Home »Lifestyle »Auto» "Whenever You Get Angry To Hit A Nail In The Wall '

‘जब भी तुम्हें गुस्सा आए तो एक कील दीवार में ठोक देना’

Danik bhaskar.com | Dec 06, 2012, 13:04 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
‘जब भी तुम्हें गुस्सा आए तो एक कील दीवार में ठोक देना’

एक लड़का बहुत गुस्सैल था। उसे बात-बात पर गुस्सा आता था। पिता ने उसे कीलों से भरा बैग देकर कहा, ‘जब भी तुम्हें गुस्सा आए तो एक कील दीवार में ठोक देना।’



पहले दिन उसने 40 कीलें ठोक दीं। धीरे-धीरे उसने गुस्से पर काबू करना सीख लिया और दीवार पर कीलों की संख्या कम होती चली गई। उसने पिता से कहा, ‘पिताजी मैंने गुस्से पर काबू करना सीख लिया है।’

पिता ने कहा, ‘बेटा, अब रोज एक कील दीवार से निकालो, जब तक तुम्हारा गुस्से पर नियंत्रण रहे।’ कुछ दिन बाद सारी कीलें निकल जाने पर उसने पिता से कहा, ‘मैंने सारी कीलें निकाल ली हैं।’

तब पिता ने उसे दीवार के छेद दिखाते हुए कहा, ‘जिस प्रकार दीवार में कील ठोक कर निकालने के बाद उसमें छेद बन जाते हैं, इसी तरह जब गुस्से में कोई बात कहते हैं तो वे बातें हमारे मन में भी इसी तरह निशान छोड़ देती हैं। माफी मांगने के बाद भी उन शब्दों के निशान बने ही रहते हैं।’

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: "Whenever you get angry to hit a nail in the wall '
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Auto

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top