Home »Maharashtra »Mumbai» 180 Maternity Leave For Adopting Orphan Infant

अनाथ बच्चा गोद लिया तो 180 दिन की छुट्टी, प्रदेश सरकार ने उठाया कदम

Bhaskar News | Mar 20, 2017, 10:47 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
अनाथ बच्चा गोद लिया तो 180 दिन की छुट्टी, प्रदेश सरकार ने उठाया कदम
सोलापूर.अनाथ बच्चों को सक्षम मां-बाप मिल सके इसलिए महाराष्ट्र सरकार के वित्त मंत्रालय ने बड़ा कदम उठाया है। एक साल से कम उम्र वाले बच्चे को गोद लेने वाली महिला कर्मचारी को 180 दिनों तक छुट्टी मिल सकेगी। गोद लेने के दिन से इस छुट्टी को मंजूरी दे दी जाएगी, ऐसा वित्त मंत्रालय के सचिव विद्या वाघमारे ने बताया।
महाराष्ट्र के वित्तमंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने बजट पेश करने के पहले ही इस संदर्भ में जीआर निकाला। मातृत्व अवकाश में महिलाओं को 90 दिनों तक छुट्टी मिलती है। गोद लेने की प्रक्रिया में इस अवधि को बढ़ाया गया है। एक साल से बड़ा और तीन साल के भीतर बच्चा होगा तो 90 दिनों की छुट्टी मिल सकेगी। इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए बच्चा सरकार के अनाथ आश्रम से लेना जरुरी होगा।
इनफर्टिलिटी का प्रमाणपत्र भी पेश करना अनिवार्य होगा। सरकार के आदेश में कहा गया है कि गोद लेने की कानूनी प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद ही छुट्टी को मंजूरी दे दी जाएगी।
बदसलूकी करने वाले वयस्क बच्चों को अपने घर से निकाल सकते हैं माता-पिता
इधर, दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा है कि माता-पिता बदसलूकी करने वाले अपने वयस्क बच्चों को घर से बेदखल कर सकते हैं। जस्टिस मनमोहन ने एक फैसले में कहा कि अगर माता-पिता के पास संपत्ति का कानूनी अधिकार है तो वह ऐसा कर सकते हैं। यह जरूरी नहीं कि संपत्ति उन्होंने हासिल की है या उनके स्वामित्व की है।
उन्होंने कहा कि अदालतें समय-समय पर बुजुर्गों के सम्मान और शांति के साथ जीवन बिताने के हक की बात उठा चुकी हैं।एक शराबी पूर्व पुलिसकर्मी और उसके भाई की अपील पर हाईकोर्ट का फैसला आया है। दोनों ने मेंटेनेंस ट्रिब्यूनल के अक्टूबर 2015 के आदेश को चुनौती दी थी। ट्रिब्यूनल ने दोनों को उस घर से बेदखल करने का आदेश दिया था, जिसमें उनके बुजुर्ग और बीमार माता-पिता रहते थे।
00
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: 180 Maternity Leave For Adopting Orphan Infant
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Mumbai

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top