Home »National »Latest News »National » Delhi Gangrape Shakes India

'मैं जीना चाहती हूं'

dainikbhaskar.com | Dec 19, 2012, 09:12 IST

नई दिल्‍ली. दिल्ली में मेडिकल छात्रा से गैंगरेपपर जहां सड़क से संसद तक उबाल है। प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के अध्‍यक्ष मार्कन्डेय काटजू की नजर में यह इस मुद्दे पर जरूरत से ज्यादा हंगामा है। काटजू ने अपने ब्लॉग 'सत्यम ब्रूयात' में लिखा है कि दिल्ली गैंग रेप को जरूरत से ज्यादा तूल दिया जा रहा है। देश में कई ऐसे मुद्दे हैं जिस पर इस केस से ज्यादा बहस की जरूरत है। हालांकि, उन्होंने कहा कि मैं इस घटना की घोर निंदा करता हूं। मेरा मानना है कि इस घटना के दोषियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए।
काटजू का कहना है कि दिल्ली गैंगरेप को लेकर मीडिया और संसद में जबर्दस्त हंगामा है। लेकिन इस तरह की घटनाएं आम हैं, खासकर ग्रामीण भारत में। उन पर इतना शोर नहीं मचता। दिल्ली का मतलब पूरा भारत नहीं होता।
काटजू का कहना है पिछले 10-15 सालों में करीब 2.5 लाख किसानों ने खुदकुशी की है। यानी प्रतिदिन के हिसाब से 47 किसान। पर उनकी समस्याओं पर चर्चा कम ही होती है।
देश के 48 फीसदी बच्चे कुपोषण के शिकार हैं। उन पर भी मीडिया और संसद में कम ही सुनने को मिलता है। देश में कुपोषण की यह दर सोमालिया और इथोपिया जैसे गरीब देशों से भी ज्यादा है।
बेरोजगारी देश की सबसे बड़ी समस्या है। इस पर बहुत कम चर्चा होती है। देश का गरीब तबका स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित है। मीडिया इसे मुद्दा नहीं बनाता। काटजू का कहना है कि दिल्ली गैंग रेप को बेवजह हाइप नहीं देना चाहिए।
काटजू ने यह भी लिखा है कि आईपीसी की धारा 376 के तहत बलात्कार के लिए अधिकतम उम्रकैद की सजा का प्रावधान है। मुझे नहीं लगता कि इसके लिए फांसी की सजा की जरूरत है।
आगे पढ़ें- बुधवार को इस मामले में क्‍या घटनाक्रम रहा...
ये भी पढ़ें:
आरोपी का पहचान परेड से इंकार, बाप बोला-बेटा बलात्‍कारी है तो फांसी पर चढ़ाओ
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Delhi Gangrape shakes India
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top