Home »Maharashtra »Mumbai » Malegaon Accused Sadhvi Pragya Denies To Get Treated

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का इलाज से इनकार, रखी जमानत की शर्त

भास्कर न्यूज़ | Jan 19, 2013, 03:06 AM IST

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का इलाज से इनकार, रखी जमानत की शर्त


मुंबई।
स्तन कैंसर से पीडि़त मालेगांव बम धमाके की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने अपना इलाज कराने से इनकार कर दिया है। उन्होंने कहा है कि जब तक उन्हें जमानत नहीं मिलती वे किसी अस्पताल में अपना इलाज कराने नहीं जाएंगी।
शुक्रवार को बांबे हाईकोर्ट में साध्वी की जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान यह बात सामने आई। साध्वी ने इस संबंध में जेल अधिकारियों के मार्फत हाईकोर्ट के नाम एक पत्र लिखा है। जिसमें साध्वी ने इलाज कराने से इनकार किया है। सुनवाई के दौरान साध्वी के पत्र को न्यायमूर्ति आरसी चव्हाण के सामने पेश किया गया। न्यायमूर्ति ने कहा कि क्या बम विस्फोट की जांच कर रही एनआईए साध्वी पर लगे आरोपों को साबित करने के लिए उसे जीवित रखना चाहती है?

एनआईए की वकील रोहणी सैनियल ने इस मामले में अपना पक्ष रखने के लिए कोर्ट से समय मांगा है।
साध्वी की पैरवी कर रहे वकील महेश जेठमलानी ने कहा कि यदि अभियोजन पक्ष को किसी प्रकार का संदेह है तो वह साध्वी की जमानत के दौरान सर्विलेंस के जरिए नजर रखे हमें इस पर कोई आपत्ति नहीं है। जेठमलानी ने साध्वी की तबियत का हवाला देकर उसे अंतरिम जमानत पर रिहा करने का अनुरोध किया।

वर्तमान में साध्वी को भोपाल की जेल में रखा गया है। जहां उसके खिलाफ सुनील जोशी की हत्या का मुकदमा चल रहा है। हाईकोर्ट ने फिलहाल इस मामले की सुनवाई 28 जनवरी तक के लिए टाल दी है।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Malegaon accused Sadhvi pragya denies to get treated
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Mumbai

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top