Home »Madhya Pradesh »Ratlam Zila »Garoth » बीएमओ से जुड़े काम के लिए अब नहीं जाना पड़ेगा मेलखेड़ा

बीएमओ से जुड़े काम के लिए अब नहीं जाना पड़ेगा मेलखेड़ा

Bhaskar News Network | Oct 19, 2016, 02:35 AM IST

स्वास्थ्य विभाग ने मेलखेड़ा स्थिति खंड चिकित्सा कार्यालय को अब गरोठ में शिफ्ट कर दिया है। यहां यह मेटरनिटी भवन में स्थापित किया गया है। इससे मुख्यालय में एक डॉक्टर की मौजूदगी बढ़ जाएगी और जरूरत पड़ने पर मरीजों को सुविधा मिल सकेगी। अब मुख्यालय से लोगों को सरकारी योजनाओं से जुड़े दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करना के लिए चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। मेलखेड़ा में अब सिर्फ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ही रहेगा।

दो दिन से खंड चिकित्सा कार्यालय की शिफ्टिंग का काम चल रहा है। सरकारी अस्पताल के पुराने मेटरनिटी वार्ड में मुख्यालय कार्यालय शिफ्ट किया गया है। अस्पताल का नया भवन बनने से यहां पर्याप्त जगह हो गई है। इससे खंड चिकित्सा कार्यालय यहां लाया गया है। इससे ग्रीन कार्ड बनवाने और राज्य बीमारी सहायता योजना का लाभ लेने की खातिर बीएमओ के हस्ताक्षर करवाने भटकना नहीं पड़ेगा।

एक डॉक्टर और मिला गरोठ को

मुख्यालय को बीएमओ के रूप में डॉ. आर. सी. कुकड़े पदस्थ हैं। अभी वे ज्यादातर समय मेलखेड़ा में ही रहते थे। गरोठ में रहने से वे जरूरत पड़ने पर मरीजों का उपचार भी कर सकेंगे।

सभी जगह तहसील मुख्यालय पर ही स्थित हैं कार्यालय

सभी जगह पर तहसील मुख्यालय पर ही खंड चिकित्सा हैं। सिर्फ इसी तहसील में ऐसा नहीं था। शासन के निर्देशों के आधार पर कार्यालय मेलखेड़ा से तहसील मुख्यालय पर शिफ्ट किया है। इससे लोगों को कई मामलों में सहूलियत होगी। डॉ. आर. सी. कुकड़े, खंड चिकित्सा अधिकारी

खंड चिकित्सा कार्यालय मुख्यालय पर नहीं होने से पहले लोगों को छोटे-छोटे काम के लिए मेलखेड़ा जाना पड़ता था। खासकर ग्रीन कार्ड बनवाने और राज्य बीमारी सहायता योजना का लाभ लेने में ज्यादा दिक्कत होती थी। चूंकि ज्यादातर दवाएं ब्लॉक मुख्यालय पर ही रहती हैं, अत: गरोठ में जरूरत पड़ने पर वहां से मंगवाना पड़ती थीं। फिर अस्पताल का सारा रिकॉर्ड भी यहां रखने में सहूलियत होगी। टीकाकरण जैसे राष्ट्रीय कार्यक्रमों का संचालन भी आसन होगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: बीएमओ से जुड़े काम के लिए अब नहीं जाना पड़ेगा मेलखेड़ा
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Garoth

      Trending Now

      Top