Home »Maharashtra »Pune »News » Submarine Khanderi Become Part Of Indian Navy Today

नेवी को मिली सबमरीन खांदेरी, ट्यूब से भी दागेगी एंटी शिप मिसाइल

dainikbhaskar.com | Jan 12, 2017, 15:36 PM IST

स्कॉर्पीन क्लास की दूसरी सबमरीन खांदेरी को गुरुवार को मझगांव में नेवी में शामिल किया गया।

मुंबई. स्कॉर्पीन क्लास की दूसरी सबमरीन खांदेरी को गुरुवार को मझगांव में नेवी में शामिल किया गया। इसे बाद में समुद्र में उतारा जाएगा। बता दें कि नेवी फ्रांस के कॉन्ट्रैक्टर DCNS की मदद से मुंबई के मझगांव पोर्ट पर स्कॉर्पीन क्लास की 6 सबमरीन तैयार कर कर रही है। इस पर 23,400 करोड़ रुपए (3.5 बिलियन डॉलर) खर्च हो रहे हैं। इससे पहले इसी क्लास की कलवरी सबमरीन को समुद्र में उतारा गया था। नेवी में शामिल होने के पहले इसके कई ट्रायल किए गए।शिवाजी महाराज के किले से मिला नाम...
- खांदेरी सबमरीन का नाम अरब सागर के बीच टापू पर बने शिवाजी महाराज के खांदेरी किले के नाम पर रखा गया है।
-किले ने 17th सेन्चुरी में समुद्र में मराठों की ताकत को साबित करने में अहम किरदार निभाया था।
- खांदेरी दुश्मन के रडार से बच सकती है। इसे भारत में ही तैयार किया गया है।
- स्कॉर्पीन सीरीज की यह दूसरी सबमरीन है। इससे पहले अप्रैल 2015 में कलवरी सबमरीन को समुद्र में उतारा गया था।
कड़े टेस्ट से पास करना होगा
- 12 जनवरी को समुद्र में उतारे जाने के बाद खांदेरी सबमरीन को दिसंबर 2017 तक कई मुश्किल टेस्ट से गुजरना होगा।
- इसमें बंदरगाह और समुद्र, दोनों तरह के टेस्ट शामिल हैं। भारतीय नौसेना में पहली खांदेरी पनडुब्बी 6 दिसंबर 1986 में कमीशन हुई थी।
- करीब 20 साल तक देश की सेवा करने के बाद 18 अक्टूबर 1989 इसे नेवी से रिटायर किया गया।
खांदेरी की खासियत
- यह दुश्मन का पता लगते ही उस पर गाइडेड हथियारों से हमला कर सकती है।
- यह पानी के नीचे से और सतह से दुश्मन पर हमला कर सकती है।
- इससे टॉरपीडो के साथ-साथ ट्यूब से भी एंटी शिप मिसाइलें दागी जा सकती हैं।
- इसकी स्टैल्थ टेक्नीक इसे दूसरी सबमरीन्स के मुकाबले शानदार व बेजोड़ बनाती है।
- इस सबमरीन वे सभी काम कर सकती है, जो दूसरी सबमरीन्स करती हैं, जैसे एंटी अंडरग्राउंड वॉर, एंटी सबमरीन वॉर, इंटेलिजेंस इनपुट्स देना और सर्विलांस करना।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Submarine Khanderi become part of Indian navy today
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        Top