Home »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Do Not Give Wrong Information About Gas Connection

गैस कनेक्शन की गलत जानकारी दी तो केस, जा सकते हैं जेल

Dainik Bhaskar News | Dec 12, 2012, 05:26 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
गैस कनेक्शन की गलत जानकारी दी तो केस, जा सकते हैं जेल

भोपाल। दूसरा गैस कनेक्शन बचाने के लिए गलत जानकारी देने वालों के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी। इसमें 7 साल तक की सजा का प्रावधान है। दरअसल, सब्सिडी वाले सिलेंडरों की संख्या सीमित होने से एक से ज्यादा गैस कनेक्शन के दायरे में आ रहे उपभोक्ताओं ने अपने कनेक्शन बचाने के लिए बड़े पैमाने पर गलत शपथ पत्र दिए हैं। इसी के चलते केंद्र सरकार ने सीधे तेल कंपनियों को ही इस तरह के उपभोक्ताओं पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

मप्र में करीब 15 लाख एलपीजी कनेक्शनधारक एक से ज्यादा कनेक्शन के दायरे में आ रहे थे। इन सभी के गैस कनेक्शन ब्लॉक करने के बाद इन्हें नो योर कस्टमर (केवाईसी) फार्म भरने को कहा गया था। अब तक करीब 12 लाख से अधिक लोग केवाईसी भर चुके हैं। फार्म भरने की अंतिम तारीख 31 दिसंबर है। अनुमान है कि इस तारीख तक शेष 3 लाख ग्राहक भी केवाईसी फार्म भर देंगे।

एक से ज्यादा कनेक्शन के दायरे में आ रहे अधिकांश लोगों ने अपने कनेक्शन को बचाने के लिए एक ही कनेक्शन होने का शपथ पत्र दिया। इसके समर्थन में फर्जी किरायानामा और घर का बंटवारा होने जैसे दस्तावेज संलग्न किए हैं। एलपीजी डीलर के कर्मचारी जब दस्तावेजों के आधार पर सर्च करने घर पहुंचे तो कई जगह अलग तस्वीर सामने आई। एलपीजी डीलर्स कहते हैं करीब 96 फीसदी से अधिक लोगों ने एक से ज्यादा कनेक्शन को बचाने की कोशिश की। महज 3-4 फीसदी लोगों ने ही माना कि उनके पास एक से ज्यादा कनेक्शन हैं और अतिरिक्त कनेक्शन को सरेंडर किया।

अब यह होगा

पेट्रोलियम कंपनियां आवश्यक वस्तु अधिनियम की धारा 3 व 7 के तहत ग्राहक के खिलाफ स्वयं कार्रवाई करेंगी। दोषी पाए जाने पर अधिकतम सात वर्ष की सजा का प्रावधान है।

यह है व्यवस्था

जिला प्रशासन का खाद्य विभाग इस अधिनियम के तहत कार्रवाई करता है। लेकिन यह स्पॉट पर हो रहे घरेलू सिलेंडर का दुरुपयोग और डीलर्स द्वारा की जाने वाली कालाबाजारी तक ही सीमित है।

सरकार चाहती है सब्सिडी का दुरुपयोग कर रहे लोगों के खिलाफ खुद तेल कंपनियां ही कार्रवाई करें। इस आशय का नोटिफिकेशन आ चुका है। सभी डीलर्स को इसकी जानकारी दे दी गई है। उनकी सर्च रिपोर्ट के आधार पर ही गलत जानकारी देने वालों पर कार्रवाई होगी।
- पीसी काटकर, एरिया मैनेजर (एलपीजी), इंडेन गैस (मप्र)

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: do not give wrong information about gas connection
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top