Home »Madhya Pradesh »Sagar» प्रसव के दौरान बच्ची की मौत के मामले की निष्पक्ष जांच हो

प्रसव के दौरान बच्ची की मौत के मामले की निष्पक्ष जांच हो

Bhaskar News Network | Mar 21, 2017, 05:05 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
जिला अस्पताल में 17 मार्च को प्रसव के दौरान नवजात शिशु की गर्भ में ही मौत हो जाने के मामले में पीड़ित परिवार ने कुशवाहा महासभा के तत्वावधान में निष्पक्ष जांच कराने की मांग को लेकर कलेक्टर विकास नरवाल को ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में लापरवाही बरतने वाले जिला अस्पताल के डॉक्टरों पर कार्रवाई करने की मांग की गई है।

ज्ञापन में कहा गया है कि राजीवनगर वार्ड निवासी डालचंद पिता नाथूराम पटेल अपनी प|ी रिंकी को प्रसव पीड़ा होने पर 17 मार्च को जिला अस्पताल ले गया था। दोपहर करीब 2.20 बजे उसने रिंकी को भर्ती कराकर नर्सिंग स्टाफ को 4 जनवरी और 16 मार्च को कराई गई सोनोग्राफी रिपोर्ट दिखाई थी।

बच्चा गर्भ में उल्टा होने के बाद भी रिश्वत में मांगी गई रकम नहीं चुका पाने के कारण स्टाफ ने ऑपरेशन के बजाय नार्मल डिलेवरी करा दी। शिशु को समय पर आक्सीजन नहीं मिलने के कारण जन्म के तुरंत बाद उसकी मौत हो गई। घटना के लिए जिला अस्पताल का स्टाफ जिम्मेदार है। लापरवाह स्टाफ पर कार्रवाई की जाए।

ज्ञापन सौंपने वालों में पीड़ितों के अलावा महासभा के कुंदन पटेल, लकी पटेल, संतोष पटेल, दीपक राय, पिंटू राय, राम विश्वकर्मा, विकास नामदेव सहित वार्ड के लोग और महासभा के सदस्य शामिल हैं।

सागर. कलेक्टोरेट में पीड़ित महिला लोगों के साथ ज्ञापन देने पहुंची। इनसेट : नारेबाजी करते लोग।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: प्रसव के दौरान बच्ची की मौत के मामले की निष्पक्ष जांच हो
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Sagar

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top