Home »National »Latest News »National » Parliament Updates: Sushma Swaraj In Lok Sabha On Attack Indians In U.S

हमारी सरकार कभी चुप्पी नहीं साधेगी: US में भारतीयों पर हमले के बारे में बोलीं सुषमा

DainikBhaskar.com | Mar 15, 2017, 16:27 IST

किडनी ट्रांसप्लान्ट के बाद सुषमा पहली बार बुधवार को संसद में बोल रही थीं।

नई दिल्ली.अपने किडनी ट्रांसप्लान्ट के बाद सुषमा स्वराज ने गुरुवार को पहली बार लोकसभा में बयान दिया। यूएस में भारतीयों पर हमले की घटनाएं बढ़ने के बारे में सुषमा ने कहा, ''मैं स्वास्थ्य लाभ जरूर ले रही थी, लेकिन मैं घटनाओं पर नजर रखे हुए थी। अगर विदेशों में भारतीय संकट में हों तो हमारी सरकार न कभी चुप बैठी है, न कभी चुप्पी साधेगी। प्रधानमंत्रीजी भी चुनाव प्रचार में व्यस्त थे, लेकिन वे हर दिन पूछते थे कि विदेशों में रह रहे भारतीयों के लिए क्या कदम उठाए जा रहे हैं।'' और क्या बोलीं सुषमा...
- दरअसल, सुषमा स्वराज अमेरिका के कंसास में पिछले महीने हुई गोलीबारी की घटना का जिक्र कर रही थीं। इस हमले में एक भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास की मौत हो गई थी। जबकि दूसरा भारतीय आलोक मदसानी घायल हो गया था।
- सुषमा ने अपने बयान में कहा, ''इन घटनाओं पर अमेरिकी राजनीतिक नेतृत्व, उनकी तुरंत प्रतिक्रिया और समन्वय ने हमें विश्वास दिलाया है कि भारतीयों का अहित नहीं होगा। प्रेसिडेंट डोनाल्ट ट्रम्प ने खुद इन घटनाओं की निंदा की है। वहां जो हिंसा हुई, वह मुट्ठीभर लोगों का काम है। वहीं, इयान ग्रिलट भी अमेरिकी नागरिक ही हैं, जो दो भारतीयों की जान बचाने के लिए हिम्मत दिखाते हुए आगे आए।''
- सुषमा यहां उस शख्स का जिक्र कर रही थीं, जिसने कंसास के एक बार में शूटिंग के दौरान श्रीनिवास और आलोक की मदद करने की कोशिश की थी। इस कोशिश में इयान खुद घायल हो गए थे।
सबसे बड़ी प्रायोरिटी भारतीय ही हैं
- सुषमा ने कहा, ''विदेशों में बसे भारतीयों की सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। हम अमेरिका से लगातार बात कर रहे हैं। हमारे दूतावास और कॉन्स्युलेट संपर्क बनाए हुए हैं। हम विदेशों में रहने वाले भारतीयों को प्रभावित करने वाली किसी भी गतिविधि को लेकर सर्तक हैं।''
- ''जिस दिन सदन में जब इस मुद्दे पर चर्चा हो रही थी, मैं टीवी के सामने बैठकर उस चर्चा को सुन रही थी। (कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन) खड़गेजी ने एक आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि सरकार चुप्पी साधे हुए है। अंत में कहा कि सरकार चुप्पी क्यों साधे हुए है।''
- ''मैं खड़गेजी और पूरे सदन को बताना चाहूंगी कि कोई भारतीय विदेश में संकट में हो और हम चुप्पी साधे रखें, ये संभव ही नहीं है। यह हमारी कार्यशैली ही नहीं है। पूरा सदन और पूरा देश जानता है कि विदेश में कोई भी भारतीय संकट में आता है, हम 24 घंटे में उसकी पीड़ा का निराकरण करने का प्रयत्न करते हैं। सरकार कभी चुप्पी नहीं साधेगी।''
- ''जब ये घटना हुई थी, तब प्रधानमंत्री चुनाव प्रचार में थे, लेकिन वे हर दिन पूछते थे कि विदेश मंत्रालय क्या कदम उठा रहा है। मैं स्वास्थ्य लाभ ले रही थी। मेरा रिकवरी पीरियड था। लेकिन मैं व्यक्तिगत रूप से नजर रखे हुए थी।''
