Home »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Software Will Be Online For Transfer

सॉफ्टवेयर तैयार, तबादले के लिए ऑनलाइन होंगे आवेदन

Bhaskar News | May 19, 2017, 05:24 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
भोपाल.तबादला नीति को कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) ऑनलाइन ट्रांसफर पॉलिसी की दिशा में बढ़ गया है। इसके लिए एक सॉफ्टवेयर बनाया गया है, जिसके जरिए ही अब अावेदन होंगे। सॉफ्टवेयर मंजूरी के लिए मुख्य सचिव को भेजा गया है।
जीएडी इस बात की कोशिश कर रहा है कि अगले सप्ताह सभी विभागों के प्रमुखों की ट्रेनिंग कराई जा सके। ताकि बाद में वे कर्मचारियों और अधिकारियों को आवेदन करने का तरीका बता पाएंगे। जो लोग कम्प्यूटर फ्रेंडली नहीं हैं, उनके लिए विभागों के डीडीओ (आहरण वितरण अधिकारी) को अधिकृत किया जाएगा। यहां बता दें कि स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा आदि विभाग अपनी स्वयं की ट्रांसफर पॉलिसी बनाते हैं। ऐसे में यदि उन्हें भी सॉफ्टवेयर की जरूरत लगती है तो वे जीएडी के सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर सकेंगे। कोष एवं लेखा शाखा ने एमपी ऑनलाइन की मदद से यह सॉफ्टवेयर बनाया गया है। सीएस की मंजूरी के बाद अनुमोदन के लिए सॉफ्टवेयर को मुख्यमंत्री सचिवालय भी भेजा जा सकता है।
ऐसे करेगा काम
मप्र सरकार में हर कर्मचारी-अधिकारी का एक कोड होता है। ट्रांसफर के लिए कर्मचारी सबसे पहले सॉफ्टवेयर में कोड डालेगा। इससे पेज ओपन होगा। इसके बाद वह अपने विभाग में जाकर अपनी जानकारी के साथ उस स्थान, तहसील, जिले आदि का जिक्र करेगा, जहां उसे जाना है। यह अनिवार्य होगा। इसके बाद उसे दो विकल्प भी भरने होंगे। इसके बाद ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) बनेगा, जो कर्मचारी या अधिकारी के मोबाइल नंबर पर आएगा। इसका कंफर्मेशन होते ही आवेदन हो जाएगा।
योग्यता को प्राथमिकता मिलेगी
तबादला नीति में सरकार ने यह प्रावधान किया है कि योग्य व्यक्तियों को प्राथमिकता दी जाएगी। मसलन स्वेच्छा से होने वाले तबादलों की सबसे पहले सूची निकलेगी। इसके बाद प्रशासनिक आधार पर तबादला होंगे।
बीस फीसदी का फार्मूला ही
पूर्व की तबादला नीति के तहत ही इस बार 200 के कैडर तक 20 फीसदी तबादले की नीति बनाई गई है। यह सिर्फ प्रशासनिक आधार के तहत होने वाले ट्रांसफरों में पर ही मान्य होगा। यानी मंत्री, प्रभारी मंत्री या विभाग अयोग्य लोगों के तबादले करना चाहता है तो यह संख्या 200 पर 40 से अधिक नहीं होगी। दो सौ की संख्या के बाद जितने भी लोग होंगे, उनका दस फीसदी तक तबादला होगा। उदाहरण के लिए 250 का कैडर है तो 200 की संख्या तक बीस फीसदी और शेष 50 लोगों में से सिर्फ दस फीसदी के तबादले होंगे।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Software will be online for transfer
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top