Home »Madhya Pradesh »Bhopal »News » An Indian Monk, The Most Expensive Cars In The Convoy Were

एक भारतीय संन्यासी, जिसके काफिले में थीं दुनिया में सबसे अधिक और महंगी कारें

dainikbhaskar.com | Jan 19, 2013, 00:18 AM IST

भोपाल। वह संन्यास की नई अवधारणा लेकर लोगों के सामने आया, जिसे उच्च मध्यम वर्ग के लोगों ने हाथोंहाथ लिया। उसके अकाट्य तर्क और पाखंड को हिलाने वाले भाषणों की गूंज पूरी दुनिया में फैल गई।

सेक्स और आध्यात्म का अनूठा संगम दुनिया के लोगों को इतना भाया कि पुणे में उनके यहां इतनी भीड़ उमड़ती आम पुणेवासी बहुत परेशान थे। यह ऐसी भीड़ थी, जो वर्जनाओं को तोड़ जीने के लिए इस सेक्सगुरु की शरण में आती थी। पुणे के इस आध्यात्म की शॉप में नशा, सेक्स जैसी अवांछित गतिविधियों को लेकर प्रशासन दंडात्मक कार्रवाई के लिए दबाव बना रहा था।

बढ़ते तनाव और विरोध को देखते हुए ओशो और उनकी शिष्या शीला ने तय किया कि अब नया कम्यून अमेरिका में बनाया जाए और वहीं से अपने नए आध्यात्मिक दर्शन और जीवन शैली का प्रचार किया जाए। यहीं पहुंचकर वह दुनिया में सर्वाधिक महंगी और सबसे अधिक कारें रखने वाले संन्यासी के रूप में सामने आए।

अमेरिका में पहुंचने पर क्या हुआ आशो का मिशन, आगे जानने के लिए क्लिक कीजिए..

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: An Indian monk, the most expensive cars in the convoy were
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    Comment Now

    Most Commented

        More From News

          Trending Now

          Top