Home »International News »International» Omar Hammami Dead: American Jihadi Killed In Somalia

अमेरिका में आलीशान जिंदगी बिताने वाला आतंकी मारा गया

Agency | Sep 13, 2013, 11:56 IST

  • सोमालिया में गुरुवार को अल-कायदा से जुड़े शबाब आतंकियों के गुट से मुठभेड़ में एक अमेरिकी इस्लामी आतंकी मारा गया। इसका नाम उमर हम्मामी बताया गया है। अमेरिका के अलबामा में जन्मे इस आतंकी को आमतौर पर ‘अल-अमरीकी’ के नाम से जाना जाता था। यह सोमालिया में लड़ने वाले विदेशी आतंकियों में प्रमुख था। इसके सिर पर अमेरिका ने 50 लाख डॉलर (करीब 31.83 करोड़ रुपए) का इनाम रखा हुआ था।

    दक्षिणी सोमालिया की बस्ती बरधेरे के निवासी मोआलिम अली ने बताया कि दो गुटों में मुठभेड़ हुई थी। इसमें अल-अमरीकी तथा दो अन्य लड़ाकों की मौत हो गई। इन दो में से एक विदेशी था, जिसकी पहचान नहीं हो सकी। कुछ इसे पाकिस्तानी तो कुछ मिस्र का नागरिक बता रहे थे। अल-अमरीकी 29 साल का था। वह 2006 में सोमालिया आया था और उसने अंग्रेजी भाषा के रैप सॉन्ग्स और वीडियो के माध्यम से शबाब के लिए युवा आतंकियों की भर्ती शुरू की थी।

    (अंदर की स्लाइड में पढ़ें कैसे बदली उमर की जिंदगी...)

  • अलबामा के डेफ्ने से उसके पिता शफीक हम्मामी ने बताया कि उमर को अलकायदा लड़ाकों ने मारा है, क्योंकि वह उनके खिलाफ हो गया था। हालांकि, परिवार को आशा है कि वह अभी भी जिंदा है। शफीक ने बताया कि अभी तक उसकी मौत की अधिकारिक सूचना जारी नहीं की गई है। उमर ट्विटर पर एक्टिव था। उसका आखिरी मैसेज पांच सितंबर का है, जिसमें उसने लिखा, "मैं अभी भी आतंकवादी हूं।" 29 साल का उमर एफबीआई की मोस्ट वॉन्टेड लिस्ट में था। उस पर पांच मिलियन डॉलर (32 करोड़ रुपए) का इनाम था।

  • उमर हम्मामी सीरियाई मुस्लिम पिता शफीक और ईसाई मां की संतान था। इस तस्वीर में उसकी बहन को गोद में पिता लिए हुए हैं। मां साथ खड़ी है। उसने यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया था। लेकिन बाद उसे छोड़कर कनाडा के टोरंटो चला गया। वहां उसने शादी की और एक बेटी को भी जन्म दिया। लेकिन जिहादी बनने का सपना उसका काफी सालों से था। वह 2006 में सोमालिया के अल-शबाब जिहादी संगठन से जुड़ गया। उसकी पत्नी उसकी बातों से कभी भी इत्तेफाक नहीं करती थी, इसलिए उसने उमर को तलाक दे दिया।

  • अलशबाब के साथ लड़ते हुए उसने काफी नाम कमाया था। लेकिन यूटयूब के वीडियो ने उसे काफी शोहरत दी थी। उसने एक जिहादी गाने को रैप में ढालकर यूट्यूब पर पोस्ट किया, जिसमें नौजवान अमेरिकी मुसलमानों को जिहाद और संगठन से जुड़ने का आह्वान किया गया था। उसने इस गाने को अंग्रेजी में गाया था। लेकिन अलकायदा इससे बहुत नाराज था, क्योंकि संगीत और गाना-बजाना गैर-इस्लामी माना जाता है।

    (1985 की यह तस्वीर उमर के जन्मदिन की है।)

  • अंतरराष्ट्रीय समर्थित सोमालिया सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए उमर ने अल-शबाब के समर्थन में कई वीडियो पोस्ट किए थे। पिछले एक साल में सोमाली और विदेशी आतंकियों के संगठन के बीच सोमालिया में लड़ाई चल रही थी, जिसका उमर भी हिस्सा था। उसने अपने अल-शबाब संगठन पर आरोप लगाया था कि यहां सोमाली लड़ाके विदेशी लड़ाकों को पीछे धकलेते हैं। ये लड़ाके पूरी दुनिया में नहीं, सिर्फ सोमालिया की जंग के बारे में ही सोचते हैं। अल-शबाब ने नाराज होकर इंटरनेट पर उमर की आलोचना भी की थी। उन्होंने संगठन की हो रही आलोचनाओं का जिम्मेदार उमर के रैप वीडियो को बताया था। बीते अप्रैल में उमर ने एक फोटो शेयर की थी, जिसमें वह गले और शर्ट तक खून से भीगा हुआ लग रहा था। उसने बताया था कि एक चाय की दुकान पर उसकी हत्या करने की कोशिश की गई थी।

    (उमर की लालन-पालन पूरी तरह से ईसाई रीति-रिवाजों से हुआ था। लेकिन अपने मूल धर्म के बारे में उसने किशोरावस्था से विचार करना शुरू कर दिया था।)

  • उमर के पिता शफीक सीरिया से अमेरिका आए और इंजीनियर बने। उनके घर में काफी सख्त माहौल होता था। उमर की लालन-पालन पूरी तरह से अमेरिकी स्टाइल में हुआ था। फिर भी सांस्कृतिक रूप से वह मुस्लिम ही थे। दरवाजे पर ही जूते रखे जाते थे। कुरान की आयतें दीवारों पर सजी रहती थीं और सूअर खाना मना था।

  • उसके दोस्त याद करते हुए बताते हैं कि किशोरावस्था में उस पर शेक्सपीयर, कर्ट कोबेन, फुटबॉल और इनटेंडो का प्रभाव था। उसका सपना सर्जन बनने का था। उसके दोस्त उसे पक्का लीडर मानते थे। उसे इस्लाम के बारे में खुले विचार रखते हुए देखा जाता था। लेकिन एक बार सीरिया की राजधानी दमिश्क की यात्रा करने के बाद सब कुछ बदल-सा गया। वह कहता था कि वह ईसाई और इस्लाम के बीच की फटी हुई चीज है। दक्षिण अलबामा यूनिवर्सिटी में दाखिला लेने के बाद वह मुस्लिम स्टूडेंट एसोसिएशन का अध्यक्ष बन गया।

  • 2002 में उसके पिता ने धार्मिक बहस के दौरान उससे घर को छोड़ देने के लिए कहा। इसके बाद उसने यूनिवर्सिटी और घर छोड़कर टोरंटो चला गया। वहां उसने प्रतिबंधित इस्लामी किताबों का अध्ययन किया। शादी के बाद जिहाद का सपना पाले उमर मिस्र चला गया। यहां उसकी मुलाकात कट्टरपंथी नेताओं से हुई, जिन्होंने उसे सोमालिया भिजवा दिया। उसकी पत्नी और बेटी ने उसका साथ देने से मना कर दिया और उसे तलाक दे दिया। तलाक के बाद उमर ने संभवत: सोमाली महिला से शादी कर ली थी और उसे एक बच्ची भी हुई।

    (उमर स्कूल के दिनों में सबसे पॉपुलर लड़की को डेट करता था।)

  • उमर हम्मामी.

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Omar Hammami Dead: American Jihadi Killed In Somalia
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From International

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top