Home »Madhya Pradesh »Bhopal »News » Daughter To Brain Tumor Do Not Doctor

इलाज के लिए न मिले डॉक्टर न स्ट्रेचर, बेटी को गोद में लेकर भटकता रहा पिता

bhaskar news | Mar 21, 2017, 08:07 IST

इलाज के लिए न मिले डॉक्टर न स्ट्रेचर, बेटी को गोद में लेकर भटकता रहा पिता
भोपाल।हमीदिया अस्पताल में सोमवार दोपहर 1.20 बजे। अल्ट्रा सोनोग्राफी सेंटर में ताला लगा है। जीएमसी की 10 सीटों के लिए एमसीआई की टीम दौरा करने पहुंची। सदस्य डॉ राजेंद्र गुप्ता ने पूछा कि अल्ट्रा सोनोग्राफी सेंटर में अभी तक ताला क्यों नही खोला गया है, टेक्नीशियन कहां हैं? इस अस्पताल प्रबंधन के अफसरों ने इस अस्पताल प्रबंधन ने कहा कि कुछ काम से गए हैं। बस कुछ देर में खुल जाएगा।
भाई का दर्द.... एक वार्ड से दूसरे वार्ड भेजते रहे डॉक्टर
सागर निवासी प्रेम नारायण ने बताया कि उसकी 11 साल की बहन कला पटेल को ब्रेन ट्यूमर है। सागर अस्पताल से उसकी बहन को हमीदिया रैफर किया गया है। यहां पर पहुंचे तो कमला नेहरु अस्पताल भेज दिया गया। वहां पर कोई डॉक्टर नहीं था। बहन के लिए स्ट्रेचर खोजा। लेकिन नहीं मिला। इसलिए पिता ने उसे गोद में उठा लिया। करीब 500 मीटर तक वो उसको उठाकर एक वार्ड से दूसरे वार्ड गए। बाद में डॉक्टरों ने उसे इमरजेंसी में भेजा। जहां पर उसे डॉक्टरों ने देखा। नारायण का आरोप है कि स्ट्रेचर ब्वाय नहीं मिलने के कारण दिक्कत हुई।
कड़वे बोल.... हम मरीजों की परेशानी का समाधान करने नहीं आए
डॉक्टरों की ही चिंता-टीम के सदस्य डॉॅ. राजेंद्र गुप्ता से जब पूछा गया कि तो उन्होंने कहा कि हमारा काम डॉक्टरों के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर, वार्ड का डिजाइन, बैठने की व्यवस्था आदि देखना है। उनका काम यह बताना नहीं है कि मरीजों की परेशानी का समाधान कैसे हो।
यह भी कहा-
टीम में शामिल डॉॅ. वायएस राउत, डॉॅ. एपीएस बत्रा और डॉॅ. राजेंद्र गुप्ता ने डीन डॉॅ. एमसी सोनगरा से कहा कि अस्पताल पुराने डिजाइन काम बना हुआ है। वार्ड में स्पेस कम है। मरीजों के खड़े होने के लिए पर्याप्त इंतजाम नहीं है। हर जगह तोड़फोड़ का काम चल रहा है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Daughter to brain tumor Do not doctor
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top