Home »National »Latest News »National » Urjit Patel Speak In Vibrant Gujarat Summit

हद से ज्यादा पेपर करंसी से बुराई पैदा होती है, यह लोगों में लालच पैदा करती है: जेटली ने वाइब्रेंट गुजरात समिट में कहा

dainikbhaskar.com | Jan 11, 2017, 16:09 IST

अरुण जेटली ने कहा- भारत को बोल्ड फैसलों की जरूरत है, अब टेबल साफ करने का वक्त आ गया है।

गांधीनगर. 8वीं वाइब्रेंट गुजरात समिट में बुधवार को अरुण जेटली नोटबंदी पर बोले। कहा, "हद से ज्यादा पेपर करंसी होने से भी बुराई पैदा होती है, यह लोगों में लालच पैदा करती है।" फाइनेंस मिनिस्टर ने कहा, "भारत को बोल्ड फैसलों की जरूरत है, अब टेबल साफ करने का वक्त आ गया है। मुश्किल फैसलों को मुश्किल फेज से होकर गुजरना ही पड़ता है।" जेटली ने और क्या कहा...
- जेटली ने कहा, "ज्यादातर इश्यू सुलझा लिए गए हैं, कुछ पेचीदे मुद्दे रह गए हैं, उम्मीद है कि अगले कुछ हफ्तों में वे भी सुलझा लिए जाएंगे।"
- जेटली ने यहां जीएसटी पर एक सेमिनार में भी हिस्सा लिया। कहा, "पहले से ज्यादा डिजिटलाइज्ड इकोनॉमी में जीएसटी (Goods and Services Tax) जैसा अधिक इफेक्टिव सिस्टम लागू होने पर हालात और बेहतर होंगे।"
- "जीएसटी एक ऐतिहासिक फैसला है। इससे इकोनॉमी में बड़ा पॉजिटिव चेंज आएगा। टैक्सेशन सिस्टम आसान होगा।"
- "जीएसटी को सितंबर 2017 से पहले लागू किया जाना चाहिए और हम इसे अप्रैल तक लागू करना चाहते हैं।"
- बता दें कि नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को इस समिट का इनॉगरेशन किया था। समिट 4 दिनों तक चलेगी।
- बुधवार को समिट को RBI गवर्नर उर्जित पटेल ने भी संबोधित किया।
मोदी बोले- भारत दुनिया की सबसे ज्यादा डिजिटलाइज्ड इकोनॉमी बनेगा
- मोदी ने समिट में कहा था, "हमारी सरकार गुड गवर्नेंस और करप्शन फ्री इंडिया देने का वादा करती है। हम भारत को दुनिया की सबसे ज्यादा डिजिटलाइज्ड इकोनॉमी बनाएंगे।"
- "ग्लोबल स्लोडाउन के बावजूद हमने बहुत बढ़िया ग्रोथ किया। भारत ग्लोबल इकोनॉमी में एक चमकती हुई जगह है। मेरी सरकार पूरी तरह से इंडियन इकोनॉमी में सुधार लाने के लिए कमिटेड है। हमारा सबसे ज्यादा जोर भारत में कारोबार करने के हालात आसान बनाने का है।"
- "भारत का व्यापार थ्रीडी में रहता है। डेमोग्राफी, डेमोक्रेसी और डिमांड। हमने पिछले ढाई साल में देखा है कि लोकतांत्रिक ढांचे में भी तुरंत रिजल्ट देना संभव है।"
- "मेक इन इंडिया आज सबसे बड़ा ब्रांड बन गया है। मैन्युफैक्चरिंग, इनोवेशन के लिए ये एक ग्लोबल हब बन गया। मैं अगर पांच बार मेक इन इंडिया बोलता था तो होस्ट कंट्री के लीडर 50 बार बोलते थे।"
- "आज ऐसी स्थिति नहीं है कि दुनिया में कहीं भी मेक इन इंडिया का मतलब समझाना पड़े।"
मुकेश अंबानी ने कहा- स्कूल और अस्पतालों को कनेक्ट करेगा Jio
- समिट में मोदी से पहले मंगलवार को बिजनेस लीडर्स ने स्पीच दी। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा, "Jio गुजरात में हॉस्पिटल्स और स्कूलों को कनेक्ट करेगा।"
- अंबानी ने कहा, "डिजिटल इंडिया का कदम आने वाले दिनों भारत को पूरी दुनिया में सबसे ताकतवर देश बनाएगा।"
- "हमारा टारगेट गुजरात में 2 लाख 40 हजार करोड़ रुपए के इन्वेस्टमेंट का है। इसमें से पिछले 4 साल में हम 1 लाख 25 हजार करोड़ रुपए इन्वेस्ट कर चुके हैं।"
- "दुनिया में कोई ऐसा लीडर नहीं है, जिसने इतने कम वक्त में इतने ज्यादा लोगों का माइंडसेट बदल दिया हो।"
12 देश हैं समिट के पार्टनर
- अमेरिका, यूके, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, डेनमार्क, फ्रांस, जापान, नीदरलैंड्स, पोलैंड, सिंगापुर, स्वीडन और यूएई वाइब्रेंट गुजरात समिट के पार्टनर देश हैं।
- इन सभी देशों के डेलिगेशन समिट में हिस्सा लेने पहुंचे हैं।
- समिट में देश की कई टॉप कंपनियों के सीईओ और कई राज्यों के सीएम भी शामिल हो रहे हैं।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Urjit Patel speak in Vibrant Gujarat Summit
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top