वाली आयशा अब अमेरिका में पढ़ाई कर रही हैं. उनका सपना पुलिस ऑफिसर बनने का है.

  • इलाज के दौरान आयशा

  • अपनी बहन मीना के साथ आयशा क्रिसमस की तैयारियों की जुटी हुईं हैं.

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Brave Time cover girl Afghan husband new life in America
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From International

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top