Home »Magazine »Navrang» Navrang

हमारा रिश्ता बिलकुल नहीं बदला

सलोनी अरोरा | Feb 25, 2017, 14:12 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
हमारा रिश्ता बिलकुल नहीं बदला
आलिया भट्ट और वरुण धवन फ़िल्मी परिवारों की बड़ी लेगेसी साथ लेकर फिल्मों में आए। दोनों की साथ में तीसरी फिल्म 'बद्रीनाथ की दुल्हनियां' आ रही है। सात साल पहले एक साथ फिल्मों में आए। इस मुलाकात में वरुण और आलिया ने बताई एक दूसरे की खास बातें...

जिंदगी की गणित...
वरुण - फिल्म में तो आलिया की मैथ्स परफेक्ट है। लेकिन असल जिंदगी में इनकी गणित कैसी है ये तो मुझे पता नहीं बीते कुछ साल में वे बहुत शार्प हो गईं हैं। आलिया बहुत पढ़ती हैं, काफी रिसर्च करती हैं।
आलिया - हमने साथ शुरूआत की थी, वरुण की सभी फिल्में हिट रहीं। उनका सक्सेस ग्राफ ही तो उनकी लाइफ का सबसे बड़ा कैलकुलेशन बताता है। मुझे उन पर बहुत गर्व होता है।

स्टूडेंट से बद्री तक के बदलाव...
वरुण - आलिया बहुत वाइजर और मेच्योर हो गईं है। वो जब फिल्मों में आईं तो महज 17 वर्ष की थी अब 24 की हो गई हैं तो नजरिया भी बदला है। एक्टर के तौर पर ग्रोथ लाजवाब है। अब सोच-समझ के फैसले लेती हंै। लोगों को आसानी से हैंडल करती है। मीडिया के टफ सवाल भी आसानी से संभाल लेती हंै।
आलिया - वरुण पहले बहुत सवाल पूछते थे। कई बार बहुत सी बातों में आसानी से राजी नहीं होते थे। अब वे निर्देशकों पर ज्यादा भरोसा करने लगे हैं। कोई शॉट दे रहे हैं तो सिर्फ निर्देशक की मान लेते हैं पहले वे अपनी राय रखते थे कि ऐसा होना चाहिए या मुझे लगता है ये ठीक नहीं है। अब वरुण की डिलेवरी बहुत अच्छी हो गई है।

क्या नहीं बदला...
वरुण - उनकी सोल वही है, मतलब दिल से वे बिलकुल सिंपल हैं। बाते वैसे ही करती है। लड़ाई भी पहले जैसे ही करती है।
आलिया - हमारा रिश्ता बिलकुल नहीं बदला। वक्त के साथ हम एक-दूसरे को बेहतर समझने लगे हैं। वाे जानता है मैं इस दृश्य को ऐसे करना चाहती हूं। हम दोनों के बीच पता नहीं क्या है हम शुरू से बहुत लड़ते हैं। सेट पर टाइमिंग को लेकर तो हम कंपटीशन करते ही हैं। वरुण हमेशा कहता है मुझे हल्का सा जुखाम भी हो तो तुम भी कहती हो बीमार फील कर रही हूं। किसी एक चीज में तो मुझे ही अकेले रहने दो।

करण जौहर का परिवार...
वरुण - करण की वजह से फिल्मों में हूं। धर्मा प्रोडक्शन मेरे घर की तरह हैं। जब भी कोई रोल होता है वो मुझे बुला लेते हैं या मैं खुद आ जाता हूं। दूसरी फिल्मों के लिए करण से सलाह लेता हूं इसके पीछे मेरा अपना स्वार्थ है। उनकी सलाह मेरे लिए महत्वपूर्ण है। करण हम सभी को परिवार की तरह साथ रखते हैं।
आलिया - मैं जिन लोगों के साथ सहज हूं उनसे मन की बात कह देती हूं। कभी भी कोई डाउट हो तो मैं करण के पास जाती हूं। उन्होंने मुझे हमेशा यही कहा कि लोगों के साथ अच्छे से डील करना चाहिए। आपकी निजी समस्या का असर दूसरे पर नहीं पड़ना चाहिए।

होली सांग
वरुण -"रंग बरसे',"बलम पिचकारी' "बद्री का होली सांग'।
आलिया- "खेलन क्यों ना जाए' के अलावा "रंग बरसे' और "लेटस प्ले होली' पसंद है।

बद्रीनाथ और दुल्हनियां का यादगार किस्सा...
वरुण -पहले एक्टर्स छोटे शहरों में बहुत शूटिंग करते थे। हमने पहली बार कोटा, झांसी, जयपुर में शूटिंग की। कोटा आईटी हब है तो झांसी खूबसूरत सी जगह है। झांसी के फोर्ट में शूटिंग, कोटा के राजघराने के साथ समय बिताया। फैंस मेट्रो में भी हैं लेकिन छोटे शहरों का यूफोरिया पहली बार देखा। एक बार स्ट्रीट पर 30-35 हजार फैंस जमा हो गए थे, वो क्रेजी मूमेंट था जिसे हम दोनों ने एंजॉय किया।
आलिया -कोटा को सिर्फ कहा जाता है कि वह छोटी सिटी है, लेकिन वो तो बहुत फॉरवर्ड है। वहां हर तरह की सुविधाएं हैं। सेवन वंडर पार्क बहुत खूबसूरत है। हमने उस पार्क में शूटिंग की। मुम्बई में तो वैसा पार्क है ही नहीं। पार्क के बाहर सुबह सात से शाम को छह बजे तक खड़े रहते थे तो हम उन लोगों को एक बार जाकर हेलो करते थे। रियल मास ऑडियंस से मिले हम वहां पर।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Navrang
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Navrang

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top