Home »Maharashtra »Pune »News» Pune Municipal Corporation Has Devised A Unique Way

अब सिर्फ एक 'एसएमएस' और दूर हो जायेगी यह बड़ी समस्या

भास्कर.कॉम | Sep 13, 2013, 12:00 IST

  • पुणे:अगर आप के घर के बाहर कई दिनों से कूड़ा पड़ा हुआ है और कोई भी सफाई कर्मचारी उसे उठाने नहीं आ रहा है तो अब चिंतित होने की जरुरत नहीं है। अब पुणे नगरनिगम ने एक अनोखा तरीका इजाद किया है। अगर यह तरीके कारगर रहा तो आने वाले दिनों में सड़कें सीसे की तरह चमकेगी!

    आगे की स्लाइड में पढ़िए कैसे साफ हो जाएगी आप के इलाके का सारा कूड़ा ...

  • इन सब के अलावा नगर निगम ने लोगों से अपील की है कि वह कूड़ा सड़कों पर न फेंक कर कूड़ेदान में फेंके ताकि सफाईकर्मी इसे आसानी से उठा सके।
  • पुणे नगर निगम ने एक अनोखी एसएमएस सर्विस शुरू की है जिसके तहत आप अपने सफाई कर्मचारियों की शिकायत बस एक एसएमएस के द्वारा कर सकते हैं। अगर आप को अपने इलाके में कोई भी कूड़ा नजर आता है तो बस अपने मोबाइल मेसेज बॉक्स में जा कर PMC टाइप करिए और उसे 9223050607 पर भेज दीजिए। एक खास तकनीक के चलते यह एसएमएस सीधे नगर निगम के बड़े अधिकारियों के मोबाइल पर नजर आएगा। इन सब के अलावा आप www.pmcalert.org पर जा कर भी अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।
  • जिन अधिकारियों के मोबाइल पर यह एसएमएस आएगा उन पर जिम्मेदारी होगी जल्द से जल्द इस मामले में कार्यवाही की और वह प्रयास करते हुए इस शिकायत पर कार्यवाही करेंगे। इस सर्विस के शुरू होने से आम लोगों में एक उम्मीद जगी है कि अब उनका इलाका जल्द ही साफ सुतरा रहेगा।
    पुणे के सॉलिड वेस्ट मैनजमेंट सेल द्वारा शुरू की गई यह एसएमएस सर्विस आने वाले दिनों में और अधिक पॉपुलर हो इस लिए निगम एक बड़ा प्रचार अभियान शुरू करने जा रहा है। पुणे से हर रोज 1500 टन कूड़ा इक्कठा किया जाता है। सही जगह कूड़ा फेंका जाए इस लिए सरकार ने 1,200 कूड़ेदान शहर के अलग अलग इलाकों में रखे हैं। लेकिन इन सब के बावजूद शहर के बहुत से इलाके में आप को कूड़ा सड़कों पर नजर आ जाएगा।
  • निगम अधिकारियों का मानना है कि, "इस एसएमएस सर्विस के शुरू होने के बाद सफाई कर्मचारियों के मन में शिकायत का डर रहेगा और वह सही ढंग से काम करेंगे"। एसएमएस आने के बाद अधिकारी पर जिम्मेदारी होगी कुछ ही घंटों में उसे साफ़ करवाने की।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Pune Municipal Corporation has devised a unique way
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top