Home »National »Latest News »National» Indian Americans Launch White House Petition To Save Kulbhushan Jadhav

ट्रम्प से कुलभूषण को बचाने की अपील, इंडो-अमेरिकंस ने पिटीशन फाइल की

DainikBhaskar.com | Apr 21, 2017, 19:03 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

यूएस में इंडो-अमेरिकन कम्युनिटी ने ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन से कुलभूषण जाधव को बचाने की अपील की। (फाइल)

वॉशिंगटन. यहां इंडियन-अमेरिकंस कम्युनिटी ने ट्रम्प से कुलभूषण जाधव को बचाने की अपील की है। कम्युनिटी ने व्हाइट हाउस में पिटीशन दाखिल की है और ट्रम्प से जाधव के मामले में दखल देने की मांग की है। बता दें कि पाक आर्मी ने भारतीय नेवी के पूर्व अफसर कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाई है। पाक ने आरोप लगाया था कि जाधव भारतीय जासूस है। इंडो-अमेरिकन कम्युनिटी ने कहा- जाधव के खिलाफ आरोप झूठे...
- व्हाइट हाउस की वेबसाइट पर वी द पीपुल सेक्शन में पोस्ट की गई पिटीशन में कहा गया कि कुलभूषण जाधव पर भारत के लिए जासूसी करने के जो आरोप लगाए गए हैं, वो झूठे और मनगढंत हैं।
- "काउंसलर को कुलभूषण जाधव से नहीं मिलने दिया गया। ये जाहिर करता है कि जिन आरोपों के आधार पर कुलभूषण को फांसी की सजा दी गई, वो झूठे और मनगढंत हैं। इसे देखते हुए एप्रोप्रिएट और केपेबल अथॉरिटी से रिक्वेस्ट करते हैं कि इस मामले में दखल दें और ये निश्चित करें कि कुलभूषण को ऐसे गुनाह की सजा न मिले, जो उसने किया ही नहीं है।"
एक लाख लोगों के सिग्नेचर जरूरी
- बता दें कि इस पिटीशन पर 14 मई से पहले एक लाख लोगों के सिग्नेचर जरूरी हैं, जिसके बाद ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन को इस पिटीशन की ओर ध्यान देना होगा।
क्या है मामला?
- पाक आर्मी ने वहां की जेल में बंद भारतीय अफसर कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाई है। पाक ने आरोप लगाया था कि जाधव भारतीय जासूस है।
- पाक मिलिट्री के अफसर मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया था कि पाकिस्तान आर्मी एक्ट के तहत जाधव का फील्ड जनरल कोर्ट मार्शल (FGCM) किया गया और फांसी की सजा सुनाई गई।
सुषमा ने कहा था- फांसी देने का अंजाम सोच ले PAK
- फांसी की सजा के एलान के बाद सुषमा स्वराज ने संसद में कहा था, "कुलभूषण भारत का बेटा है। उसे हम हर कीमत पर बचाएंगे और उसके लिए आउट ऑफ द वे जाकर कोशिश करेंगे। पाक इस दिशा में अगर आगे बढ़कर जाधव को फांसी देता है तो उसे इसके अंजाम के बारे में सोच लेना चाहिए।"
जाधव के साथ अन्याय नहीं होगा- राजनाथ
- राजनाथ सिंह ने कहा था, "कुलभूषण के पास वैलिड भारतीय वीजा मिला था। ऐसी स्थिति में वह जासूस कैसे हो सकता है? उसे बचाने के लिए जो बन पड़ेगा, वो सरकार करेगी। मैं आश्वस्त करता हूं कि उसके साथ अन्याय नहीं होगा। जाधव बहुत पहले ही नेवी छोड़ चुका था। उसका बिजनेस था। इसी सिलसिले में वह ईरान के चाबहार आया-जाया करता था। वहां से उसे अगवा किया और बलूचिस्तान से गिरफ्तार किया हुआ दिखाया गया।"
सजा दी गई तो ये सोचा-समझा कत्ल होगा
- भारत ने पाकिस्तान के हाई कमिश्नर अब्दुल बासित को तलब किया था। उन्हें डिमार्शे (डिप्लोमैटिक डिमांड लेटर) सौंपा गया। इसमें कहा गया- अगर सजा पर अमल होता है तो ये कानून के बुनियादी नियमों के खिलाफ होगा। इसे सोचा-समझा कत्ल कहा जाएगा।
- डिमार्शे में आगे कहा गया- ये ध्यान रखा जाना चाहिए कि पाकिस्तान में इंडियन हाई कमीशन को ये बताने की जरूरत भी नहीं समझी गई कि कुलभूषण पर केस चल रहा है। भारत के लोग और सरकार इसे सोचा-समझा कत्ल ही मानेंगे। पाकिस्तान ने कहा कि कुलभूषण जाधव को सुनाई गई फांसी की सजा के खिलाफ 60 दिन के अंदर अपील की जा सकती है।
भारत ने ऑर्डर की कॉपी मांगी थी
- इस्लामाबाद में 14 अप्रैल को इंडिया के हाई कमिश्नर गौतम बम्बावले ने PAK फॉरेन सेक्रेटरी तहमीना जंजुआ से मुलाकात की थी।
- बम्बावले ने कहा था, "उन लोगों ने जाधव से मिलने की हमारी रिक्वेस्ट 13 बार ठुकराई। मैंने एक बार फिर फॉरेन सेक्रेटरी से रिक्वेस्ट की है कि हमें जाधव से मिलने दिया जाए, ताकि हम अपील कर सकें।"
- "हम निश्चित रूप से इस फैसले के खिलाफ अपील करेंगे। लेकिन, हम तब तक ऐसा नहीं कर सकते हैं, जब तक हम चार्जशीट और फैसले की कॉपी न देख लें। इसलिए मेरी पहली मांग है कि कॉपी दी जाए।"
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Indian Americans launch White House petition to save Kulbhushan Jadhav
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top