Home »Jharkhand »Ranchi »News» Girls Playing Band Will Get 1-1 Lakh

सीएम ने की घोषणा- बैंड बजाने वाली छात्राओं को 1-1 लाख रुपए मिलेंगे

bhaskar news | Mar 21, 2017, 04:55 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
सीएम ने की घोषणा- बैंड बजाने वाली छात्राओं को 1-1 लाख रुपए मिलेंगे
रांची. बाल समागम के समापन समारोह का शुभारंभ बैंड की धुन पर हुआ। कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय नामकुम की छात्राओं ने परिछावन किया। कस्तूरबा आवासीय विद्यालय मांडर की छात्राओं के नेतृत्व में आठ स्कूलों की बच्चियों ने खूबसूरत धुन बजाकर सीएम का स्वागत किया। बुढ़मू की दो दर्जन छात्राओं ने बेटी बचाने का संदेश दिया। उनकी कोरियोग्राफी इतनी खूबसूरत थी कि सीएम की आंखें भर आईं। वे भावुक हो गए और अपने भाषण में भी बच्चों की प्रस्तुति की सराहना की।
उन्होंने बैंड बजानेवाली आठों ग्रुप की छात्राओं को एक-एक लाख रुपए देने की घोषणा की। वहीं राष्ट्रगान गानेवाली मध्य विद्यालय पंडरा की छात्रा को 25 हजार रुपए देने की घोषणा की। राजकीयकृत मध्य विद्यालय पंडरा की आरती, पूजा, रिंकी, विद्या, पायल और अन्नु ने गणेश वंदना से सबका स्वागत किया। तमाड़ की छात्राओं ने राजस्थानी लोकनृत्य प्रस्तुत कर लोगों का मान मोहा। अनगड़ा की स्टूडेंट्स ने असमिया बिहू डांस के माध्यम से फसल काटने की खुशी का इजहार किया।
अगले साल से झारखंड के और152 स्कूलों में शुरू होगी कंप्यूटर की पढ़ाई
सीएम ने विभाग की मासिक पत्रिका पंख का विमोचन किया। सभी स्कूल में यह पत्रिका भेजी जाएगी, जिसमें कविता, कहानी व साहित्यिक रचनाओं के साथ महापुरुषों की जीवनी पर आधारित लेख भी होंगे। सीएम ने एनसीईआरटी द्वारा विकसित गणित एवं विज्ञान किट उन शिक्षकों के बीच वितरित किया, जिन्होंने इस काम में मदद की। मौके पर सीएम ने पांच-पांच दिव्यांग बच्चों के बीच टैब, डेजी प्लेयर और ब्रेल किट का वितरण किया। बाद में सभी स्कूलों के बच्चों को ये सामग्री दी जाएगी। सीएम ने राज्य के 240 प्रारंभिक विद्यालयों में संचालित कंप्यूटर शिक्षा का ऑनलाइन उद्घाटन किया। अगले साल से और 152 विद्यालयों में भी कंप्यूटर शिक्षा देने की घोषणा की।
शिक्षा सचिव अाराधना पटनायक ने कहा कि झारखंड के बाल समागम मॉडल को दूसरे राज्य भी अपना रहे हैं। यह हमारी बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने शिक्षकों से बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने पर जोर दिया। कहा कि बच्चों को ऐसी शिक्षा दी जाए, ताकि वे प्राथमिक स्तर से ही प्रतियोगिता के लिए तैयार हो सकें। सभी विद्यालय टीम तैयार करें। सभी स्कूलों के कामकाज की मॉनिटरिंग ऑनलाइन हो रही है। सभी एकाउंट्स को डीबीटी से जोड़ा जा रहा है।
ढाई लाख बच्चों के एमडीएम का एकाउंट है। उन्होंने फर्जी एनरोलमेंट और डुप्लीकेट डेटा बंद करने को कहा है। साथ ही यह भी कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में दलाल बीच में न आएं, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित हो। वे मोरहाबादी में आयोजित बाल समागम में बोल रही थीं। खिजरी के विधायक राम कुमार पाहन और मांडर विधायक गंगोत्री कुजूर ने भी अपने विचार रखे। मौके पर माध्यमिक शिक्षा निदेशक डॉ मनीष रंजन, प्राथमिक शिक्षा निदेशक केएन झा, जेईपीसी के निदेशक मुकेश कुमार, उपायुक्त मनोज कुमार सहित कई अधिकारी उपस्थित थे।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Girls playing band will get 1-1 lakh
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top