श्रीनिवासन के परिवार लोग मुझे शुक्रिया कहने के लिए मिलना चाहते थे
- सुषमा ने कहा, ''कंसास की घटना के दिन ही मैंने श्रीनिवासन के पिता, पत्नी, छोटे भाई से बात की। मैंने जब फोन किया तो श्रीनिवास की पत्नी सुनयना सोई हुई थीं। मैंने उनके परिवार से कहा कि उन्हें जगाएं नहीं। बाद में सुनयना ने खुद भारतीय राजदूत को लिखे लेटर में हमारे प्रयासों की तारीफ की।''
- ''श्रीनिवास के परिवार के पांच लोगों ने मुझसे मिलने का वक्त सिर्फ इसलिए मांगा था कि वे मेरा शुक्रिया अदा करना चाहते थे।''
- ''यही नहीं, जब अमेरिका में एक सिख गोलीबारी में घायल हुआ और हमने मदद पहुंचाई तो उसके पिता ने मुझे फोन कर कहा कि पुत्तरजी, मेरा पुत्तर ठीक है। मैं कदी किसी मिनिस्टर नू ऐ नई सुनया कि वो गल करदां सीदा... पर तुस्सी गल करदां। (मैंने पहले ऐसा कभी नहीं सुना कि कोई मंत्री इस तरह से सीधे बात करता है)''
- सुषमा 3 मार्च को अमेरिका में दीप राय नाम के अमेरिकी सिख को गोली मारे जाने की घटना का जिक्र कर रही थीं। गोली राय की बांह में लगी थी। दीप को गोली मारने वाले शख्स ने चिल्लाकर कहा था कि अपने देश वापस चले जाओ।
अमेरिका की ट्रैवल एडवाइजरी पर क्या बोलीं सुषमा
- सुषमा ने कहा, ''इस सदन में अमेरिका की तरफ से जारी एडवाइजरी का भी जिक्र हुआ था। मैं बताना चाहूंगी कि भारत के खिलाफ कोई एडवाइजरी जारी नहीं हुई थी। भारत के विशेष संदर्भ में कुछ बातें आती हैं, जो इंटेलिजेंस इनपुट पर बेस्ड होती हैं। इस तरह के यात्रा परामर्श जारी करना आम बात है।''
स्पीकर ने की तारीफ
- सुषमा के बयान के बाद लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा, ''बहुत दिनों बाद आपकी दमदार आवाज इस सदन में गूंजी है। पूरे सदन को अच्छा लगा है।''
- बता दें कि सुषमा का दिसंबर में किडनी ट्रांसप्लान्ट हुआ है। इसके बाद लोकसभा में उन्होंने गुरुवार को पहली बार बयान दिया।
- लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी कहा कि आप कई दिन बाद लोकसभा में आई हैं। हम सभी स्वागत करते हैं आपका। भगवान लंबी उम्र आपको दे और आप देश की सेवा करती रहें।
कंसास में क्या हुआ था?
- श्रीनिवास और आलोक मदसानी ओलाथे में जीपीएस बनाने वाली कंपनी गार्मिन के एविएशन विंग में काम करते थे। 22 फरवरी की रात वे ओलाथे के ऑस्टिन बार एंड ग्रिल बार में थे। तभी यूएस नेवी से रिटायर्ड एडम पुरिन्टन (51) उनसे उलझ गया।
- एडम रेसिस्ट कमेंट करने लगा। उसने दोनों को आतंकी कहा। बोला कि मेरे देश से निकल जाओ। तुम मेरे देश में क्यों आए हो? तुम हमसे बेहतर कैसे हो?
- बहस के बाद एडम को बार से निकाल दिया गया। थोड़ी ही देर में वह गन लेकर लौटा और दोनों पर गोली चला दी। हमले में श्रीनिवास की मौत हो गई थी। आलोक मदसानी जख्मी हुए, फिलहाल वे ठीक हैं। बीच-बचाव में इयान ग्रिलट को गोलियां लगी थीं।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Parliament Updates: Sushma Swaraj In Lok Sabha On Attack Indians In U.S
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top