Home »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Cow Milk Is Benefacial For Health

गाय के दूध से लकवा और चांदी के तार से अस्थमा का इलाज

Dainik Bhaskar News | Dec 10, 2012, 04:28 IST

  • भोपाल। गाय के बछड़े के जन्म से छह घंटे बाद तक का दूध (चीका) पीने से कोई लकवाग्रस्त व्यक्ति ठीक हो सकता है। वहीं, दमा पीड़ित मरीज के क ान में चांदी का तार पहनाने से श्वास रोग ठीक होता है। इतना ही नहीं, ब्राrाी का घी सुबह-शाम खाने से व्यक्ति की याददाश्त बढ़ती है। यह दावे पांचवें विश्व आयुर्वेद सम्मेलन की क्लीनिकल जोन में मरीजों का इलाज कर रहे आयुर्वेदाचार्यो ने किए हैं।
    क्लीनिकल जोन में रविवार को विभिन्न बीमारियों के तीन हजार से ज्यादा मरीजों का इलाज किया गया। यहां सबसे ज्यादा मरीज दमा, डिप्रेशन, हृदय रोग और शारीरिक कमजोरी के पहुंचे। सभी को एक हफ्ते की दवाएं मुफ्त दी गईं। अहमदनगर से यहां आए डॉ. लक्ष्मीकांत कोटिकर ने बताया कि गाय के चीके से इम्युनिटी सिस्टम मजबूत होता है।
    तस्वीरों के जरिए जानिए किस चीज के सेवन से बढ़ेगी याददाश्त...
  • इस समयावधि के दूध का सेवन करने से लकवा, हृदय रोग जैसी गंभीर बीमारी ठीक हो जाती है। इस दूध में हृदय की कोरोनरी आर्टी और ब्रेन की नर्व को खोलने वाले रसायन होते हैं, जो ब्रेन की बंद हो चुकी नर्व को खोलती है। बकौल डॉ. लक्ष्मीकांत गाय के दूध की टेबलेट बाजार में सुवैद और रेम्यूजन नाम से बिकती हैं।

  • वैगस नर्व में छेद करने से ठीक होता है श्वास रोग
    सम्मेलन में मुजफ्फरनगर (उप्र) के डॉ. राज तायल ने बताया कि कान में चांदी का तार पहनने से दमा (श्वास रोग) ठीक हो जाता है। उन्होंने बताया कि व्यक्ति को दमा कान की वैगस नर्व में झटके (इंपल्स) आने के कारण होता है। डॉ. तायल का दावा है कि अगर कान के पिछले हिस्से से गुजरने वाली वैगस नर्व में छेद करके उसमें चांदी का तार पहना जाए, तो दमा ठीक हो जाता है। उन्होंने बताया कि चांदी का तार पहनने के बाद मरीज को श्वास कुठार रस 40 दिन तक पीना होता है, तभी रोग से पूरी तरह से राहत मिलती है। डॉ. तायल अब तक 6 हजार श्वास रोगियों का इस पद्धति से इलाज कर चुके हैं।
  • ब्राह्मी के घी से बढ़ती है याददाश्त
    आयुष क्लीनिकल जोन में मरीज का इलाज कर रहे डॉ. लक्ष्मीकांत कोटिकर ने बताया कि ब्राह्मी का घी खाने से व्यक्ति की याददाश्त बढ़ती है। इसके साथ अश्वगंधा का सेवन करने से मिर्गी और डिप्रेशन के मरीज को राहत मिलती है। उन्होंने बताया कि मिर्गी के मरीज अगर पंचकर्म कराने के साथ अश्वगंधा खाएं, तो मिर्गी रोग ठीक हो जाता है।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: cow milk is benefacial for health
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top