Home »International News »International» Nasa Mars Mission Disturbed

नासा के मंगल मिशन को झटका

एजेंसी | Aug 23, 2012, 10:34 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
नासा के मंगल मिशन को झटका, international news in hindi, world hindi news
पासाडेना। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा को मंगल ग्रह पर भेजे अपने क्यूरियोसिटी रोवर मिशन में पहला झटका लगा है। नासा का कहना है कि रोबोट के सेंसर सर्किट को नुकसान पहुंचा है। इसी सेंसर सर्किट से हवा की रीडिंग ली जाती है। क्यूरियोसिटी मिशन टीम ने दावा किया है कि यह बहुत बड़ी समस्या नहीं है। इससे कुछ मापने में कमी आएगी, लेकिन काम नहीं रुकेगा। वैसे नासा इस मिशन की बेहतरीन शुरुआत के बीच निराशा की इस खबर को अलग-थलग करके देख रहा है। इस मामले के प्रमुख जांचकर्ता जेवियर गोमेका एल्वीरा ने उम्मीद जताई है कि जल्द ही इसका कोई हल निकाल लिया जाएगा। उन्होंने पत्रकारों को बताया, ‘हमारी कोशिश है कि ये सेंसर सर्किट जितना संभव हो उतना काम कर सकें।’ दो सप्ताह पहले ही क्यूरियोसिटी मंगल ग्रह के भूमध्यवर्ती गाले क्रेटर पर उतरा था। क्यूरियोसिटी को मार्स साइंस लेबोरेटरी या एमएसएल के नाम से भी जाना जाता है। यह मंगल ग्रह पर कम से कम दो पृथ्वी वर्ष तक काम करेगा। इसका काम इस ग्रह पर सूक्ष्मजीव के रहने लायक परिस्थितियों के सबूत तलाश करना है। क्यूरियोसिटी के उतरने के बाद सभी चीजों की जांच-पड़ताल का काम करीब-करीब पूरा होने वाला है। इसमें उपकरणों की पड़ताल और उनका संचालन शामिल है और इसी पड़ताल में सेंसर सर्किट में समस्या का पता चला। क्या करता है यह सेंसर इस रोवर परियोजना में मौसम स्टेशन स्पेन का योगदान है। यह सेंसर सर्किट हवा और सतह का तापमान, हवा का दबाव, नमी, हवा की गति और दिशा के साथ-साथ सतह पर आने वाली पराबैगनी विकिरण की मात्रा के आंकड़े भी इकट्ठे करता है। यह हुआ नुकसान1. अभी यह निश्चित नहीं हो पाया है। 2. शक है कि क्यूरियोसिटी के मंगल पर उतरते समय वहां के पत्थर उछलकर सर्किट से टकरा गए होंगे। 3. जांच से पता चला है कि सेंसर सर्किट के कुछ तारों को नुकसान पहुंचा है। ये खुले हुए हैं। यह समस्या स्थायी है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: nasa mars mission disturbed
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From International

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top