Home »International News »Bhaskar Gyan» For Crying Out Loud: Study Backs Baby Sleep Strategies

मीठी नींद के लिए सोते समय बच्चों को रोने से न रोकें

Agency | Jan 05, 2013, 10:41 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
मीठी नींद के लिए सोते समय बच्चों को रोने से न रोकें
न्यूयॉर्क.जो माता पिता अपने बच्चों के रोते ही उन्हें बहलाकर चुप कराने के लिए परेशान होते हैं उनके लिए यह अच्छी खबर है। अगर वे अपनी यह आदत छोड़ दें तो उनके बच्चे मीठी नींद सो सकेंगे।
फिलाडेल्फिया विश्वविद्यालय में मनोविज्ञान विभाग की प्रोफेसर मार्शा वेनरॉब के नेतृत्व में मनोवैज्ञानिकों के दल ने एक अध्ययन में यह खुलासा किया है। इन्होंने 1200 बच्चों पर करीब तीन साल तक यह अध्ययन किया। अध्ययन से पता चला है कि अगर बच्चों को सोते समय रोने से न रोका जाए तो वे धीरे-धीरे खुद शांति से सोने के आदी हो जाते हैं। उन्हें बहलाने की जरूरत नहीं पड़ती। रो रोकर सोने वाले बच्चे रात में कभी- कभार ही उठते हैं।
अध्ययन में शामिल अधिकतर बच्चे छह महीने तक सप्ताह में पांच से छह रात सोते रहते थे जबकि एक तिहाई बच्चे रात में अक्सर कुनमुनाते रहते थे या जाग जाते थे। रात में जागने वाले अधिकतर लड़के थे। इन बच्चों को रात में मां का दूध पीने की भी आदत थी।
सुझाव
> बच्चों को रात में एक निश्चित समय पर सोने के लिए बिस्तर पर छोड़ देना चाहिए। इससे वे खुद सोने के आदी हो जाएंगे।
> बच्चे के नींद से जागने और रोने पर माता-पिता को तुरंत उसे बहलाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।
निष्कर्ष
> अगर कोई मां रात में बच्चे के जागने पर जाग जाती है या बच्चा मां का दूध पीते समय सो जाता है तो इसका मतलब यह है कि बच्चे को मीठी नींद नहीं आ रही है। यह मां और बच्चे दोनों के लिए नुकसानदायक है।
> रात को जागने के आदी बच्चों के माता-पिता और रिश्तेदार भी मनोवैज्ञानिक तौर पर प्रभावित होते हैं और बच्चे भी चिड़चिड़े हो जाते हैं।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: For crying out loud: study backs baby sleep strategies
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Bhaskar Gyan

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top