Home »National »Latest News »National » Panneerselvam Sasikala AIADMK Tamil Nadu

पन्नीरसेल्वम ने शशिकला को पार्टी से निकाला, कहा- उन्होंने जया से किया वादा तोड़ा

Dainikbhaskar.com | Feb 17, 2017, 19:31 IST

पन्नीरसेल्वम गुट की तरफ से जारी बयान में कहा गया- शशिकला को पार्टी की प्राइमरी मेंबरशिप से बर्खास्त किया जाता है।

चेन्नई.कुछ दिनों पहले तक तमिलनाडु के सीएम रहे और बाद में AIADMK से निकाले गए ओ. पन्नीरसेल्वम गुट ने अब पार्टी की जनरल सेक्रेटरी शशिकला नटराजन को पार्टी से निकाल दिया है। बता दें कि शशिकला बेहिसाब प्रॉपर्टी के मामले में जेल में हैं। जयललिता के निधन के बाद AIADMK में बड़ी फूट पड़ चुकी है। एक गुट पन्नीरसेल्वम के साथ है, जबकि दूसरा शशिकला नटराजन के साथ। इस बीच, नए सीएम पलानीसामी शनिवार को तमिलनाडु असेंबली में फ्लोर टेस्ट का सामना करेंगे। पन्नीरसेल्वम उनके खिलाफ हैं। वहीं, डीएमके ने भी साफ कर दिया है कि उसके विधायक नए सीएम के खिलाफ वोटिंग करेंगे।क्या है मामला...
- शुक्रवार दोपहर पन्नीरसेल्वम गुट के ई. मधुसूदन ने एक स्टेटमेंट जारी किया। इसमें कहा कि शशिकला ने जया से वादा किया था कि वो कभी सियासत या सरकार में शामिल नहीं होंगी। लेकिन जया के निधन के बाद उन्होंने वादा तोड़ दिया।
- मधुसूदन ने पार्टी वर्कर्स से कहा कि वो शशिकला से कोई रिश्ता ना रखें। खास बात ये है कि शशिकला को पार्टी से उनके प्रॉक्सी पलानीसामी के सीएम बनाए जाने के ठीक एक दिन बाद ही निकाला गया है। उन्हें असेंबली में बहुमत साबित करना है।
स्टेटमेंट में और क्या?
- पन्नीरसेल्वम गुट की तरफ से जारी बयान में कहा गया- "शशिकला को पार्टी की प्राइमरी मेंबरशिप से बर्खास्त किया जाता है। उन्होंने पार्टी के प्रिंसिपल्स और आइडियल्स के खिलाफ काम किया है। उन्होंने अम्मा (जयललिता) से किए वादे तोड़े हैं। उनके खिलाफ क्रिमिनल केसेस भी हैं। उन्होंने पार्टी को तोड़ा है।"
- बता दें कि मधुसूदन AIADMK के काफी पुराने और बड़े नेता हैं। उन्होंने पन्नीरसेल्वम का खुला समर्थन किया था। इसके बाद शशिकला ने उन्हें पार्टी से निकाल दिया था। शशिकला ने मधुसूदन की जगह केए. सेंगोटियन को पार्टी अध्यक्ष बना दिया था।
- इस तरह, पार्टी में अब दो गुट हो गए हैं।
शनिवार को बहुमत साबित करेंगे पलानीसामी
- AIADMK में पिछले कुछ दिनों से चल रही उठापटक गुरुवार को खत्म हो गई। गवर्नर सी. विद्यासागर राव ने शशिकला खेमे के पलानीसामी को दो महीने के भीतर राज्य के तीसरे सीएम के रूप में शपथ दिलाई।
- पलानी के साथ 30 मंत्रियों ने भी शपथ ली। गवर्नर ने फ्लोर टेस्ट के लिए 15 दिन का वक्त दिया। पलानी इसी शनिवार विधानसभा में बहुमत साबित करेंगे।
तमिलनाडु असेंबली में अभी क्या है स्थिति?
- विधानसभा में कुल 234 सीटें हैं। AIADMK के पास 135 और डीएमके पास 89 सीटें हैं।
- जयललिता के निधन के बाद उनकी सीट खाली है। कांग्रेस के पास 8 सीट और मुस्लिम लीग के पास एक सीट है।
- शशिकला के पास 119 विधायकों का सपोर्ट था। उनके जेल जाने के बाद पलानीसामी ने 124 विधायकों के सपोर्ट का दावा किया।
- पन्नीसेल्वम के पास 11 विधायक ही हैं। मौजूदा स्थिति के मुताबिक वे सीएम बनते नहीं दिख रहे।
- हालांकि, पलानीसामी सीएम बनते हैं तो पन्नीरसेल्वम विधानसभा में फ्लोर टेस्ट के दौरान उनका खेल बिगाड़ सकते हैं।
- राज्य में सरकार बनाने और बचाए रखने के लिए कम से कम 118 विधायकों का सपोर्ट जरूरी है।
कौन हैं पलानीसामी
- पलानीसामी का जन्म 2 मार्च, 1954 में हुआ। वे कोंगु रीजन में सलेम जिले इदापडी इलाके से हैं।
- इदापडी सीट से वे 1989, 1991, 2011 और 2016 में विधायक चुने गए।
- जयललिता सरकार में मंत्री थे। उन्हें मिनिस्टर फॉर हाईवेज एंड माइनर पोर्ट्स की जिम्मेदारी मिली थी।
- जब जयललिता को दिल का दौरा पड़ा था और वे जब हॉस्पिटल में एडमिट थीं, तब पन्नीरसेल्वम के अलावा पलानीसामी का नाम भी आया था। लेकिन बाद में पन्नीरसेल्वम को सीएम बनाया गया।
- पलानीसामी गौंडर कम्युनिटी से हैं। इस बैकवर्ड जाति को थेवर कम्युनिटी के साथ AIADMK का सबसे बड़ा वोट बैंक माना जाता है।
- बता दें कि शशिकला थेवर कम्युनिटी से हैं।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Panneerselvam Sasikala AIADMK Tamil Nadu
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top