Home »National »In Depth » Jewellery/Gold Legally Inherited & Acquired Out Of Explained Sources, Is Also Not Chargeable To Tax: Finance Ministry

घोषित आय से खरीदे गोल्ड और पुश्तैनी ज्वैलरी पर कोई टैक्स नहीं, शादीशुदा महिलाएं 50 तोला सोना रखती हैं तो जब्त नहीं होगा

dainikbhaskar.com | Dec 03, 2016, 13:03 PM IST

नई दिल्ली.इनकम टैक्स कानून में हुए बदलाव पुश्तैनी गोल्ड या सोने की ऐसी ज्वैलरी पर लागू नहीं होंगे जो घोषित आय या खेती से हुई आमदनी से खरीदी गई है। फाइनेंस मिनिस्ट्री ने गुरुवार को इस बारे में स्थिति साफ की। दरअसल, इस तरह की अफवाहें थीं कि लोकसभा में पास हुए नए आईटी बिल के बाद जांच के दायरे में घर में रखा सोना भी आ जाएगा। सरकार ने यह भी साफ कर दिया है कि अगर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट आपके घर पर सर्च ऑपेरशन चलाता है तो हर शादीशुदा महिला के पास मौजूद 50 तोला सोना और गैर-शादीशुदा महिला का 25 तोला सोना जब्त नहीं किया जा सकेगा। क्या है सोना रखने की लिमिट और सरकार ने क्यों दिया बयान...
1# सरकार को क्यों देनी पड़ी सफाई?
- लोकसभा में टैक्सेशन लॉ सेकंड अमेंडमेंट बिल पास हुआ है। इसमें कहा गया है कि अगर तलाशी के दौरान इनकम टैक्स अफसरों को अघोषित संपत्ति का पता चलता है तो उस पर 85% तक टैक्स लग सकता है। यह बिल अभी राज्यसभा में पास होना बाकी है।
- इसी के बाद से कहा जा रहा था कि घर में रखा सोना भी इसी कानून के दायरे में आएगा और छापे के दौरान वह जब्त किया जा सकता है।
- सरकार ने इन अफवाहों को खारिज करने के लिए सफाई दी।
2# अापके पास इस तरह का गोल्ड है तो चिंता की जरूरत नहीं है
- अगर आपके पास घाेषित आमदनी से खरीदा सोना या ज्वैलरी है।
- अगर खेती से मिली छूट के दायरे में आने वाली आमदनी से खरीदा सोना या ज्वैलरी है।
- अगर जायज तरीके से मिला पुश्तैनी सोना या ज्वैलरी है।
- अगर घरेलू बचत से आपने सोना या ज्वैलरी खरीदा है।
- सोना ऐसी किसी आमदनी से खरीदा गया है, जिसका आप हिसाब देने या सोर्स बताने की स्थिति में हैं।
- सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने कहा है कि ऊपर की सभी स्थितियों में अगर आपके पास सोना या ज्वैलरी है तो वह न तो मौजूदा कानून के तहत टैक्सेबल है और न ही वह नए कानून के तहत टैक्सेबल होगा।
3# अगर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने तलाशी ली या छापा मारा तो?
- शादीशुदा महिलाओं के पास रखा 50 तोला सोना जब्त नहीं होगा।
- गैर-शादीशुदा महिलाओं के पास अगर 25 तोला सोना है तो उन्हें फिक्र करने की जरूरत नहीं है।
- परिवार के किसी पुरुष के पास 10 तोला सोना है, तो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट उसे जब्त नहीं कर सकेगा।
- इसके बाद भी अगर आपके पास ऊपर दी गई लिमिट से ज्यादा सोना है, वह जायज और घोषित आमदनी से खरीदा गया है और आप उसके लिए दस्तावेज पेश कर सकते हैं तो भी आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है।
4# क्या घर में सोना रखने की ये लिमिट कोई नया प्रोविजन है?
- शादीशुदा, गैर-शादीशुदा और पुरुषों द्वारा तय लिमिट में सोना रखने का यह नियम पुराना है।
- इनकम टैक्स की धारा 132 के तहत ही सोना रखने की वह लिमिट बताई गई है, जिसे इनकम टैक्स डिपार्टमेंट जब्त नहीं कर सकता।
5# इनकम टैक्स डिपार्टमेंट कब छापा मारता है?
- जब भी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के असेसिंग अफसर को यह लगता है कि कोई शख्स उसके पास मौजूद संपत्तियों को जायज और घोषित बताते हुए दस्तावेज पेश करने की स्थिति में नहीं है, तब छापे या सर्च ऑपरेशन की कार्रवाई के बारे में सोचा जाता है।
- 2015-16 में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने देशभर में 445 छापे मारे। इसमें 11,066 करोड़ रुपए की अघोषित संपत्ति सामने आई। 712.68 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई।
नोटबंदी के बाद सोने से जुड़े ये बड़े घटनाक्रम हुए...
1. नोटबंदी के बाद जमकर खरीदा गया सोना

- 500-1000 के नोट बंद करने का एलान होने के बाद बुधवार को मुंबई में 75 करोड़ रुपए कीमत का करीब ढाई क्विंटल सोना कुछ ही घंटों में बिक गया।
- ज्वेलर्स पुराने नोट के बदले 20 से 65 फीसदी तक ज्यादा कीमत पर सोना बेच रहे थे।
- इंदौर जैसे शहरों में कहीं 45 तो कहीं 80 हजार रुपए तोला सोना बिकने की खबर आई।
2. 25 शहरों में 250 किलो सोना बिका था
- देश के 25 शहरों में नोट के बदले 250 किलो सोना बेच देने वाले 600 ज्वेलर्स से डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सेंट्रल एक्साइज इंटेलिजेंस ने नोटिस भेजकर जवाब मांगा था।
- इसमें 7 नवंबर के बाद से 4 दिन के अंदर बेचे गए सोने की डिटेल मांगी गई थी।
- वहीं, यह भी माना गया था कि नोटबंदी के एलान के बाद 8 नवंबर की रात से 12 नवंबर के बीच चार दिन में 2500 किलो सोना देशभर में खरीदा गया।
3. बैंक लॉकर्स सील करने की खबरें आईं
- यह अफवाह थी कि सरकार कालाधन पर अंकुश लगाने के लिए अब बैंक लॉकर्स सील करने जा रही है। इसके साथ ही सोना, हीरे और कीमती ज्वैलरी भी जब्त किए जाने की भी बातें हो रही थीं।
- इस पर सरकार को जवाब देना पड़ा था कि बैंक लॉकर्स फ्रीज करने और ज्वैलरी जब्त करने का सरकार के पास कोई प्रपोजल नहीं है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Jewellery/gold legally inherited & acquired out of explained sources, is also not chargeable to tax: Finance Ministry
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From In Depth

      Trending Now

      Top