Home »National »Latest News »National» Himachal Government Cancels Land Lease Of Ramdev's Trust

हिमाचल सरकार ने रामदेव को लीज पर दी जमीन वापस ली

भास्कर न्यूज नेटवर्क | Feb 20, 2013, 08:35 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
हिमाचल सरकार ने रामदेव को लीज पर दी जमीन वापस ली, national news in hindi, national news
नई दिल्‍ली। दिल्‍ली गैंगरेप की शिकार दामिनी को ही दोषी ठहराने और फिर आलोचकों की तुलना कुत्‍ते से करने वालेआसाराम बापू और उनसे जुड़े लोग एक बार फिर विवादों में हैं। मध्‍य प्रदेश में कुछ दिनों पहले अपने एक बुजुर्ग भक्‍त को लात मार चुके आसाराम के साथ अब एक नया विवाद जुड़ गया है।
संत आसाराम आश्रम के भक्त और अहमदाबाद के स्थानीय लोगों के बीच मंगलवार को यहां संघर्ष हो गया। आक्रोशित लोगों ने आश्रम का वाहन तबाह कर दिया। घटना शहर के राणिप क्षेत्र की है। राणिप में ही दीपेश-अभिषेक के माता-पिता रहते हैं। भक्त आश्रम प्रेरित मातृ-पितृ वंदना कार्यक्रम के लिए स्थानीय स्कूल में पहुंचे थे। आरोप है कि उन्होंने गलत पहचान देकर कार्यक्रम की स्कूल से इजाजत ली थी। कार्यक्रम के मंच पर संत आसाराम का फोटो देख कर स्कूल आचार्य ने आपत्ति जताई। उनका कहना था कि इस इलाके में दीपेश-अभिषेक के परिजन रहते हैं। इसलिए लोगों में संत आसाराम को लेकर रोष है। इसलिए आप लोग यहां से चले जाएं। इस बातचीत के दौरान ही कुछ बच्चों के परिजन उग्र हो गए और नाराजगी जताई।
दूसरी ओर तीन महिला सहित चार साधक आश्रम के वाहन में से आकर विरोध जताया। शोरगुल सुन कर बाहर आसपास के लोग जमा हो गए थे जिन्होंने धक्कामुक्की कर दी। इसमें साधक का वाहन तबाह हो गया। हालात बिगड़ते देख स्कूल आचार्य भारतीबहन ने पुलिस को सूचित कर मदद मांगी। आचार्य का कहना है कि आश्रम साधकों को शांत रहने को कहा था ताकि बच्चों की पढ़ाई में खलल न हो। मामला बिगडऩे पर पुलिस को सूचित किया।
जांच जारी: पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस इंस्पेक्टर के डी चंपावत ने कहा कि इस प्रकरण में परितोष पटेल ने 500 लोगों के टोले के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। फिलहाल इस बाबत जांच चल रही है।
दी थी मूल पहचान:मातृ-पितृ वंदना समिति के संचालक एवं आश्रम साधक परितोष पटेल ने दावा किया है कि स्कूल में साधकों ने मूल पहचान दी थी। हमने तो बच्चों में अच्छे संस्कारों के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया था। इस दिशा में प्रयासों के तहत अभी तक पौने दो सौ स्कूलों में यह कार्यक्रम कर चुके हैं।
असामाजिक तत्वों की हरकत:आश्रम के केन्द्रीय पीआरओ डॉ. सुनील वानखेडे ने भी दावा है कि हमने अपनी मूल पहचान देकर ही स्कूल में मातृ-पितृ वंदना कार्यक्रम के लिए गए थे। वहां अभिभावकों को कोई आपत्ति नहीं थी किन्तु कुछ असामाजिक तत्वों ने यह काम किया।
आगे जानिए, आखिर आसाराम ने क्‍यों मारी भक्‍त को लात औररामदेव की जमीन क्‍यों ली गई वापस (

बयानों से 'बलात्‍कार' कर रहे नेता, संत और वैज्ञानिक

आसाराम ने अब महिलाओं को बताया 'बाजारू'

आसाराम बापू ने दिल्‍ली गैंगरेप की शिकार को ही बताया दोषी !

भाजपाई मंत्री की महिलाओं को नसीहत- लक्ष्‍मणरेखा पार करेंगी तो रावण करेगा अपहरण

20 फरवरी की खास खबरें

LIVE: हिंसक हुई हड़ताल, नेता की सरेआम हत्या

छत्‍तीसगढ़ के मिशन स्‍कूल में फादर ने किया चार छात्राओं के साथ रेप !

20 सेकंड में डाउनलोड हो जाती है 3 घंटे की मूवी!

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Himachal government cancels land lease of Ramdev's trust
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top