Home »Jammu Kashmir »Jammu » Stop On Expensive Weddings In Jammu

महंगी शादियों पर रोक: बेटी की शादी में 500, बेटे में 400 से ज्यादा मेहमान नहीं

bhaskar news | Feb 22, 2017, 04:16 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
महंगी शादियों पर रोक: बेटी की शादी में 500, बेटे में 400 से ज्यादा मेहमान नहीं
जम्मू।महंगी शादियां.. आयोजनों में छप्पन भोग, शोर-शराबा, हजारों मेहमान और सजावट.. ये सब कुछ अब जम्मू-कश्मीर में देखने को नहीं मिलेगा। राज्य सरकार ने यहां सभी सरकारी और निजी आयोजनों में फिजूलखर्ची पर रोक लगा दी है। यही नहीं, सरकार ने बकायदा सूची जारी कर बताया है कि आयोजनों में कितने मेहमान बुलाए जा सकते हैं और कितनी तरह की डिशेज परोसी जा सकती हैं।

राज्य में उपभोक्ता मामलों के मंत्री जुल्फिकार अली ने मंगलवार को आदेश जारी किया। ये व्यवस्था 1 अप्रैल 2017 से लागू हो जाएगी। जम्मू-कश्मीर ऐसी व्यवस्था करने वाला देश का पहला राज्य होगा। अली ने बताया कि खाने की बर्बादी और दिखावे पर बेतहाशा खर्च रोकने के लिए ये कदम उठाए गए हैं। सरकार द्वारा बनाए गए दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन हो, इसकी जिम्मेदारी जिलाधिकारियों की होगी।
उन्हें आदेश दिया गया है कि इन निर्देशों को नजरअंदाज करने वालों पर सीआरपीसी की धारा 133 और 188 के तहत सख्ती से कार्रवाई करें। फिर चाहे कोई सरकार या समाज में कोई भी रुतबा क्यों न रखता हो। किसी के साथ नरमी नहीं बरती जाएगी। सवाल उठा कि जिनके यहां कुछ महीने में शादी है और उन्होंने व्यवस्था कर ली है, वो क्या करें? अली ने कहा, उनके पास 40 दिन का वक्त है। वे दोबारा अपनी व्यवस्था कर लें।
अब ऐसे करने होंगे आयोजन
{ लड़की की शादी में 500, लड़के की शादी में 400 और छोटे फंक्शन्स में 100 से ज्यादा मेहमान नहीं बुला सकते। इनविटेशन कार्ड्स के साथ ड्राई-फ्रूट्स, मिठाई या कोई गिफ्ट नहीं भेज सकते।
{ नॉन-वेज की 7 और वेज की 7 डिशेज से ज्यादा नहीं परोस सकते। मिठाई और फलों के दो से ज्यादा स्टॉल्स नहीं रख सकते।
{ एम्प्लीफायर्स (डीजे, ऑर्केस्ट्रा) और लाउडस्पीकर्स नहीं बजा सकते। न ही आतिशबाजी कर सकते हैं।
{कच्चे या पके खाने की बर्बादी नहीं करनी है। अगर कुछ बचता है तो उसे फेंक नहीं सकते। जरूरतमंदों या वृद्धाश्रमों में देना होगा।
43 साल पहले भी हुई थी खर्च घटाने की कोशिश
राज्य में 1973 की तत्कालीन सरकार ने भी फिजूलखर्ची पर लगाम कसने की कोशिश की थी। 25 बारातियों समेत 75 मेहमानों को बुलाने की व्यवस्था की गई थी। लेकिन लोगों के विरोध के बाद हाईकोर्ट ने आदेश पर रोक लगा दी थी।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
DBPL T20
Web Title: Stop on expensive weddings in jammu
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Jammu

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top