Home »Maharashtra »Nagpur» The Actress Has Turned Down The Proposal Of Marriage Of Devanand, Is Living In Poverty

इस एक्ट्रेस ने ठुकराया था देवानंद से शादी का प्रपोजल, अब खा रही हैं दर-दर की ठोकरें

सोमनाथ कोठुले | Apr 20, 2017, 16:43 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
नाशिक.कभी जिंदगी में जिस एक्ट्रेस के कदम सफलता चूम रही थी और उसने बॉलीवुड के सदाबहार देवानंद जैसे एक्टर के मैरिज को प्रपोजल को ठुकरा चुकी हो, वह आज मुफलिसी की जिंदगी जी रही है। वर्ष 1940 में अभिनेता देव आनंद ने उनसे शादी करने का प्रस्ताव रखा था, लेकिन उन्होंने इसे ठुकराकर एसडी नारंग की जीवन संगिनी बनना स्वीकार किया। रिश्तों में धोखा खाने वाली मशहूर अदाकारा स्मृति बिश्वास-नारंग सिर्फ रहने के लिए 28 ठिकाने बदल चुकी हैं। आगे कभी बुलंदियों में रहीं, लेकिन एेसे जिंदगी हुई बदहाल...
किसी फिल्म से कम नहीं है इस अभिनेत्री की कहानी। शानो शौकत की जिंदगी, दोनों मुट्ठियों में ढेर सारी सफलताएं और कई पुरस्कार। पर दुर्भाग्य कि अब जिंदगी की शाम में दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर। अपने पराये हो गए, हर रिश्ते में धोखा खाया। धन की कमी से ज्यादा अपनों के दिए जख्मों से आहत हैं गुजरे जमाने की मशहूर अदाकारा स्मृति बिश्वास-नारंग। 93 वर्षीय यह अभिनेत्री इन दिनों नाशिक शहर के एक छोटे से मकान में दो बेटों राज और जीतू के साथ रहने को मजबूर हैं।
स्मृति बताती हैं- ‘हमारे मुंबई, दिल्ली व महाबलेश्वर में बंगले थे। जिसे अपनों ने ही हथिया लिया। तब से हम दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं। 1960 में पति एसडी नारंग की मधुमेह के कारण मृत्यु हो गई। इसके बाद हमने अपने जुहू के बंगले में कुछ निर्माणकार्य करवाने का निर्णय लिया। इस बारे में एक बिल्डर से एग्रीमेंट किया था।
बिल्डर ने कुछ दिनों के लिए घर से बाहर रहने की बात कही फिर उसने वहां कब्जा कर लिया। सांसद हेमंत गोडसे मदद तो करना चाहते हैं पर कहते हैं कानूनन केवल 21 हजार की मदद का प्रावधान है। इसलिए अन्य विकल्प तलाशने होंगे।’ स्मृति अपने दोनों बेटों के साथ अब तक 28 ठिकानें बदल चुकी हैं। राज के मुताबिक, पिता नारंग की मौत के एक साल बाद जब वे दिल्ली के बंगले पर गए तो उन्हें अंदर नहीं जाने दिया गया।

इसके बाद से स्मृति अपने गहने बेचकर किसी तरह जीवन-यापन कर रही हैं। उन्हें अपनों ने मदद करने के बहाने ठगा। स्मृति छोटी बहन की मदद से करीब तीन साल पहले दोनों बेटों के साथ नाशिक आ गईं। और तब से करीब 500 वर्गफीट के मकान में रह रही हैं।
90 फिल्मों में किया बेहतरीन एक्टिंग
स्मृति ने वर्ष 1930-60 तक हिंदी व बांग्ला फिल्म जगत पर राज किया। नेक दिल, मार्डन गर्ल, अभिमान, अनुराग, हमसफर, भागमभाग, चांदनी चौक और दिल्ली के ठग जैसी कई सुपरहिट फिल्में दीं। राज कपूर, किशोर कुमार, भगवानदादा, नर्गिस, बलराज साहनी जैसे अभिनेताओं के साथ करीब 90 फिल्मों में बेहतरीन अभिनय किया। दादासाहेब फालके गोल्डन ईरा समेत कई पुरस्कारों से पुरस्कृत स्मृति की अंग्रेजी भाषा पर जबर्दस्त पकड़ है।
आगे की स्लाइड में देखिए स्मृति की कुछ पुरानी फोटोज...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: The actress has turned down the proposal of marriage of Devanand, is living in Poverty
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Nagpur

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top