Home »National »Latest News »National» Liquor Baron Vijay Mallya Live In London

माल्या को UK से लाने की इजाजत मिली, मनी लॉन्ड्रिंग केस में करना पड़ेगा जांच का सामना

dainikbhaskar.com | Feb 17, 2017, 20:03 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

विजय माल्या को इंडिया-यूके म्यूचुअल लीगल असिस्टेंस ट्रीटी (MLAT) पर अमल के जरिए भारत लाया जाएगा। - फाइल

मुंबई. भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की मुश्किल बढ़ सकती है। एक स्पेशल कोर्ट ने शुक्रवार को इन्फोर्समेंट डायरेक्ट्रेट (ईडी) को उन्हें ब्रिटेन से लाने की इजाजत दे दी। माल्या को इंडिया-यूके म्यूचुअल लीगल असिस्टेंस ट्रीटी (MLAT) पर अमल के जरिए भारत लाया जाएगा। उन्हें अब देश में मनी लॉन्ड्रिंग केस में जांच का सामना करना पड़ेगा। ईडी ने की थी रिक्वेस्ट...
- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, प्रिवेन्शन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत मामलों की सुनवाई करने वाली स्पेशल कोर्ट ने ईडी की रिक्वेस्ट को पिछले हफ्ते मंजूरी दी थी।
- ईडी ने इंडिया-यूके ट्रीटी के तहत कोर्ट से इस मामले में ऑर्डर जारी करने की अपील की थी।
- ईडी के ऑफिशियल्स ने बताया, "एजेंसी ने जांच करने के बाद क्रिमिनल केस में माल्या की प्रॉपर्टी की कुर्की की मांग की थी। इसी आधार पर कोर्ट ने हमारी अपील को मंजूरी दी है।"
- "माल्या और उनकी बंद हो चुकी किंगफिशर एयरलाइंस (KFA) पर आईडीबीआई बैंक के साथ करीब 900 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का आरोप है।"
ED ने होम मिनिस्ट्री को भेजा ऑर्डर
- ईडी के ऑफिशियल्स ने बताया, "हमने कोर्ट की तरफ से जारी ऑर्डर को अब होम मिनिस्ट्री को भेज दिया है, ताकि ब्रिटेन में उसके समकक्षों की मदद से आदेश पर आगे तामील हो सके।"
- कोर्ट के इस ऑर्डर के बाद अब नजर विदेश मंत्रालय पर है, जिसके एक्टिव होते ही माल्या की मुश्किल बढ़ सकती है।
- विदेश मंत्रालय ने इसी आपराधिक मामले में सीबीआई जांच के आधार पर हाल ही में यूके से माल्या के प्रत्यर्पण (Extradition) की अपील की थी।
- बता दें कि प्रिवेन्शन ऑफ करप्शन एक्ट और इससे जुड़े आईपीसी के सेक्शंस के तहत सीबीआई भी इस लोन डिफॉल्ट मामले की जांच कर रही है।
क्या है MLAT?
- भारत और ब्रिटेन के बीच 1992 में म्यूचुअल लीगल असिस्टेंस ट्रीटी (MLAT) हुई थी।
- इसके तहत दोनों देशों के बीच आपराधिक मामलों में आरोपी शख्स को ट्रांसफर किया जा सकता है।
- इसमें सबूत देने और जांच में सहयोग करने के मकसद से आरोपी की कस्टडी भी शामिल है।
- माना जा रहा है कि ईडी ने इसी पहलू को लीगल टूल के तौर पर इस्तेमाल किया है, जिसके आधार पर माल्या के प्रत्यर्पण की मांग की जाएगी।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: liquor baron Vijay Mallya live in London
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top