Home »National »Latest News »National » Crime In India

फरीदाबाद में छात्रा की गला काटकर हत्या, हंगामा व जाम

भास्कर न्यूज | Jan 26, 2013, 07:46 AM IST

नई दिल्‍ली।एक ओर जहां पूरा हिंदुस्‍तान गणतंत्र दिवस की खुमारी में हैं, वहीं कुछ लोग बेटियों को एक के बाद एक निशाना बना रहे हैं। राजस्‍थान के गांव से लेकर दिल्‍ली से सटे इलाकों में बेटियों के साथ हिंसा जारी है। दिल्‍ली से सटे फरीदाबाद में 11वीं की एक छात्रा की गला काटकर हत्या कर दी गई। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस को हंगामा कर रहे लोगों पर लाठीचार्ज भी करना पड़ा।
राजस्‍थान के बीकानेर के सियाणा गांव में शुक्रवार को एक पिता ने वहशीपन की सारी हदें लांघ दीं। नशे में धुत 36 वर्षीय भादर सिंह ने पहले तो पत्नी से मारपीट की। विरोध करने आई बहन को धमकाया। शोर सुनकर बाहर आई तीन साल की बेटी भंवरी के कमर व हाथ सहित शरीर को कई जगह दांतों से काट खाया। इतने पर भी वह नहीं रुका और अपनी पांच माह की दुधमुंही बेटी राधा के होंठ व नाक चबा गया। बच्चियों को बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्हें देर रात जयपुर रैफर कर दिया गया। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है। कोलायत तहसील के इस गांव में यह घटना गुरुवार रात करीब 10 बजे हुई। शराब के नशे में घर पहुंचा भादर सिंह पत्नी संतोष को गालियां देने लगा।
शादीशुदा बहन सरोज बीच-बचाव को पहुंची तो उसे धमकाकर पीछे रहने को कहा। इस बीच, पास के कमरे में सो रही भंवरी बाहर आकर रोने लगी तो भादर सिंह ने उसे पकड़ लिया और जगह-जगह दांतों से काट लिया। उसे वहीं पटक वह पांच माह की राधा पर टूट पड़ा। उसका ऊपर वाला होंठ और नाक चबा लिया। आखिर दरिंदगी पर उतरे पति को रुकता नहीं देख पत्नी और बहन बाहर दौड़ीं और शोर मचाकर पड़ोसियों को बुलाया। लोगों ने मिलकर उसे काबू में किया। लोगों ने शुक्रवार सुबह पुलिस को सूचना दी। कोलायत थाना पुलिस ने संतोष की रिपोर्ट पर भादर सिंह को गिरफ्तार कर लिया।
पीबीएम हॉस्पिटल के सर्जन डॉ. सीताराम गोठवाल ने कहा-ऐसा मामला आज तक देखने में नहीं आया। तीन साल की बच्ची के शरीर पर जगह-जगह घाव हैं। पांच महीने की बच्ची की हालत ज्यादा खराब है। इसके ऊपर का होंठ और आधी नाक पूरी तरह चबा लिए गए हैं। हम इलाज तो कर रहे हैं, लेकिन होंठ व नाक को उसी रूप में लाने के लिए जयपुर में प्लास्टिक सर्जरी कराने की सलाह दे रहे हैं।
बिलबिलाती बेटी, बेबस मां
पांच माह की राधा दर्द से बिलबिला रही है। बेबस मां संतोष उसे गोद में लिए कभी सुबकती है तो कभी बिलख पड़ती है। वह दुधमुंही बेटी को दूध भी पिलाए तो कैसे? ऊपर का होंठ गायब हो गया है। अगर दूध पिलाने की कोशिश करती है तो कटे होंठ से खून रिसने लगता है। बच्ची के रुदन और कराह से छाती फट जाती है। तीन साल की राधा डरी हुई मां की गोद में सिमटी हुई है। उसके शरीर से ज्यादा जख्म दिल पर है। पीबीएम हॉस्पिटल की आपातकालीन इकाई में आने वाले डॉक्टर, नर्स, मरीज और उनके परिजनों के मुंह से केवल एक ही शब्द निकलता है ‘दरिंदा बाप’। मदद हर कोई करना चाहता है, लेकिन कैसे और क्या करें समझ में नहीं आता।

'दिल्‍ली गैंगरेप:नाबालिग आरोपी की मां ने कहा,मर चुका है मेरा बेटा

'नाबालिग'आरोपी ने की थी सबसे ज्‍यादा दरिंदगी,दो बार किया था 'दामिनी'का बलात्‍कार!

आंखों देखी:तन ढंकने के लिए किसी ने कपड़े तक नहीं दिए थे 'दामिनी'को...

'दामिनी'को बस से कुचल कर मारना चाहते थे 'बलात्‍कारी'

अब बलात्‍कारियों को नपुंसक बनाने के तरीके पर बहस

''10-10ब्‍वॉयफ्रेंड रखकर रेप के खि‍लाफ प्रदर्शन करती हो''

डॉक्टर ने बयां की दरिंदगी की असली कहानी!

महिला वैज्ञानिक बोलीं-लड़की छह लोगों से घिर गई थी तो समर्पण क्यों नहीं कर दिया?

सख्‍त'कानून बनने के बाद भी बीवी से बलात्‍कार की रहेगी'छूट'!

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: crime in india
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From National

      Trending Now

      Top