Home »Khabre Zara Hat Ke »OMG» US Army Created Self-Cleaning Underwear

US सैनिक पहनते हैं खुद साफ होने वाली अंडरवियर, 130 करोड़ रु. में थी बनी

dainikbhaskar.com | Apr 21, 2017, 10:30 IST

  • अमेरिकी सेना अपने सैनिकों को प्रोटेक्शन के लिए कई तरह के इंस्ट्रुमेंट्स देती है। उसके सुरक्षा उपायों में एक खास तरह की अंडरवियर भी शामिल है। यह अंडरवियर रेगिस्तानी इलाकों को ध्यान में रखकर बनाई गई है, जहां धूल और पसीने के चलते सैनिकों को बैक्टीरियल इन्फेक्शन होने का खतरा बहुत ज्यादा होता है। इसलिए अमेरिकन सैनिक ऐसी अंडरवियर पहनते हैं, जो खुद ही साफ होती रहती है। इसे बिना धोए कई हफ्तों तक आराम से पहना जा सकता है। जानिए, कैसे काम करती है यह अंडरवियर...
    -इस नई तकनीक में माइक्रोवेव की सहायता से कपड़ों में नैनोपार्टिकल्स फंसा दिए जाते हैं। ये नैनोपार्टिकल्स पानी, तेल, बैक्टीरिया और धूल के साथ जुड़ जाते हैं। फिर कपड़ों में मिला रसायन बैक्टीरिया को खत्म कर प्रेशर क्रिएट करता है, जिससे गंदगी भी बाहर हो जाती है।
    -अमेरिकन आर्मी ने इस फैब्रिक के डेवलपमेंट पर 20 मिलियन डॉलर यानी करीब 130 करोड़ रुपए से अधिक खर्च किए थे। वह लंबे समय से इस फैब्रिक का उपयोग कर सैनिकों के लिए अंडरवियर और टी-शर्ट बना रही है।
    -इस रिसर्च से जुड़े जेफ ओवेंस का कहना है कि रेगिस्तानी इलाकों में तैनात जितने सैनिक दुर्घटनाओं और फायरिंग में मरते हैं, उससे कहीं ज्यादा मौतें बैक्टीरियल इन्फेक्शन के कारण होती हैं। रेगिस्तान में धूल, पसीने और उमस के कारण इन्फेक्शन की आशंका काफी बढ़ जाती है।
    -ऐसे चमत्कारिक कपड़े लंबे समय से विज्ञान परिकल्पनाओं का हिस्सा रहे हैं। 1951 में आई साइंस फैंटेसी फिल्म 'द मैन इन व्हाइट सूट' में हीरो एलेक गिनीज ऐसे कपड़े पहनता है, जो कभी गंदे ही नहीं होते।
    -1995 में नील स्टीफेंसन ने अपने नॉवल 'द डायमंड एज' में क्लीयर इमेजिनेशन किया था कि नैनो टेक्नोलॉजी का यूज करते हुए ऐसे कपड़े बनाना मुमकिन है।
    अगली स्लाइड में देखें अमेरिकन आर्मी के साइंटिस्ट्स द्वारा बनाई गई एक अन्य खास अंडरवियर...
  • पेल्विक रीजन को प्रोटेक्ट करने वाले अंडरपैंट्स
    -बारूदी सुरंग में धमाके से विक्टिम के पैर तो उड़ ही जाते हैं, कई बार उसके पेल्विक रीजन में ऐसी चोट लगती है कि वह बच्चे पैदा करने के काबिल नहीं रह जाता।
    -अमेरिकी सैनिक दुनिया के कई युद्धग्रस्त क्षेत्रों में तैनात हैं। उन्हें अक्सर बारूदी सुरंगों से जूझना पड़ता है। उनके अंगों को सुरक्षा देने के लिए अमेरिकन आर्मी ने एक पेल्विक प्रोटेक्शन सिस्टम बनाया है। इसे केवलर अंडरपैंट्स नाम दिया गया है।
    -इसमें दो लेयर होती हैं, जिन्हें प्रोटेक्टिव अंडर गारमेंट (PUG) और प्रोटेक्टिव आउटर गारमेंट (POG) कहा जाता है। इसका कपड़ा ब्लास्ट के बाद ऊंचे तापमान पर भी नहीं पिघलता है।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: US Army Created Self-Cleaning Underwear
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From OMG

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top