Home »Jharkhand »Ranchi »News » Madhu Koda Did 15 Billion Tax Evasion

मधु कोड़ा ने की 15 अरब रुपए की टैक्स चोरी

राजेश कुमार। | Dec 21, 2012, 10:33 IST

मधु कोड़ा ने की 15 अरब रुपए की टैक्स चोरी

रांची।पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा ने पिछले सात सालों में लगभग 15 अरब 30 करोड़ 56 लाख रुपए की टैक्स चोरी की है। आयकर विभाग ने इस संबंध में स्पेशल कोर्ट में शिकायतवाद दायर किया है। गुरुवार को इस मामले की सुनवाई के बाद कोर्ट ने कोड़ा की जमानत याचिका खारिज कर दी। कोर्ट ने मधु कोड़ा की पत्नी गीता कोड़ा और पिता रसिक कोड़ा को भी समन जारी किया है। दोनों को कोर्ट में उपस्थित होकर अपना पक्ष रखने का निर्देश दिया है।

आयकर चोरी के मामले में विभाग ने मधु कोड़ा और उनके सहयोगियों के खिलाफ 11 शिकायतवाद दर्ज कराया था। इसके बाद कोर्ट ने चार दिसंबर को प्रोडक्शन वारंट जारी किया। इसके आधार पर कोड़ा को सात दिसंबर को विशेष न्यायाधीश डीके पाठक की अदालत में पेश किया गया था। गुरुवार को इस मामले में आयकर विभाग ने अपना पक्ष रखा। विभाग की ओर से बताया गया कि वर्ष 2007-08 में कोड़ा की आय लगभग 15 अरब रुपए थी। इस पर 7.43 अरब का टैक्स बनता था। यह राशि उन्होंने जमा नहीं कराई।



2111 गुणा बढ़ गई आमदनी


आयकर विभाग के अनुसार वर्ष 2004-05 में मधु कोड़ा की आमदनी 50,23,938 रुपए थी। वर्ष 2009-10 में यह 2111 गुणा बढ़कर 10 अरब 60 करोड़ 57 लाख 10 हजार 170 रुपए हो गई थी।


संपत्ति नहीं छिपाई : गीता कोड़ा


मधु कोड़ा की पत्नी और जगन्नाथपुर विधायक गीता कोड़ा ने गुरुवार को जमशेदपुर में कहा कि उनके पति ने कोई संपत्ति नहीं छिपाई। सब कुछ आयकर रिटर्न में दिखाया है। आयकर विभाग कई लोगों की संपत्ति को मधु कोड़ा की आय से जोड़ा रहा है। इसके खिलाफ कोर्ट में अपील की गई है। हमें कोर्ट पर पूरा भरोसा है। उन्होंने कहा कि मधु कोड़ा जल्द ही आरोपमुक्त होंगे।

किस साल कितने की टैक्स चोरी

वर्ष 2004-05 30,07,596 रु.
वर्ष 2005-06 1,00,89,353 रु.
वर्ष 2006-07 42,00,384 रु.
वर्ष 2007-08 7,43,43,66,588रु.
वर्ष 2008-09 2,51,89,34,530रु.
वर्ष 2009-10 5,33,50,05,213रु.

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Madhu Koda did 15 billion tax evasion
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top