Home »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Country Want Justice And Important Changes

भास्कर मुद्दा : देश को इस गुस्से का अंजाम चाहिए

Dainik Bhaskar News | Dec 21, 2012, 01:21 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
भास्कर मुद्दा : देश को इस गुस्से का अंजाम चाहिए

नई दिल्ली/भोपाल/जयपुर/रायपुर/चंडीगढ़/रांची।दिल्ली की घटना पर भास्कर महाअभियान को आठ राज्यों का साथ मिला है। मध्यप्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, झारखंड, छत्तीसगढ़, दिल्ली और महाराष्ट्र ने महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों को लेकर गंभीरता दिखाई है। इन घटनाओं को रोकने के लिए सरकारी तंत्र और पुलिस में विभिन्न स्तरों पर विचार और प्रक्रिया शुरू कर दी है। दिल्ली में पीसीआर वैन की गश्त बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही तीन नई वुमन हेल्पलाइन बनाई गई हैं। ऊंची इमारतों पर हाई रेजोल्यूशन के कैमरे लगाने के निर्देश दिए गए हैं। कानून को सख्त बनाने के लिए मसौदा बनाने की कवायद शुरू की गई है।

राजस्थान में स्कूल-कॉलेजों के बाहर पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे। सरकारी बसों में सशस्त्र गार्ड को तैनात किया जाएगा। मध्यप्रदेश में महानगरों में आईजी के नेतृत्व में महिला सेल बनाए गए हैं। महिलाओं के अपराधों को रोकने के लिए एडीजीपी के नेतृत्व में अलग से सेल बनाया है। हरियाणा में महिलाओं के विरुद्ध अपराध रोकने के लिए एडीजीपी रैंक के अधिकारी को नियुक्त किया गया है। पंजाब में तीन हजार महिलाओं की भर्ती की गई है। वहीं, छत्तीसगढ़ में सरकार ने सादे ड्रेस में पुलिसकर्मियों को प्रमुख चौराहों और बाजारों में तैनात करने के निर्देश दिए हैं। झारखंड में जिन जिलों में छेडख़ानी रोकने के लिए सेल हैं, उन्हें सक्रिय किया जाएगा। उधर, महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र से दुष्कर्म संबंधी कानून को सख्त बनाने की मांग की है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
DBPL T20
Web Title: country want justice and important changes
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top